अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय | नींद से सम्बंधित हर जबाब और जानकारी | ACCHI NEEND KAISE SOYE | 2021 बिस्तर पर करवटें बदल बदल कर अगर थक गए है। तो यह लेख आपके लिए काफ़ी ज्यादा महत्त्वपूर्ण साबित हो सकता है। अच्छी नींद ना आने के कारण क्या है?, अच्छी नींद लेने के क्या उपाय है ? अच्छी नींद लेने के फायदे क्या है? अच्छी नींद ना लेने से कौन-सी बीमारियां हो सकती है? 

नींद से जुड़े आपके सारे सवालों के जवाब आपको इस लेख में विस्तार से मिल जाएगे बस आपको अंत तक इस लेख में हमारे साथ बने रहना है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

अच्छी नींद आने के हम आपको बताएंगे कुछ ऐसे आसान और प्रमाणित घरेलू उपाय और टिप्स जो आपकी नींद को काफी प्रभावित करेंगे। अच्छी नींद लाने वाले इन उपायों से आप जरूर एक अच्छी चैन की नींद ले पाने में सक्षम होंगे। 

नींद आपके पूरे दिन को और स्वास्थ्य को प्रभावित करती है। यदि आप पूरी रात सिर्फ करवटें बदलते रहे है और एक अच्छी और पक्की नींद नहीं ले पाते हैं, तो इसके बेहद खतरनाक कुप्रभाव आपके मानसिक अथवा शारीरिक स्वास्थ्य पर पड़ते हैं। इसीलिए यह सुनिश्चित करना अति आवश्यक है कि आप एक अच्छी, पक्की और पूरी पर्याप्त नींद लेते रहे। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यह भी पढ़े :मोटापा घटाने के उपाय | वजन कम करने से संबंधित पूर्ण जानकारी | VAJAN GHATANE KE UPAY | 2021

अच्छी नींद लेने के कई फायदे हैं, आपका पूरा दिन ताजगी से भरा रहता है। आप पूरी ऊर्जा के साथ अपने काम कर पाते हैं। 

(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

नींद क्या है? (NEEND KYA HAI ?) 

असल में नींद हमारे शरीर में होने वाली एक ऐसी प्राकृतिक प्रक्रिया है। जिसमें हमारे शरीर के कम से कम मांसपेशियां कार्य करती है। इस प्रक्रिया में हमारी आँखें बंद होती है, और मन अवचेतन अवस्था में होता है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

तंत्रिका-संकेत रसायन जिसे न्यूरोट्रांसमीटर कहा जाता है, यह नियंत्रित करता है, कि क्या हम मस्तिष्क में तंत्रिका कोशिकाओं, या न्यूरॉन्स के विभिन्न समूहों पर कार्य करके सो रहे हैं या जाग रहे हैं।

 ब्रेन स्टेम में न्यूरॉन्स, जो मस्तिष्क को रीढ़ की हड्डी से जोड़ता है, न्यूरोट्रांसमीटर जैसे सेरोटोनिन  और नॉरपेनेफ्रिन का उत्पादन करते हैं, जो जागते समय मस्तिष्क के कुछ हिस्सों को सक्रिय रखते हैं।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

 जब हम सो जाते हैं तो मस्तिष्क के आधार पर अन्य न्यूरॉन्स संकेत देने लगते हैं।  ये न्यूरॉन संकेतों को “स्विच ऑफ” करते हैं जो हमें जागृत रखते हैं।  

वैज्ञानिकों द्वारा किए गए शोध बताते है कि जब हम जाग रहे होते हैं उस समय एडेनोसाइन  नामक एक रसायन हमारे रक्त में बनता है, और सोते समय यह रसायन टूटने लगता है। 

नींद लेना जरूरी क्यों है ? (Neend lena zaroori kyun hai?) 

एक बेहतर नींद आपके लिए एक अच्छा व्यायाम या एक अच्छी diet जैसी हो सकती है। यह उतना ही जरुरी है जितनी आपकी रोजाना की exercise या खाना पीना जरूरी होता है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

शोधकर्ताओं द्वारा कहा जाता है कि कच्ची नींद से आपके शरीर के हार्मोन का नियत्रंण बिगड़ जाता है और यह आपके मस्तिष्क पर घातक प्रभाव छोड़ता है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

यह बात तो सब जानते है, कि जिंदा रहने के लिए नींद लेना आवश्यक है परंतु सवाल यह नहीं है, बल्कि सवाल है कि आवश्यक क्यों है? 

(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यह भी पढ़े :रस्सी कूदने के फायदे | 10 ऐसे फ़ायदे जो आपको रस्सी कूदने पर मजबूर कर देंगे। TOP 10 (2021)

इस बारे में वैज्ञानिकों के शोध अभी तक जांच में लगे हुए हैं और इस सवाल का संतुष्टि जनक जवाब अभी भी नहीं मिल सका है। हालांकि शोधकर्ताओं को नींद और सोने से संबंधित और कई महत्वपूर्ण जानकारियां हाथ लगी है। 

जानवरों के लिए या कहे इंसानों के लिए नींद लेना इतना ज्यादा जरूरी क्यों है? 

(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

मनुष्यों को आने वाली नींद की एक अवस्था होती है Rem sleeping  (Rapid Eye Movements). नींद की यह अवस्था मनुष्य के सबसे जरूरी होती है। इस नींद का महत्व इंसानों के लिए इतना अधिक है कि अगर यह नींद लंबे समय तक ना मिले तो यह जानलेवा सिद्ध होती है। आरईएम (REM) नींद से वंचित लोग औसतन केवल 5 सप्ताह जीवित रहते हैं। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

किए गए अन्य शोधों से यह भी ज्ञात होता है, कि यदि पर्याप्त नींद ना ली जाए तो यह शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को कमजोर करता है, और इस तरह से कई बीमारियां शरीर को घेर लेती है। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक अगर आपकी नींद पूरी नहीं होती है तो यह आपके शरीर को विकास को भी रोक देती है। नींद पूरी ना होने का प्रभाव हमारी ग्रोथ पर काफी ज्यादा पड़ता है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

चूहों पर किया गया नींद का परीक्षण – 

हाल ही में किए गए एक चूहों पर किए गए एक शोध में वैज्ञानिकों को इतना पता चला है कि यदि नींद ना ली जाए तो इसका सीधा असर हमारी या कहे चूहों की प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) पर पड़ता है। 

वैज्ञानिकों द्वारा जिन चूहों पर शोध किया गया था उसमे चूहे बिना नींद के सिर्फ 5 दिन तक जीवित रह सके और इस दौरान उनकी उंगलियों के बीच में घाव भी हो गये थे। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

इसके अलावा  किए गए कुछ अध्ययनों से पता चलता है, कि नींद की कमी प्रतिरक्षा प्रणाली को हानिकारक तरीकों से प्रभावित करती है। 

(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

क्या आप स्लीपिंग डिसऑर्डर से पीड़ित हैं? 

यह एक बीमारी है और आपको इसके प्रति सतर्क रहने की आवश्यकता है। यदि कई दिनों या महीनों से आप ठीक तरह से सो नहीं पाए है तो इसके पीछे के कारण को समझे और तुरंत अपनी इस स्थिति में सुधार लाए। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यदि आपके द्वारा किए गए अच्छी नींद के लिए प्रयास विफल हो रहे है तो शीघ्र ही आपको अपने आसपास मौजूद किसी प्रमाणित डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

क्या आपके अंदर स्लीपिंग डिसऑर्डर के ये लक्षण है? 

यदि आपके नीचे दिए गए इन लक्षणों से ग्रसित तो आपको शीघ्र ही इसपर ध्यान देना चाहिए। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

स्लीपिंग डिसऑर्डर के लक्षण निम्न है :-

  • दिन के दौरान चिड़चिड़ा या नींद महसूस करें?
  •  क्या अब भी बैठे रहने, टीवी देखने या पढ़ने में कठिनाई हो रही है?
  •  सोते समय गिर जाते हैं या गाड़ी चलाते समय बहुत थकान महसूस होती है?
  •  ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होती है?
  •  अक्सर दूसरों के द्वारा कहा जाता है, कि आप थके हुए दिखते हैं?
  •  क्या आप धीरे धीरे प्रतिक्रिया देते है ?
  •  अपनी भावनाओं को नियंत्रित करने में परेशानी होती है?
  •  ऐसा महसूस करें कि आपको लगभग हर दिन झपकी लेनी है?
  •  क्या आपको खुद को तरोताजा रखने के लिए कैफीन (कॉफी, चाय) इत्यादि का सहारा लेना पड़ता है। 

 यदि आप नियमित रूप से उपरोक्त लक्षणों में से किसी का अनुभव कर रहे हैं, तो आप एक नींद विकार से पीड़ित हो सकते हैं।  जितना अधिक आप “हां” का उत्तर देते हैं, उतना ही अधिक संभावना है कि आपको नींद की बीमारी है।

(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

अच्छी और बेहतर नींद के लिए प्रमाणित उपाय 

जब आप 3 बजे जागते हैं, तो एक अच्छी रात की नींद एक असंभव लक्ष्य की तरह लग सकता है, परंतु अगर आपको आपकी नींद की गुणवत्ता पर अच्छा नियंत्रण है तो कि जितना आपको शायद एक ठीक ठाक नींद का अनुभव प्राप्त हो।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

 जिस तरह आप अपने जागने के घंटों के दौरान महसूस करते हैं, उस रात आप को कितनी अच्छी तरह सोते हैं। इस सब चीजों को निजी तौर से हम खुद बेहतर समझते हैं। इसलिए नींद की कठिनाइयों का इलाज अक्सर आपकी दिनचर्या में पाया जा सकता है।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

बेहतर नींद के लिए उपाय  :

  • सर्कैडियन लय के साथ तालमेल बैठाना, बेहतर नींद के लिए सबसे महत्वपूर्ण रणनीतियों में से एक है। यदि आप एक नियमित स्लीप-वेक शेड्यूल रखते हैं, तो आप बहुत अधिक ताज़ा और ऊर्जावान महसूस करेंगे। 
  • हर दिन एक ही समय पर सोने और उठने की कोशिश करें।  यह आपके शरीर की आंतरिक घड़ी को सेट करने और आपकी नींद की गुणवत्ता को अनुकूलित करने में मदद करता है।
  • सप्ताहांत में भी सोने से बचें।  आपके सप्ताहांत / कार्यदिवस की नींद का समय जितना अधिक होगा, जेट लैग जैसे लक्षण उतने ही बुरे होंगे जो आपको अनुभव होंगे।
  • रोशनी के प्रभाव को नियंत्रित करे – मेलाटोनिन एक ऐसा हार्मोन है जो प्राकृतिक रूप से हमारे अंदर पाया जाता है। यह एक ऐसा हार्मोन है, जो प्रकाश के संपर्क से नियंत्रित होता है और यह आपके सोने या जागने वाले चक्र को नियंत्रित करने में मदद भी करता है।
  • जब अंधेरा होता है तो यह हार्मोन आपको नींद दिलाता है यदि उजाला होता है तो यह हमे सतर्क करता है। इसीलिए हमे अंधेरे और उजाले पर अपना नियंत्रण रखना होगा। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय)

1.बेहतर नींद लेने के लिए ब्लू लाइट (blue light) से बचे – 

रात के समय फोन, लैपटॉप, टीवी इत्यादि से निकलने बाली नीली लाइट (ब्लू लाइट) आपकी नींद और आपकी आंखों को काफी नुकसान पहुँचाती है। इसीलिये या तो आप सोने से पहले इनका उपयोग बंद करे या फिर आप इनके लिए चश्मे बनवा सकते है जो कि इस तरह की blue light को बाहर ही रोक लेते हैं। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

असल में यह लाइट हमारी आँखों के अंदर सीधे रेटिना पर प्रभाव छोड़ती है अत्यधिक ब्लू लाइट आपको अंधा भी बना सकती है। यह आपकी रेटिना को पूरी तरह निष्क्रिय कर देती है। 

Blue light से बचने के लिए आप नीचे दी गई लिंक से आपकी आँखों को सुरक्षित करने और बेहतर नींद के लिए चश्मे खरीद सकते हैं। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

Blue light defender googles –  https://amzn.to/30IE81Y

2. दिन के दौरान अधिक प्रकाश में समय बिताएं – 

 आपके शरीर में एक प्राकृतिक समय रखने वाली घड़ी है जिसे आपके सर्कैडियन रिदम के रूप में जाना जाता है।  यह आपके मस्तिष्क, शरीर और हार्मोन को प्रभावित करता है, जिससे आपको जागते रहने और आपके शरीर को सोने के समय के बारे में बताने में मदद मिलती है। 

दिन में प्राकृतिक धूप या तेज रोशनी आपके सर्कैडियन लय को स्वस्थ रखने में मदद करती है।  यह दिन की ऊर्जा में सुधार करता है, साथ ही रात की नींद की गुणवत्ता और सोने की अवधि को भी बढ़ाता है। 

“पुराने वयस्कों में इसी तरह के एक अध्ययन में पाया गया कि दिन के दौरान 2 घंटे की तेज रोशनी के संपर्क में आने से नींद की मात्रा में 2 घंटे और नींद की दक्षता में 20% की वृद्धि हुई ” 

दैनिक सूर्य के प्रकाश या कोई भी ज्यादा प्रकाश नींद की गुणवत्ता और अवधि में सुधार कर सकते हैं, खासकर तब जब आप गंभीर नींद की समस्या या अनिद्रा से पीड़ित है। 

3. दिन में कैफीन का सेवन न करें – 

बेशक कैफीन के कई अन्य लाभ है। दुनिया में 89% लोग कैफीन का सेवन करते हैं। चाय या कॉफी सब को तरोताजा करती है। परंतु नींद के लिए यह घातक है और यदि आप एक बेहतर नींद सोना चाहते है तो आप सोने से पहले कैफीन का सेवन बिलकुल ना करे या कम कर दे। 

एक अध्ययन के दौरान पता चला है कि, सोने से 6 घंटे पहले तक कैफीन का सेवन करने से नींद की गुणवत्ता काफी खराब हो जाती है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

कैफीन आपके रक्त में 6-8 घंटे तक रह सकता है।  इसलिए, 3-4 बजे के बाद बड़ी मात्रा में कॉफी पीना।  अनुशंसित नहीं है, खासकर तब जब आप अच्छी नींद के लिए संघर्ष कर रहे हों। 

यह भी पढ़े :दुनिया की सबसे महंगी दवाइयां | DUNIYA KI SABSE MEHNGI DAWAIYA | MOST EXPENSIVE DRUGS 2021

4. अनियमित या लंबे समय तक झपकी लेना कम करें – 

अनावश्यक या लंबी झपकी लेना बिल्कुल वैसा ही है जैसे आपकी अपनी ही पैसों की गुल्लक में से छेद करके पैसे निकालना। 

लंबी झपकी लेना आपकी रात की अच्छी नींद का चक्र बिगाड़ सकती है और जाहिर है फिर आपको रात को करवटें बदलना पड़े। 

लंबे समय तक झपकी लेना नींद की गुणवत्ता को ख़राब कर सकती है।  अगर आपको रात को सोने में परेशानी होती है, तो झपकी लेना बंद करें या अपनी झपकी को कम करें।

5. मेलाटोनिन सप्लीमेंट ले – 

मेलाटोनिन एक प्रमुख सुलाने वाला हार्मोन है जो आपके मस्तिष्क को बताता है कि कब आराम करना है और बिस्तर पर सिर रखकर आराम करना है। 

मेलाटोनिन की खुराक लेना आपके लिए एक अत्यंत  फायदेमंद हो सकता है खासकर तब जब आप महीनों से अच्छी नींद से वंचित रह रहे हो। 

यह सप्लीमेंट अक्सर अनिद्रा का इलाज करने के लिए उपयोग किया जाता है, मेलाटोनिन तेजी से सो जाने के सबसे आसान तरीकों में से एक हो सकता है। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

सोने से 20-30 मिनट पहले लगभग 5-5 मिलीग्राम लें।

अपनी सहनशीलता का आकलन करने के लिए शुरुआत कम खुराक के साथ करें और फिर आवश्यकतानुसार इसे धीरे-धीरे बढ़ाएं।

चूंकि मेलाटोनिन मस्तिष्क रसायन विज्ञान को बदल सकता है, इसलिए यह सलाह दी जाती है कि आप इसका उपयोग किसी डॉक्टर की सलाह पर ही करे। 

6. शराब का सेवन बंद करे या कम करे – 

सोने से पहले शराब ना पीए क्योंकि यह हमारे शरीर में बनने वाले melatonin हार्मोन की उत्पादकता को कम करता है। 

एक और अध्यन से पता चलता है कि शराब का सेवन करने से हमारे शरीर मानव विकास हार्मोन (HGH ) को भी प्रभावित करता है, जो कि सर्कैडियन rhythm में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। 

7. अपने बेडरूम के वातावरण को सोने के लिए अनुकूल बनाए – 

विशेषज्ञ मानते हैं, कि बेडरूम का वातावरण और इसकी स्थापना रात की अच्छी नींद लेने में महत्वपूर्ण कारण हैं।

 इन कारणों में तापमान, शोर, बाहरी रोशनी और फर्नीचर व्यवस्था शामिल हैं। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

बेहतर नींद पाने के लिए बाहरी प्रकाश और शोर को खत्म करके अपने बेडरूम के वातावरण का अनुकूलन करें।

8. अपने बेडरूम का तापमान सेट करें – 

एक अध्ययन में पाया गया कि बेडरूम का तापमान बाहरी शोर से अधिक नींद की गुणवत्ता को प्रभावित करता है। 

अन्य अध्ययनों से पता चलता है कि शरीर और बेडरूम के तापमान में वृद्धि नींद की गुणवत्ता को कम कर सकती है और जागृति बढ़ा सकती है। 

कई तरह के तापमान में सोने का परीक्षण करें जो आपके लिए सबसे आरामदायक है, उसी तापमान में चैन की नींद सोये । अधिकांश लोगों के लिए लगभग 70 ° F (20 ° C) सर्वोत्तम है।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

9. देर रात भोजन न करें – 

यदि आप देर रात भोजन करते है तो यह कारण भी आपकी नींद को प्रभावित करने के लिए पर्याप्त हो सकता है। देर रात भोजन करना आपकी नींद की गुणवत्ता और एचजीएच और मेलाटोनिन के प्राकृतिक  रिसाव को भी कम करता है। 

सोने से पहले एक बड़े भोजन का सेवन करने से खराब नींद और हार्मोन की गड़बड़ी हो सकती है।  हालांकि, बिस्तर से कुछ घंटे पहले कुछ भोजन और स्नैक्स मदद कर सकते हैं।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यह भी पढ़े :विपत्तियों का सामना कैसे करें? | अत्यंत दुख का सामना कैसे करें? | Atyant dukh ka saamna kaise karein?2021

10. आरामदायक स्नान या शॉवर लें – 

बिस्तर पर सोने जाने से पहले यदि आप गर्म पानी से आरामदायक स्नान कर लेते है तो यह आपको बेहतर नींद पूरी करने में काफी फायदेमंद होगा। 

सोने से पहले गरम पानी से नहाना एक पुराना और लोकप्रिय तरीका है। 

11. नियमित व्यायाम करें – लेकिन सोने से पहले नहीं – 

 व्यायाम आपकी नींद और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के सर्वोत्तम विज्ञान समर्थित तरीकों में से एक है। यह नींद के सभी पहलुओं को बढ़ा सकता है और अनिद्रा  के लक्षणों को कम करने के लिए उपयोगी सिद्ध हुआ। 

दिन के उजाले के दौरान नियमित व्यायाम एक अच्छी रात की नींद सुनिश्चित करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है।

12. पक्की नींद के लिए एरोबिक व्यायाम और योग करें –

सिर्फ नींद ही नहीं ब्लकि बहुत सारे शारीरिक और मानसिक विकारों से दूर रहने के लिए योग करना आपके लिए सबसे सेहतमंद तरीका है। 

लंबी सांसो अंदर बाहर करके आप यह योग आसानी से कर सकते हैं। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यह भी पढ़े :क्रोध को नियंत्रित करने के 10 सबसे बेहतर उपाय | krodh ko niyantrit karne ke 10 Sabse behtar upay | TOP BEST TIPS TO CONTROL YOUR ANGER

नींद की बीमारियां कितने प्रकार की होती है ? 

अनिद्रा (Insomnia) 

अनिद्रा, रात में अच्छी तरह से सोने या सोने में असमर्थता, तनाव, जेट अंतराल, अत्यधिक कैफीन सेवन , आपके द्वारा ली जाने वाली दवाओं या यहां तक ​​कि आपके द्वारा पी गई कॉफी की मात्रा के कारण हो सकती है।अनिद्रा अन्य नींद विकारों या मूड विकारों जैसे चिंता और अवसाद के कारण भी हो सकती है।

अनिद्रा (Insomnia) का उपाय  – 

आपको अनिद्रा होने का कारण चाहें कोई भी हो परंतु आपको ध्यान रखना है कि आप अपने दिमाग पर एक सीमित दबाव बना कर ही कार्य करे। यदि आप इस स्थिति में आने से बचना चाहते है, 

तो निम्न बातों का विशेष ध्यान रखें :

  • साफ-सुथरे रहे और अपने आस-पास सफाई का माहौल रखे। 
  • मन में शांति बनाए रखे और मन को शांत और स्थिर करने की कोशिश करें। 
  • आराम करने की कोशिश करें और खुद को सोने का समय दे। 
  • बिना नींद की गोलियों के सोने का प्रयास करे। 
  • डॉक्टर से सलाह ले। 

स्लीप एप्निया (sleep apnea) :

स्लीप एपनिया एक सामान्य (और उपचार योग्य) स्लीप डिसऑर्डर है जिसमें नींद के दौरान आपकी सांस अस्थायी रूप से रुक जाती है, जो आपको बार-बार जगाती है। 

यदि आप नींद टूटने वाली इस बीमारी से पीड़ित हैं तो आप इसका पता खुद आसानी से नहीं लगा सकते। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

लेकिन आप दिन के दौरान थकावट महसूस करेंगे, चिड़चिड़े और उदास होंगे, या अपनी उत्पादकता में कमी देखेंगे।  स्लीप एपनिया एक गंभीर और संभावित रूप से जानलेवा नींद विकार है, इसलिए तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर को दिखाएं और उचित सलाह लेकर स्थिति पर काबु करे। 

रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम (पैर हिलाने की बीमारी) – 

रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम (आरएलएस) एक स्लीप डिसऑर्डर है जो रात में आपके पैरों (या बाहों) को हिलाने के लिए आपको मजबूर और आग्रह करता है।  जब आप आराम कर रहे हों या लेट रहे हों, तब हिलने-डुलने की वजह आम तौर पर असुविधाजनक, तनावपूर्ण, दर्द या उत्तेजना के कारण होता है।  (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

लक्षणों को प्रबंधित करने और राहत देने में मदद करने के बहुत सारे तरीके हैं, हालांकि, आप इस तरह के विकारों का उपाय खुद से कर सकते हैं। इसके लिए बस आपको खुद को जागृत रखना होगा लगातार ध्यान देने से आप घर पर ही इसका उपचार कर सकते हैं।

नार्कोलेप्सी – 

नार्कोलेप्सी एक नींद विकार है जिसमें अत्यधिक, बेकाबू दिन की तंद्रा शामिल है।  यह मस्तिष्क तंत्र की शिथिलता के कारण होता है जो नींद और जागने को नियंत्रित करता है। 

यदि आपको नार्कोलेप्सी है, तो आपके पास बात करने, काम करने या यहां तक ​​कि ड्राइविंग के बीच में “नींद के झटके ” आ सकते हैं।  (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यद्यपि इस विकार का कोई इलाज अभी तक मौजूद नहीं है, उपचार का एक तरीका यही है कि आप लक्षणों को नियंत्रित करने के लिए खुद पर ध्यान दें। 

बहुत ज्यादा थक जाने पर भी नींद ना आने के कारण क्या है? 

कुछ दिन ऐसे होते है कि कोई फ़र्क नहीं पड़ता हमने कितनी कॉफी या चाय पी है या क्या किया है और हमे उस रात इतनी अच्छी नींद आती है कि आँख सीधा सुबह खुलती है। 

इस तरह की नींद हमे तभी आती है जब हम बहुत ज्यादा मेहनत कर लेते हैं। और यह बहुत अच्छी बात है अगर आपको मेहनत करने से नींद आती है तो आपको मेहनत करनी चाहिए परंतु यदि आप बहुत ज्यादा थके हुए हो तब भी अगर आपको नींद ना आए तब क्या होगा ? (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

आप कल्पना भी नहीं कर सकते कि यह स्थिति आखिर कितनी ज्यादा चिड़चिड़ापन और सिर दर्द और परेशान कर देने वाली होती होगी। 

इस तरह की स्थित से गुजरने वाले लोग वास्तविकता में एक गंभीर समस्या से जुझ रहे होते हैं जो कि उनके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही खतरनाक है। अब सवाल उठाता है कि आख़िर इतनी ज्यादा मेहनत और शारीरिक परिश्रम के बाद भी नींद क्यों नहीं आती? आमतौर पर जब हम मेहनत करते है तो नींद काफी अच्छी और लंबी होती है। 

इससे पहले कि आप नींद की गोलियों के लिए पहुंचें, उन सभी चीजों की पड़ताल करें जो आपको पूरे दिन थका सकती हैं, और रात में भी जागने पर मजबूर कर सकती हैं।  एक बार जब आप पहचान लेंगे कि क्या हो रहा है, तो आप बेहतर नींद का समर्थन करने के लिए कार्रवाई कर सकते हैं। (अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यह भी पढ़े :अकेलेपन से होने वाले फायदे और नुकसान?2021|Akelepan Se Hone Wale Fayde Aur Nuksaan?2021| TOP BEST Advantages & Disadvantages of Living Alone

आपकी सर्कैडियन लय (circadian rhythm ) – 

सर्कैडियन लय 24 घंटे की अवधि में हमारे शरीर की हर चीज के लिए एक आंतरिक टाइमकीपर की तरह होती है , नींद विशेषज्ञ डब्ल्यू। क्रिस्टोफर विंटर, एमडी, “द स्लीप सॉल्यूशन: व्हाई योर स्लीप इज़ ब्रोकन एंड हाउ टू फिक्स” के लेखक बताते हैं।

 यह प्रणाली शरीर के तापमान, चयापचय, हार्मोन (मेलाटोनिन सहित), और नींद को विनियमित करने के लिए प्रकाश, अंधेरे और हमारी जैविक(biological clock) घड़ी का उपयोग करती है।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

 शरीर की मास्टर घड़ी को सुपरचैमासिक न्यूक्लियस (SCN) कहा जाता है।  मस्तिष्क में स्थित, SCN मेलाटोनिन  उत्पादन को नियंत्रित करता है। यह हार्मोन नींद को को रेगुलेट करने में मदद करता है।

 दिन के दौरान जब इसकी रोशनी बाहर होती है, मेलाटोनिन का स्तर कम रहता है।  बाद में दिन के समय में यह गहरा होना शुरू होता है, हमारे शरीर में अधिक मेलाटोनिन का उत्पादन होता है, इसका स्तर 2 बजे से चार बजे के बीच काफी ज्यादा बढ़ता है। और बाद में यह स्तर गिरने लगता है। 

हमारे नींद पूरी करने के लिए सोने का सबसे अच्छा समय 

मेलाटोनिन के स्तर में वृद्धि शुरू होने के लगभग 2 घंटे बाद का होता है। इस समय सोने का सबसे अच्छा प्राइमेट किया जाता है।

हर किसी की अपनी सर्कैडियन लय है, विंटर बताते हैं, जो कुछ हद तक आनुवांशिक है।  इसलिए, जब आप एक बच्चे थे, तो आपके माता-पिता ने आपको जो बताया है , आप उसके विपरीत, आपको अपने हिसाब से सोने का कोई आवश्यक कारण नहीं है। 

“मुझे परवाह नहीं है, कि किसी का कार्यक्रम क्या है, पर मुझे सोना है”

जब तक कि नींद के लिए आपकी यह सोच रहेगी आप एक स्वस्थ नींद ले पाएंगे और शारीरिक और मानसिक रूप से भी बेहतर महसूस कर पाएंगे। 

हालाँकि, जब आप थके हुए हैं, लेकिन फिर भी सो नहीं सकते हैं, तो आपकी सर्कैडियन लय   बंद हो सकती है।

नींद एक खूबसूरत चीज है।  यदि आपको लगता है कि आप पर्याप्त नींद नहीं ले रहे हैं, या गुणवत्ता वाली नींद का आनंद नहीं ले रहे हैं, तो ये सरल उपाय आपको एक अधिक आरामदायक रात की नींद में योगदान कर सकते हैं।

आपको यह लेख कैसा लगा? कमेंट करके जरूर बताये ।

सेहत से जुड़ी अन्य महत्वपूर्ण जानकारी और सलाह के लिए हमें यूट्यूब पर subscribe करे ।(अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय) 

यह भी पढ़े :मन को शांत और स्थिर कैसे करें? | Man ko Shant Aur Isthir Kaise karein ? | Top Best 11 ways To clam and stabilize Your Mind

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.