दोस्तों आज हम जबाब देंगे आपके इन महत्त्वपूर्ण सवालों का कि दिमाग तेज कैसे करें? और दिमाग तेज करने के उपाय क्या है? , दिमाग तेज करने के योगा कौन से है? (ways to speed up your brain)

और भी कई महत्वपूर्ण जानकारी आप लोगों के साथ साझा करेंगे। 

कोई भी लेख लिखने से पहले एक बड़ी रिसर्च करनी होती है। उसके बाद आपको यह जरुरी जानकारी आपको दी जाती है। आप चाहते है कि आपकी दिमागी क्षमता बड़ जाए तो इस लेख को पूरा पढ़े। 

आज हम सबसे पहले बात करेंगे कि सालो से जब से आपने होश सम्भाला है आपने अपने दिमाग को कितना प्रतिशत समय दिया है? तो ज्यादातर लोगों का उत्तर ना ही होगा। हमे यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारी जिंदगी का हर पल दिमाग़ से जुड़ा है तो एक अच्छे जीवन के लिए हमे इसका भी खयाल रखना पड़ेगा अगर आप ऐसा नहीं करेगे तो आपको कई बीमारियों और नुकसान का सामना करना पड़ेगा। 

1)दिमाग तेज करने की एक्सर्साइज 🙁 दिमाग तेज कैसे करें?) 

दोस्तों दिमागी कसरत एक अच्छा माध्यम है अपनी बुद्धि को विकसित करने का। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि यह कोई नयी बात नहीं है कि दिमाग को तंदरुस्त करने के लिए बहुत पुराने समय से कई उपाय रहे हैं। पर आज की भाग दौड़ और computerized दुनिया में लोग अपने दिमाग की क्षमता को भूलता जा रहा है यही कारण है कि यह एक tareeqe का अनुवांशिक गुड़ बनके आगे आने बाली पीढ़ियों के लिए एक बीमारी साबित हो रहा है। 

मस्तिष्क प्रशिक्षण एक नई अवधारणा नहीं है।  यह हमें जानकारी को बनाए रखने, तथ्यों को अधिक तेज़ी से याद करने और हमारा ध्यान केंद्रित करने में मदद करने में काफी मददगार सिद्ध होगा ।

इसे आप कई तरह से कर सकते हैं। आप नयी नयी भाषा सीखें यह आपके दिमाग को काफी तीव्र गति से विकसित कर्ता है। आप इंटरनैट पर मौजूद बहुत सारे माइंड गेम (mind game), puzzles खेल के और ज्यादा से ज्यादा मैथ्स के उलझे हुए सवालों को कर के दिमागी कसरत कर सकते हैं। 

इससे आपका दिमाग काफी तेज विकास करता है। दिमाग तेज करने के उपाय में यह उपाय काफी सटीक रूप से कार्य कर्ता है। 

2)दिमाग तेज करने के लिए क्या खाए 🙁 दिमाग तेज करने के उपाय )

दोस्तों हम सभी जानते हैं कि खानपान हमारे जीवन यापन के लिए सबसे पहली क्रिया है और खाने से ही हमारा हर काम जुड़ा है। इसलिए यह बेहद जरूरी हो जाता है कि आप जो खाते है वह आपके स्वास्थ के अनुसार हो। 

दुनिया में भिन्न भिन्न प्रकार का खाना उपलब्ध है और व्यक्ति अपने जरूरत के अनुसार अपना खान पान रखता है। उदाहरणार्थ हम मान लेते हैं कोई व्यक्ति दस्त या उल्टी का शिकार है तो वह चाहेगा की कोई हल्का भोजन ग्रहण करे इसी प्रकार जब आपको महसूस होता है कि आपकी याद्दाश्त कमजोर हो रही है या आपका दिमाग उतना काम नहीं कर रहा जितना उसे करना चाहिए तो आपको जरूरत होती है अपने खान पान में कुछ बदलाव करने की। ( दिमाग तेज करने के उपाय)

और यह सब इतनी आसानी से नहीं कर सकते हमे वह खाद्य पदार्थ खाना है जो हमारी बौधिक शक्ति बढ़ाए और हमारे शरीर को कोई और नुकसान भी ना हो।

दोस्तों विशेषज्ञों की राय माने तो वह सलाह देते हैं कि अगर आपकी दिमागी क्षमता कम है तो आपको बादाम, काजू, अंडे, हरी सब्जी, और लहसुन, चॉकलेट (यह आपके दिमाग में खुन का संचार तेज करती है), broccoli, फैटी फिश,  इत्यादि का सेवन करे तो जरूर आपको इसका असर महसूस होगा। ( दिमाग तेज करने के उपाय )

ये तो बात हुयी क्या खाना चाहिए और ऐसे में वह दुनिया में कुछ ऐसी चीज़े भी है जिनका सेवन करने से हमारे दिमाग का विकास रुक जाता है यानी कि हमारा दिमाग तेज काम नहीं कर्ता। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि आपको पता हो कि ऐसी कौनसी चीज़े है जिनके सेवन से आपका दिमागी क्षमता कमजोर होती है। 

शराब, बीयर, जितने भी मादक पदार्थ है। इसके अलावा आपको ऑइल का कम से कम ईस्तेमाल करना है और जंक फूड भी बहुत कम ही खाए। ये सभी हमारी बुद्धि का विकास रोकते है इसके साथ ही हमारी दिमागी क्षमता इनके लगातार सेवन से बहुत कमजोर हो जाती है। 

  • अगर आप चाहते है कि आप एक स्वस्थ मानसिकता के साथ जिंदगी का लुफ्त ले तो आपको कुछ नियम और प्रतिबंध लगाने होंगे एक बहुत पुरानी कहावत है कि अति की कोई चीज अच्छी नहीं होती 

अर्थार्त कोई भी वस्तु या दुनिया की कोई भी चीज़ जरूरत से ज्यादा हो तो वह नुकसान दायक सिद्द होती है। 

दोस्तों मुझे लगता है आपको यह बात समझ आ गयी होगी कि दिमाग तेज करने के लिए क्या खाए। 

3)बाल छोटे रखे और समय समय पर सिर कि मालिश करे : (दिमाग तेज करने के उपाय)

 आयुर्वेद को सबसे प्राचीन काल से ही स्वास्थ विषय की नीव माना गया है और यह है भी आज भी कई ऐसे रोग है जिनको आधुनिक विज्ञान कभी जड़ से खत्म नहीं कर पाता और आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति उन्हें जड़ से मिटाने में कामयाब है। 

दोस्तों ऐसा ही एक आयुर्वेदिक नुस्खा है कि सरसों या बादामी तेल की मालिश से सिर से जुड़े 85% रोग दूर हो जाते हैं। 

मेरा खुद का तजुर्बा है कि ऐसा करने से आपका सिर दर्द तो तत्काल ठीक हो जाता है। और यह आपके दिमागी विकास और अनिद्रा को कम कर्ता है और आपके दिमाग को तेज करने में काफी मददगार सिद्ध होता है। 

हमे सप्ताह में दो बार तेल से सिर की मालिश करवाना चाहिए जिससे हमारे बलों को भी पोषक तत्व मिलते है और हमारी तार्किक क्षमता भी काफी मजबूत होती है। 

आयुर्वेद में वह शक्ति है जो आपके दिमाग को आधुनिकता और तनाव से मुक्त करने का पूरा मादा रखती है। 

हमे आयुर्वेद का ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए प्राकृतिक वस्तु के कोई दुष्प्रभाव नहीं होते। ( दिमाग तेज करने के उपाय)

4)दिमाग को तेज करने का योगा (yoga) करके अपनी तार्किक क्षमता बढ़ाए :(दिमाग तेज करने के उपाय) 

दोस्तों ये तो बहुत मामूली बात है कि आपको अपने दिमाग को तेज करना है। योगा तो वह बरदान है जिससे  बड़ी संख्या में बीमारियों और अस्वस्थ लोगों को बिना किसी आयुर्वेद और अंग्रेजी दवाइयों के लोगों को स्वस्थ किया है ऐसे में यह जानना बहुत महत्वपूर्ण है कि योग से हमारे दिमाग पर क्या प्रभाव पड़ता है? 

दोस्तों योगा का कोई दुष्प्रभाव नहीं है आप कोई भी योग करते है अमूमन आपको उसका कोई फायदा ही होगा। 

दिमाग का मस्तिष्क का योग से संबंध है इस बात का शोध जब शोधकर्ताओं द्वारा किया गया तो उन्होंने उसमे उन लोगों को शामिल किया जो बिल्कुल भी योग नहीं करते थे। और उन लोगों को चुना जो प्रतिदिन योग करते थे और 3 महीने के इस शोध में पाया गया कि जो लोग योग नहीं करते थे उन्होंने जब योग किया तो उनके दिमाग के भीतर ग्रे मैटर में इजाफा हुआ है जो कि दिमाग को तेज कर्ता है। 

इसके अलावा और भी कई शोध करके यह पता लगाया गया कि किस तरह योग करना दिमाग को तेज करने के लिए सहायक सिद्ध हुआ है। ( दिमाग तेज करने के उपाय)

योगा से हमारे पूरे शरीर को स्वस्थ रखने की क्षमता होती है। पर खास दिमाग और मस्तिष्क को शांत और आपकी तार्किक क्षमताओं को बढ़ाने के लिए कुछ खास योग है। 

 अब आप जानना चाहते हैं कि कौन से योग दिमागी क्षमता बढ़ाने में ज्यादा सफलता हासिल करते हैं :

दोस्तों योग को लगातार करने से आपका दिमाग तेज करने के साथ साथ आपकी याद्दाश्त में भी काफी इजाफा होता है जो नॉर्मल लोगों की नहीं होती। 

दिमाग को होने वाले निम्न फायदे इस प्रकार है :

इयरलोब पर एक्यूपंक्चर बिंदुओं को सक्रिय करता है जो आपके ग्रे पदार्थ को उत्तेजित करता है।  इस अभ्यास से आपके मस्तिष्क को मदद मिलती है:( दिमाग तेज करने के उपाय)

 मस्तिष्क के बाएँ और दाएँ पक्ष को सिंक्रनाइज़ करना।

 ऊर्जा के स्तर को वितरित करना और शांति को प्रेरित करना।

 उत्तेजक सोच क्षमता।

 मानसिक ऊर्जा में वृद्धि।

 आपको और अधिक रचनात्मक बनाना।

 संज्ञानात्मक शक्तियों का विकास करना।

 फोकस, एकाग्रता और मेमोरी पावर में सुधार।

 निर्णय लेने के कौशल को बढ़ावा देना।

 तनाव या व्यवहार संबंधी समस्याओं से राहत।

 आपको मनोवैज्ञानिक रूप से अधिक संतुलित बनाता है।

दिमाग तेज करने के 10 आसान तरीके

5)दिमाग को नए विचारों और नयी भाषाओ से अवगत कराये :

दोस्तों दिमाग को तेज करने के लिए नए विचार और भाषाये इसके लिए एक अच्छा विकल्प साबित हो सकती हैं। 

हमारा दिमाग़ इतना बड़ा और विकसित हो सकता है जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती।

जरुरत होती है तो प्रयास करके इसको उस स्तर पर पहुंचाने की जो लोग कोशिस करते है वह लोग ही देश दुनिया में आज तरक्की कर रहे है।

आपका दिमाग जितना कार्य कर सकता है आप उसे उतना कार्य नहीं देते और इसका प्रभाव ये होता है कि आपके दिमाग में फालतू के विचार आने लगते हैं जो कि हमे और पीछे खींच ले जाते है। 

दिमाग़ को बेहतर बनाने के लिए आपको इसे समझना पड़ेगा यह एक ऐसा समुंदर है जिसकी कोई गहराई नहीं नाप सकता बस जरूरत है आपको इसे अपनी सूझ बुझ से सही ईस्तेमाल करना है। 

आप जेसा चाहेंगे आपका दिमाग उसी दिशा में आगे बढ़ने लगता है तो जरूरी है कि आप इसे सही दिशा दे। 

ऐसा करने के लिए आप नए विचारों को मौका देते रहे जैसे कि:

  1.  आप नयी नयी किताबों का को पड़ते रहे। 
  2. कठिन से कठिन काम करने की कोशिश करें। 
  3. ऐसे कार्य ज्यादा से ज्यादा करे जिनसे आपका दिमाग़ पीछे भागता है। 
  4. नयी नयी भाषा सीखना आपके दिमाग को काफी विकसित करता है। 
  5. नयी नयी तकनीकों के वीडियो देखा करे। 
  6. हमेशा ऐसी चीजों के साथ समय बिताए जहा आपको कुछ ना कुछ सीखने को मिलता रहे। 
  7. दिमाग़ को शांत करे शून्य पर ले जाए। मेडिटेशन के द्वारा एक निश्चित समय के लिए ऐसा करे। 
  8. ऐसे लोगों से बात करने की कोशिश करे जो आपके दिमाग को एक विशेष सकारात्मक ऊर्जा प्रदान करने में सक्षम होते हैं। 
  9. (। दिमाग तेज करने के उपाय )
6)दिमाग को तेज करने के मन्त्रों का जाप करें 🙁 दिमाग तेज करने के उपाय)

आप को यह जानकर हैरानी होगी कि ऐसा भी कोई मंत्र है जो हमारे दिमाग को तेज करने के लिए दिमागी कोशिकाओं की मदद करता है। 

हरिद्वार में आए अमेरिकी वैज्ञानिक उन्होंने जब वहां मौजूद साधु संतों से उनके ध्यान लगाने के बारे में जानना चाहा तो संतों ने उन्हें सलाह दी कि कुछ मन्त्रों का जाप करके वह अपने मस्तिष्क पर विजय पाकर अपने दिमाग को काबु करने में सक्षम हुए हैं। 

(। दिमाग तेज करने के उपाय )

संतों के द्वारा ऐसी बात सुन कर उन्हें भरोसा नहीं हुआ तो उन्होंने वही अमेरिका से अपने अन्य मनोविज्ञानी सहयोगी बुलाए और वही अपना शोध करने में लग गए। 

और इस शोध में उन्होंने उन लोगों को सामिल किया जिनका दिमाग आम लोगों से बहुत कम कार्य कर्ता था यानी कि उन्होंने मंद बुद्धि लोगों का प्रयोग किया और लगातार 9 महीनों तक उनसे सिर्फ उन मन्त्रों का जाप कराया। (। दिमाग तेज करने के उपाय )

और इस शोध का परिणाम आया तो उनकी आँखें फटी रह गयी उन्होंने पाया कि उन 100 लोगों में से 89% लोगों के दिमाग में बहुत तेजी से कोशिकाएँ विकसित हुयी और उनका दिमाग तेज हुआ है। 

जब इस विषय में उन्होंने आगे और शोध किया तो पाया जिन मन्त्रों का उच्चारण साधु संत और उनलोगों से कराया गया था वह मंत्र हमारी पांचो इन्द्रियों को ऐक्टिव करती है जिसके कारण मस्तिष्क विकसित होता है। 

ओम (om ) शब्द का उच्चारण ही हमारी नाक से लेके नाभि तक कि इन्द्रियों से होकर गुजरता है। 

इसी वज़ह से साँस का व्यायाम (aerobic exercise) हमारे दिमाग को तेज करने के उपाय में एक खास उपाय साबित होता है। (। दिमाग तेज करने के उपाय )

आप अपने दिमाग को तेज करने के लिए नीचे दिए गए मन्त्रों का सही उच्चारण करके अपना दिमाग तेज कर सकते हैं :दिमाग तेज करने के मंत्र :

  1. ॐ भूर् भुवः स्वः ।

तत्सवितुर्वरेण्यं

भर्गो॑ देवस्य धीमहि ।

धियो यो नः प्रचोदयात् ॥

  1. ते वाष्प वारि परिपूर्ण लोचनम् मारुतिं नमत रक्षसान्तकम्
  2. ऊं ऐं ह्रीं क्‍लीं शं शनैश्‍चराय नम:
  3. प्रसन्न चेतसो ह्याशुः बुद्धिः पर्यवतिष्ठते

ये कुछ ऐसे मंत्र है जिनके जाप से आप अपने मस्तिष्क को विकसित और ध्यान लगाने में और आपका दिमाग तेज करने के उपाय में काफी असरदार साबित होंगे। 

दिमाग तेज करने की दबा पतंजलि द्वारा दी जाती है 

जटामासी एक आयुर्वेदिक ओषधि जो कि कई बीमारियों को ठीक करने में उपयोग में ली जाती है और यह ज़डी बूटी (। दिमाग तेज करने के उपाय )

आपका दिमाग तेज करती है। पतंजलि द्वारा यह दबाई बनाई जाती है जो आपको आसानी से किसी भी नजदीकी पतंजलि स्टोर पर मिल जाएगी। 

इसके सेवन करने से आपकी दिमाग में खुन का संचार तेज होता है। यह ओषधि हमारे दिमाग तेज करने के उपाय में काफी बेहतर है। 

7)नींद पूरी करे और इन्द्रियों का पूरा उपयोग करे :

नींद पूरी हो जाए फिर आप खुद को कैसा महसूस करते है?  यह बात हमे आपको बताने की जरुरत नहीं है। 

हमारे अंदर नयी ऊर्जा और ताजगी आने का एकमात्र कारण है कि हमारी नींद पूरी हो तभी आप अपने दिमाग़ का ज्यादा उपयोग कर पाएंगे। दिमाग तेज करने के उपाय में शामिल यह उपाय ऐसा है कि आप गौर नहीं करते भाग दौड़ भरी जिंदगी में अपने स्वास्थ को हल्के से लेते है। 

सिर्फ दिमाग ही नहीं नींद पूरी ना होने से आप और भी कई भयानक बीमारियों से ग्रस्त हो सकते है। 

दोस्तों नींद के समय हमारा दिमाग यानी इंद्रियाँ एक शूछम जगत में होती है जहां महसूस सब होता है पर असर नहीं होता। 

ऐसा तब होता है जब हमारे दिमाग का पूर्ण रूप से उपयोग नहीं किया जाता जब आप अपने दिमाग को पूर्ण रूप से कार्यरत अभ्यास करते रहते हैं तब आपको ऐसी नींद आती जिसमें कोई रुकावट नहीं होती नींद के टुकड़े नहीं होते। 

वही नींद पूरी मानी जाती है है जिसमें टुकड़े ना हो एक बार सोए और फिर डायरेक्ट नींद पूरी होने पर ही आँख खुले।

 जब आप पूरी नींद लेते है तब आपकी इंद्रियाँ भी अपनी पूर्ण ऊर्जा में आ जाती है और आपका मस्तिष्क और तेजी से कार्य करने लगता है।दोस्तों नींद पूरी होना हमारे स्वस्थ्य जीवन के लिए भी काफ़ी महत्वपूर्ण है थकान, अनिद्रा, स्ट्रेस, anxiety जितने भी मानसिक रोग है इनका सीधा संबंध हमारी नींद और इन्द्रियों से होता है। 

इसलिए आपको अपनी नींद हमेशा पूरी लेनी है। तभी आप अपने दिमाग का सही उपयोग करने में सक्षम होंगे। 

दिमाग तेज करने के उपाय में संघनित यह उपाय भी काफी महत्वपूर्ण है दिमाग को तेज करने के लिए। 

8) हर समय दिमाग को विचलित ना रखे दिमाग को एक दिशा दे :

अगर आप एक समझ दार व्यक्ति है तो आपको यह समझने में जरा भी देर नहीं लगेगी की जब हम एक साथ कई कार्य करते हैं तो उसका परिणाम क्या निकालता है। 

आप कोई सा भी काम कर लीजिए जब तक आप एक दिशा में अपना पूरा जोर नहीं लगाते तब तक आपकी असली ताकत या हुनर या मेहनत का कोई नतीजा नहीं निकलता। ठीक ऐसा ही हमारे दिमाग के साथ है आप इसको किसी एक समय में एक ही तरफ लगाए। दोस्तों ध्यान से समझिए में यह कहना चाहता हू।

पढ़ाई में दिमाग तेज कैसे करें? 

 आपको एक उदाहरण देता हूं मान लीजिए आप एक घंटे के लिए कोई किताब पढ़ते हैं और इसी बीच आप गाना भी सुनते है, खाना भी खाते हैं, और दिमाग में ऑफिस के साथ हुए बॉस के साथ हुए विचारों पर भी विचार कर रहे होते हैं।(। दिमाग तेज करने के उपाय )

ऐसी स्थिति में क्या आप किताब से कुछ सीख पाएंगे? 

क्या आप खाने का स्वाद और ठीक तरह से सेवन कर पाएंगे? क्या आप पूर्ण रूप से संगीत का आनंद ले पाएंगे? या आप अपने ऑफिस के विचारों पर किसी फैसले पर पहुंच पायेगे? 

उत्तर आपको पता होगा.. आप इनमे से किसी भी कार्य को ठीक से krne करने में सक्षम नहीं होंगे क्योंकि आपने अपने दिमाग को कोई दिशा नहीं दी है इस तरह से हमारी इंद्रियाँ विचलित होके confusion का माहौल बना देती है जिससे हम हमारी असली तार्किक क्षमता को भी गवा देते हैं। 

आपको अपने दिमाग को दिशा कैसे देनी है यह आपको तय करना है। आपके हर काम के लिए एक रूटीन बनाए और एक समय में एक कार्य करें जिससे आपका दिमाग उत्कृष्ट प्रदर्शन करेगा और एक निश्चित समय पर अपने दिमाग़ को शांत भी करे संगीत सुनना एक अच्छा माध्यम है दिमाग को रिफ्रेश करने का। 

जब आप अपने दिमाग को एक सही रुटीन में ढाल लेते है तो आपका दिमाग काफी तेजी से विकसित होता है। 

आपका दिमाग़ अनंत है बस आपको इसे समझने की जरूरत है।

और इसका किस तरह प्रयोग करना है इसी से यह निर्धारित होता है कि आपका दिमाग कितनी तेजी से कार्य करेगा। 

दिमाग तेज करने के उपाय में यह उपाय भी काफी जरूरत मंद साबित होगा। 

9) धीमे स्वर को सुनें या low frequency आवाजों को सुनें :

Low frequency sound’s 

दोस्तों धीमी आवाज आपके दिमाग को तेज आवाज के मुकाबले ज्यादा सक्रिय करती है। 

ऑस्ट्रेलिया में हुए एक शोध के अनुसार जब हमारा दिमाग धीमी आवाज़ें सुनता है तो ज्यादा सक्रियता से कार्य कर्ता है। 

Low frequency sound’s में आप सुबह बगीचों में जाके चिड़िया के झुंड की आवाजें या झरने की आवाज या पत्तों की सरसराहट या पानी गिरने की आवाज कुछ इसी प्रकार की धीमी आवाजें सुनने से आपका मस्तिष्क एक सकारात्मकता पैदा कर्ता है और यह आपके दिमाग को तेज करता है। 

दिमाग तेज करने के उपाय बहुत है। आप को उन पर कार्य करने के लिए पूरी तरह सतर्कता वर्तनी होगी। 

10)थकी मानसिकता को बेवजह महसूस ना करें :

मित्रों सबसे पहले तो आपकी एक बहुत बड़ी गलतफहमी दूर कर देते हैं कि हमारा दिमाग कभी नहीं थक सकता। 

हाँ यह धीमा हो सकता है अगर आप इसको पर्याप्त मात्रा में इसके उपयोगी जरुरतों को पूरा नहीं करेगे तो। 

कई बार ऐसा होता है कि हम खुद को बहुत ही थका हुआ और निष्क्रिय महसूस करते हैं।यह हमारी नकरात्मक मानसिकता का परिणाम है।

यह बेहद जरुरी है कि आप अपने दिमाग में कोई भी नकारत्मक विचारों को ना आने दे। 

जब आप अपने आप को ऊर्जा बान और सकारत्मक सोच रखते हैं तो आपका दिमाग और बेहतर और तेजी से विकास करता है। 

दिमाग तेज करने के उपाय आपको काफी फायदेमंद साबित होंगे। 

 दिमाग तेज करने के 10 आसान तरीके 

दिमाग तेज करने के उपाय? और दिमाग तेज करने के मंत्र? या दिमाग तेज करने के लिए क्या खाए? ऐसे कई सवाल आपके जेहन में आते हैं दोस्तों अंत में मेरा खुद का सुझाव यह रहेगा कि आपको अपने मस्तिष्क पर खुद काबु करना होगा आपको समझना होगा कि वह कैसे बेहतर कार्य कर सकता है। 
हर इंसान का दिमाग अलग अलग किस्म का होता है उनकी अपनी क्रिया प्रतिक्रियाएं होती है। 
इसलिए हम खुद से बेहतर हमारे मस्तिष्क को कोई नहीं समझता और आप दिए गए दिमाग तेज करने के आसान उपाय पढ़कर लागू करे और खुद को समझने की कोशिश करे। 
धन्यवाद 

मित्रों आपको हमारा यह लेख काफी कुछ खुद की मानसिकता से मिलाजुला होगा अगर आपको ये विचार और उपचार पंसद आए है तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। 

दोस्तों यह लेख बड़ी रिसर्च के बाद बहुत मेहनत से लिखा है आशा करते हैं आप इसे शेयर और subscribe जरूर करेंगे। 

शिकायत और सुझाव नीचे दिए मेल अड्रेस पर भेजे।

हमारे साथ कार्य करने के लिए हमे फोन करे। 

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x