सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय | सर्दी जुकाम के घरेलू, आयुर्वेदिक, और  मेडिकल उपचार घर पर होना तब बिल्कुल भी मजेदार नहीं होता जब आप बीमार होते हैं। शरीर में दर्द, बुखार, ठंड लगना और नाक बंद होना किसी को भी दुखी करने के लिए काफी है। 

यह भी पढ़े :ठंडे पानी से नहाने के फायदे | BENEFITS OF COLD WATER BATHING | 2021

ऐसे बहुत सारे घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से हम अपने इन लक्षणों को कम कर सकते हैं और अपने आप फिर से  सामान्य स्थिति में ला सकते हैं ।  (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :बात करने में कितनी कैलोरी खर्च होती है? 2021

लेकिन यदि आप कुछ हफ्तों के बाद भी खुद को बीमार महसूस करते हैं, तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना होगा ।  इसके अतिरिक्त यदि स्थिति और गम्भीर होती जा रही है जिसमें आपको  सांस लेने में परेशानी हो रही है,  दिल की धड़कन तेज हो रही है, हल्के चक्कर और बेहोशी महसूस हो रही है, या अन्य गंभीर लक्षणों का अनुभव हो रहा है, तो आपको जल्द ही चिकित्सा सहायता प्राप्त  करने की जरूरत होगी। 

यू तो आधुनिक विज्ञान ने सर्दी और जुकाम के लिए अब तक कोई सटीक उपचार नहीं खोज पाया है परंतु इसके लक्षणों को कम करने में सहायक कई तरह की अंग्रेजी दवाइयां बाजार में उपलब्ध होती है। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

रही बात आयुर्वेदिक चिकित्सा की तो सर्दी जुकाम जैसी बीमारी के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा काफी कारगर सिद्ध होता है और इस तरह का उपचार आप अपने घर में ही कर पाते है तो यह और भी ज्यादा सुलभता से हो जाता है। 

जुकाम और सर्दी एक संक्रमण फैलाने वाली बीमारी है और इसीलिए इसका इलाज उतना प्रभावी रूप से नहीं किया जा सकता। और इस तरह की बीमारी को फैलाने के लिए कई तरह के virus जिम्मेदार होते है। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :सिगरेट छोड़ने के उपाय | TOP 15 TIPS | CIGARETTE CHODNE KE UPAY

जुकाम क्या है? (what is common cold?) 

सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय

जुकाम जिसे हम सर्दी भी कहते है और अंग्रेजी में Common Cold। जुकाम एक अत्यंत व्यापक ऊपरी श्वसन संक्रमण (upper respiratory infection) है।  जुकाम नाक और गले सहित ऊपरी श्वसन पथ के वायरल संक्रमण फैलने के कारण होता है।  सर्दी जुकाम फैलाने के लिए लगभग 200 विभिन्न प्रकार के वायरस हैं जो आपको सर्दी जुकाम से पीड़ित कर सकते हैं । 

सामान्य सर्दी सबसे आम बीमारियों में से एक है। यदि आपको जुकाम है, तो आप अकेले नहीं हैं।  राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान(WHO) (स्रोत: एनआईएच) के अनुसार, भारत में हर साल एक अरब से अधिक जुकाम और सर्दी के मामले सामने आते हैं। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

सर्दी का प्रभाव अलग अलग लोगों पर और संक्रमण पैदा करने वाले विशिष्ट प्रकार के वायरस(जो 100 से ज्यादा प्रकार के होते हैं) के बीच अलग अलग हो सकता है।  सर्दी के ज्यादातर लक्षणों में छींकना, खाँसी, गले में खराश, थकान और बहती या भरी हुई नाक शामिल हैं।  

सर्दी जुकाम बहुत संक्रामक रोग होता है।  जुकाम  साल के किसी भी समय हो सकता हैं लेकिन सर्दियों के दौरान सर्दी जुकाम सबसे आम रोग माना जाता है, हालांकि यह नम, बरसात के मौसम अधिक देखने को मिलता है। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यदि जुकाम से संक्रमित व्यक्ति आप के पास हुआ तो आपको जुकाम वाले वायरस से भरी हुई सांस लेने से सर्दी जुकाम हो सकता है, जैसे कि जब कोई व्यक्ति जिसे सर्दी हो, वह पास में छींकता है।  ऐसी स्थिति में जाहिर है कि आपको भी जुकाम हो जाए। जुकाम के virus से दूषित सतहa या किसी भी चीज को छूने के बाद अपनी आंख, नाक या मुंह को छूने से भी आपको जुकाम हो सकता है।

सामान्य सर्दी जुकाम का कोई इलाज नहीं है, इसके लिए बेहतर है कि आप भरपूर आराम करने, तरल पदार्थ पीने से , cough drops, का उपयोग करके या सर्दी जुकाम की  दवाओं के सेवन से राहत पा सकते हैं।  ज्यादातर मामलों में, हल्का जुकाम सर्दी एक हल्की, और अपने आप ठीक हो जाने वाली बीमारी है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

 जो  ज्यादा से ज्यादा एक या दो सप्ताह में अपने आप ठीक हो जाती है।  एंटीबायोटिक्स या अंग्रजी दवाइयां सर्दी जुकाम का इलाज नहीं करते हैं और इस बीमारी की अवधि को छोटा नहीं कर सकते, इसलिए ऐसी दवाइयां का उपयोग नॉर्मल सर्दी जुकाम में अनुपयोगी ही सिद्ध होगा । अच्छे स्वास्थ्य वाले अधिकांश लोग बिना किसी जटिलता और ज्यादा परेशानी के सामान्य सर्दी जुकाम से उबर सकते हैं।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :गेहूं की रोटी खाने के 15 फायदे, जो आपको रोटी खाने पर मजबूर कर देंगे

दो सप्ताह के बाद भी सर्दी जुकाम ठीक ना हो तो क्या करें? 

कुछ मामलों में, सामान्य सर्दी जुकाम अधिक गंभीर संक्रमण और जटिलताएं पैदा कर सकता है, जैसे कि 

  • निमोनिया,
  • तीव्र ब्रोंकाइटिस 
  • अस्थमा का बिगड़ना
  • साइनुसाइटिस

पुरानी किसी बीमारी से पीड़ित लोगों को अधिक जुकाम और सर्दी की जटिलताओं का जोखिम होता है ऐसे लोगों में निम्न लोग  शामिल हैं :

  • जिन्हें एक पुरानी बीमारी है
  • जिनकी प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर है
  • श्वास संबंधी कोई बीमारी है 
  • Compromised प्रतिरक्षा प्रणाली है, 
  • बहुत युवा 
  • बहुत बूढ़े 

यदि आप सर्दी जुकाम से पीड़ित है जो लंबे समय से ठीक नहीं हो रही है या आपको कोई पुरानी बीमारी है और सर्दी के लक्षण विकसित होते जा रहे हैं तो आपको तुरंत चिकित्सा देखभाल लेने की आवश्यकता है । यदि आप या आपके साथ वाला कोई भी व्यक्ति सर्दी और जुकाम के लक्षणों के साथ(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

  • सांस लेने में तकलीफ
  • घरघराहट
  • सीने में दर्द
  • सतर्कता या चेतना में बदलाव
  •  गहरी, गीली छाती वाली खांसी जो पीले, हरे या भूरे रंग का कफ पैदा करती है
  •  तेज बुखार (101 डिग्री फ़ारेनहाइट से अधिक)
  •  सुस्ती
  •  सांस लेने में कठिनाई
  •  घरघराहट, सांस लेने के साथ की जाने वाली सीटी की आवाज
  • स्वाद और सूंघने की शक्ति चली जाना 

 के लक्षण हैं, तो तत्काल चिकित्सा देखभाल प्राप्त करें। 

यह भी पढ़े :भारत में कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट | INDIA COVID-19 VACCINATION SIDE EFFECTS

सामान्य सर्दी जुकाम के लक्षण क्या हैं?

सामान्य सर्दी जुकाम के लक्षण क्या हैं?

सामान्य सर्दी के लक्षण आमतौर पर हल्के होते हैं और सर्दी के वायरस के संपर्क में आने के दो से तीन दिन बाद दिखाई देते हैं।  सर्दी पैदा करने वाले विशिष्ट प्रकार के वायरस के आधार पर लक्षण भिन्न हो सकते हैं।  सामान्य सर्दी के लक्षणों में शामिल हैं:

  •  शरीर में दर्द
  •  खांसी
  •  थकान
  •  सरदर्द
  •  हल्का बुखार
  •  पोस्ट नेज़ल ड्रिप
  •  बहती नाक
  •  छींक आना
  •  गले में खरास
  •  भरी हुई नाक या नाक बंद
  •  गीली आखें
  • खाने में स्वाद और खुशबु ना मिलना 

यह भी पढ़े :टमाटर खाने के फायदे | TOP 11 BENEFITS OF EATING TOMATO

सर्दी जुकाम होने के कारण क्या है ? 

सामान्य सर्दी तब फैलती है जब आप संक्रमित व्यक्ति के छींकने, खांसने, बोलने या नाक पोंछने के दौरान उसके ढीले कणों से वायरस के कणों को अंदर लेते हैं।  आप किसी संक्रमित व्यक्ति द्वारा छुई गई दूषित सतह को छूकर भी वायरस उठा सकते हैं।  (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

सामान्य क्षेत्रों में डॉर्कनॉब्स, टेलीफोन, बच्चों के खिलौने और तौलिये शामिल हैं।  राइनोवायरस (जो सबसे अधिक सर्दी का कारण बनता है) कठोर सतहों और हाथों पर तीन घंटे तक जीवित रह सकता है।

अधिकांश वायरस को कई समूहों में से एक में वर्गीकृत किया जा सकता है और इन समूहों में शामिल हैं:

  •  मानव राइनोवायरस
  •  कोरोना वाइरस 
  •  पैराइन्फ्लुएंजा वायरस
  •  एडिनोवायरस

कुछ अन्य सामान्य सर्दी के करने वाले virus को बाहर कर दिया गया है, जैसे कि रेस्पिरेटरी सिंकाइटियल वायरस।  अभी भी अन्य को आधुनिक विज्ञान द्वारा पहचाना जाना बाकी है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

सामान्य सर्दी जुकाम का कारण मुख्य कारण virus के फैलने से होता है। हम कह सकते है कि (COVID-19) virus coronavirus और जुकाम फैलने के कारण लगभग एक जैसे ही है। 

सामान्य सर्दी जुकाम राइनोवायरस नामक वायरस के कारण होता है। करीब 200 प्रकार के विभिन्न राइनोवायरस हैं जो जुकाम का कारण बन सकते हैं।  (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

जैसा कि लोगों के अंदर आम धारणा है कि सर्दी जुकाम मुख्यतः ठंडे मौसम या नम मौसम के कारण होता है तो ऐसा नहीं है मौसम का प्रभाव आपकी प्रतिरक्षा तंत्र को कमजोर कर सकते है इस लिए virus का काम और आसान हो जाता है और आपको संक्रमण में जकड़ लेता है। 

ठंडे और गर्म मौसम के असंतुलन के कारण  कुछ मामलों में ये स्थितियां राइनोवायरस द्वारा संक्रमण के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को कम कर सकती हैं।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

जुकाम बहुत संक्रामक रोग है।  सामान्य सर्दी जुकाम का कारण बनने वाले राइनोवायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में तेजी से फैलते हैं  खासकर तब जब कोई व्यक्ति सामान्य सर्दी के साथ बात करता है, खांसता है या छींकता है।  यह जुकाम वाले वायरस से दूषित बूंदों को हवा में शूट करता है जहां दूसरे लोग साँस ले रहे होते हैं ।

आप किसी ऐसे व्यक्ति को छूने से भी सर्दी जुकाम के शिकार हो सकते है , जैसे हाथ मिलाना, या वायरस से दूषित सतह को छूना,  दूषित कंप्यूटर कीबोर्ड या डोर नॉब इत्यादि को छूने से । अगर आप हाथ धोने से पहले अपने मुंह, आंख या नाक को छूते हैं, तो आप अपने हाथों से वायरस को अपने शरीर में पहुंचाते हैं।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :जमीन पर सोने के फायदे और नुकसान | JAMEEN PAR SONE KE FAYDE | 2021

सर्दी जुकाम है या फ्लू ? 

सर्दी के पहले लक्षणों के साथ आपको आश्चर्य हो सकता है कि क्या आपको सर्दी या फ्लू हो गया है।  सर्दी और फ्लू के लक्षण एक जैसे हो सकते हैं।  तो क्या फर्क है?

जब आपको सर्दी होती है, तो लक्षण आम तौर पर हल्के होते हैं और इसमें नाक बहना, छींकना, नाक बंद होना और संभवतः 101 डिग्री फ़ारेनहाइट से कम निम्न श्रेणी का बुखार शामिल है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

जब आपको फ्लू होता है, तो  लक्षण समान हो सकते हैं। फ्लू के दौरान आप शायद अधिक गंभीर और असुविधाजनक लक्षणों का अनुभव करेंगे।  फ्लू के लक्षणों में 

  • तेज बुखार (101 डिग्री फ़ारेनहाइट से अधिक), 
  • खांसी, 
  • सिरदर्द, 
  • शरीर में दर्द, 
  • अत्यधिक थकान
  • गले में खराश

जैसे घातक लक्षण शामिल हैं। बच्चों में, फ्लू के लक्षणों में पेट दर्द और उल्टी भी शामिल हो सकती है।

यह भी पढ़े :अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय | नींद से सम्बंधित हर जबाब और जानकारी | ACCHI NEEND KAISE SOYE |2021

सर्दी जुकाम का इलाज कैसे करे ?

वर्तमान में सामान्य सर्दी जुकाम का कोई इलाज नहीं है।  विशेषज्ञों के अनुसार जुकाम का उपचार के माध्यम से आप अपने लक्षणों से राहत पा सकते हैं ताकि आपको अपनी ताकत बनाए रखने और जटिलताओं को विकसित किए बिना ठीक होने के लिए आवश्यक आराम मिल सके।

 सर्दी के उपचार में शामिल हैं:

  •  बुखार, गले में खराश और शरीर में दर्द के लिए एसिटामिनोफेन (टाइलेनॉल)
  •  अतिरिक्त तरल पदार्थ पीना
  •  अतिरिक्त आराम और नींद लेना
  •  ओवर-द-काउंटर सर्दी उपचार
  •  एस्पिरिन और इबुप्रोफेन जैसे दर्द निवारक सिरदर्द, जोड़ों के दर्द और बुखार कम करने के लिए अच्छे हैं।
  • कफ सिरप लगातार खांसी और गले में खराश में मदद करता है।  जैसे कि रोबिटसिन, मूसिनेक्स और डिमेटैप हैं।
  •  डिकॉन्गेस्टेंट nozel spray जो आपकी बंद नाक को साफ़ करने के लिए सहायक है जैसे अफ्रिन, सिनेक्स और नासाकोर्ट 

वर्तमान में, सामान्य अनुशंसा यह है कि छह वर्ष से कम उम्र के बच्चे गंभीर दुष्प्रभावों के जोखिम के कारण सर्दी जुकाम या खांसी की अंगेजी दवाओं का उपयोग नहीं करते हैं। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

इसके अलावा, सर्दी जुकाम से पीड़ित लोगों को अपने उपचार के लिए एस्पिरिन (aspirin) या ऐसे उत्पादों का उपयोग नहीं करना चाहिए जिसमें Reye syndrome नामक एक दुर्लभ और प्राणों को संकट में डालने वाली बीमारी हो सकती है।  रेई सिंड्रोम को सर्दी जुकाम या फ्लू जैसी वायरल बीमारी के दौरान एस्पिरिन (aspirin) लेने से जोड़ा गया है।

सर्दी के लिए एंटीबायोटिक दवाइयां निर्धारित नहीं हैं क्योंकि वे वायरस के खिलाफ अप्रभावी होती हैं ।  हालांकि, एंटीबायोटिक दवाइयों को निर्धारित किया जा सकता है यदि कोई व्यक्ति नॉर्मल सर्दी और जुकाम से अत्यधिक  जटिलता भरी बीमारियों के रूप में द्वितीयक जीवाणु संक्रमण विकसित करता है, जैसे कि निमोनिया या तीव्र ब्रोंकाइटिस।  दुर्लभ मामलों में, सर्दी जुकाम के लिए एंटीवायरल दवाएं निर्धारित की जा सकती हैं।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :मोटापा घटाने के उपाय | वजन कम करने से संबंधित पूर्ण जानकारी | VAJAN GHATANE KE UPAY | 2021

वैकल्पिक दवाई

उपरोक्त विधियों की तरह सर्दी के इलाज में वैकल्पिक चिकित्सा भी उतना प्रभावी साबित नहीं होता है। कुछ लोगों को इसे आजमाने से राहत मिलती है।

यदि शुरुआती लक्षणों के 24 घंटे बाद लिया जाए तो जिंक का सबसे प्रभावी ढंग से उपयोग किया जा सकता है।  विटामिन c, या इससे भरपूर खाद्य पदार्थ (जैसे खट्टे फल), खट्टे फल हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए काम करते  है।  और echinacea  को  प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए माना जाता है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय :

  • चिकन सूप
  •  अदरक
  •  शहद
  •  लहसुन
  •  Echinacea
  •  विटामिन सी
  •  प्रोबायोटिक्स
  • Humidity 
  • वाष्प से रगड़ने से 
  • तुलसी 
  • मछली का तेल 

1.चिकन सूप

जुकाम और सर्दी के लिए चिकन सूप  इलाज नहीं हो सकता है, परंतु जब आप बीमार हों तो यह एक बढ़िया विकल्प है।  शोध से पता चलता है कि एक कटोरी चिकन सूप में सब्जियों के साथ, गर्म करके तैयार करे यह आपके शरीर में न्यूट्रोफिल (Neutrophils) की गति को धीमा कर सकता है।

न्यूट्रोफिल (Type of Red blood cell) सफेद रक्त कोशिका का एक सामान्य प्रकार है।  यह आपके शरीर को संक्रमण से बचाने में मदद करती हैं।  जब वे धीरे-धीरे आगे बढ़ रही होती हैं, तो Neutrophils आपके शरीर के उन क्षेत्रों में अधिक केंद्रित रहते हैं, जिन्हें सबसे अधिक उपचार की आवश्यकता होती है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

अध्ययन में पाया गया कि विशेष रूप से ऊपरी श्वसन संक्रमण(upper respiratory infection) के लक्षणों को कम करने के लिए चिकन सूप  काफी प्रभावी साबित हुआ है । लो-सोडियम सूप में भी बहुत अधिक पोषण मूल्य होता है और यह आपको हाइड्रेटेड रखने में भी मदद करता है।  यह एक अच्छा विकल्प है, चाहे आप कैसा भी महसूस कर रहे हों।

यह भी पढ़े :गांजे का नशा छोड़ने के उपाय। गांजा क्या है? गांजे से संबंधित संपूर्ण जानकारी 2021

2. अदरक

सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय

 भारत के अदरक का उपयोग सदियों से आयुर्वेदिक चिकित्सा में होता आया है, लेकिन अब हमारे पास इसके उपचारात्मक गुणों का वैज्ञानिक प्रमाण है।  उबलते पानी में कच्चे अदरक की जड़ के कुछ टुकड़े खांसी या गले में खराश को शांत करने में मदद कर सकते हैं।  शोध बताते हैं कि यह मतली (Nausea) की भावनाओं को भी दूर कर सकता है जो अक्सर इन्फ्लूएंजा के साथ होती हैं।  

उदाहरण के लिए, एक अध्ययन पाया गया कि सिर्फ 1 ग्राम अदरक “विभिन्न कारणों की नैदानिक ​​मतली (Nausea) को कम कर सकता है।”(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

3. शहद

भारतीय घरेलू उपचारों में शहद वर्षों  से उपयोग में लिया जा रहा है। शहद में विभिन्न प्रकार के जीवाणुरोधी(Antibacterial) और रोगाणुरोधी गुण (Antimicrobial) होते हैं। चाय में नींबू के साथ शहद मिलाकर पीने से गले के दर्द में आराम मिलता है।  शोध बताते हैं कि शहद एक प्रभावी कफ सप्रेसेंट भी है।

एक अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने पाया कि बच्चों को सोते समय 10 ग्राम शहद देने से उनकी खांसी के लक्षणों की गंभीरता कम हो जाती है।  बच्चे कथित तौर पर अधिक अच्छी तरह से सोते हैं, जो ठंड के लक्षणों को कम करने में भी मदद करता है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

आपको 1 साल से छोटे बच्चे को कभी भी शहद नहीं देना चाहिए, क्योंकि इसमें अक्सर बोटुलिनम बीजाणु (botulinum spores) होते हैं।  जबकि botulinum spores आमतौर पर बड़े बच्चों और वयस्कों के लिए हानिरहित होते हैं, शिशुओं की प्रतिरक्षा प्रणाली immume सिस्टम) उनसे लड़ने में सक्षम नहीं होती है।

आप हमारे बताये हुए कुछ अच्छी क्वालिटी और उच्चतम गुणवत्ता वाले शहदो को अमेज़न पर यही से खरीद सकते हैं:  यहां खरीदे 

यह भी पढ़े :दुनिया की सबसे महंगी दवाइयां | DUNIYA KI SABSE MEHNGI DAWAIYA | MOST EXPENSIVE DRUGS 2021

4. लहसुन

लहसुन में पाए जाने वाला पदार्थ एलिसिन होता है, जिसमें रोगाणुरोधी (Antimicrobial) गुण होते हैं।  अपने खाने में लहसुन को शामिल करने से सर्दी के लक्षणों की गंभीरता कम किया जा सकता है।  किए गए कुछ शोध के अनुसार

यह आपको पहली बार में बीमार होने से बचाने में भी मदद कर सकता है।

लहसुन के संभावित शीत-विरोधी लाभों पर और अधिक शोध किए जाने की आवश्यकता है।  इस बीच, अपनी diet में ज्यादा लहसुन जोड़ने से शायद आपको कोई समस्या नहीं होगी ।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

5. काली मिर्च 

सामाग्री: 

  • एक दो चुटकी काली मिर्च पाउडर 
  • एक बड़ा ग्लास हल्का गर्म पानी 

पानी गुनगुना करके उसमे काली मिर्च मिलाए और अच्छे से मिलाकर पी जाए। 

काली मिर्च में पाए जाने वाले पद्धार्थ Antiviral होते है। काली मिर्च आपके शरीर का बलगम बाहर निकाल देती है और गले को भी काफी आराम पहुँचाती है। दिन में जब भी आवश्यकता हो इस घोल को पिया जा सकता है। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

सर्दी जुकाम के लिए खास उपयोग की जाने वाली काली मिर्च यहां से खरीदे.. 

6. Echinacea

सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय

अमेरिकियों ने 400 से अधिक वर्षों से संक्रमण के इलाज के लिए इचिनेशिया पौधे की जड़ी-बूटियों और जड़ का उपयोग किया है।  इसके सक्रिय तत्वों में फ्लेवोनोइड्स (flavonoids) , रसायन शामिल हैं जिनका शरीर पर कई तरह के बेहतर चिकित्सीय प्रभाव होते है।  उदाहरण के लिए, फ्लेवोनोइड्स आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सहायक हो सकते हैं इसके साथ यह सूजन को कम कर सकते हैं।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

आम सर्दी जुकाम और फ्लू से लड़ने में जड़ी-बूटी की प्रभावशीलता पर शोध मिश्रित किया गया है।  लेकिन एक समीक्षा बताती है:

कि इचिनेशिया लेने से आपके सामान्य सर्दी जुकाम के विकास का खतरा 50 % से अधिक कम हो सकता है।  यही नहीं यह जुकाम की अवधि को भी कम करने में सहायक सिद्ध होता है । यदि आप एक स्वस्थ वयस्क हैं, तो 1 से 2 ग्राम इचिनेशिया की जड़ या जड़ी-बूटी को चाय के रूप में, दिन में तीन बार, एक सप्ताह से अधिक समय तक लेने पर विचार करें।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :स्मैक का नशा छुड़ाने के उपाय 2021 | smack ka nasha kaise churaye ?

7. विटामिन C

Vitamin C आपके शरीर में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं।  नींबू, संतरे, अंगूर, पत्तेदार साग और अन्य फलों और सब्जियों के साथ, नींबू विटामिन सी का एक अच्छा स्रोत है।

शहद के साथ गर्म चाय में ताजा नींबू का रस मिलाने से आपके बीमार होने पर कफ कम हो जाता है। गर्म या ठंडा नींबू पानी पीने से भी मदद मिल सकती है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

हालांकि यह पेय आपका सर्दी जुकाम को पूरी तरह से दूर नहीं कर सकता हैं, परंतु इनको पीने से यह विटामिन सी प्राप्त करने में आपकी सहायता कर सकते हैं जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को चाहिए।  शरीर को पर्याप्त विटामिन सी मिलने पर आपको upper respiratory infections और अन्य बीमारियों से राहत मिल सकती है। 

उच्चतम गुणवत्ता वाली विटामिन C यहां से खरीदे.. 

8. प्रोबायोटिक्स

सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय

प्रोबायोटिक्स ऐसे bacteria है जो हमारी मदद करते हैं। हम कह सकते हैं कि यह bacteria ” freindly” “बैक्टीरिया और yeast हैं जो हमारे शरीर के साथ साथ कुछ अन्य खाद्य पदार्थों और पूरक आहार में पाए जाते हैं।  यह bacteria हमारी आंत और प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं, और अनुसंधान इंगित करता है कि प्रोबायोटिक्स ऊपरी श्वसन संक्रमण(upper respiratory infections) से आपके बीमार होने की संभावना को कम कर सकते हैं।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

Freindly बैक्टीरिया के स्वादिष्ट और पौष्टिक स्रोत के लिए, आप अपने खाने में  दही शामिल कर सकते है ।  आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए इसके संभावित लाभों के अलावा, दही एक स्वस्थ नाश्ता है जो भरपूर मात्रा में प्रोटीन और कैल्शियम प्रदान करता है। इसके साथ ही उन उत्पादों की तलाश करें जो लेबल पर जिवित bacteria को सूचीबद्ध करते हैं।

यह भी पढ़े :मन को शांत और स्थिर कैसे करें? | Man ko Shant Aur Isthir Kaise karein ? | Top Best 11 ways To clam and stabilize Your Mind

9. हल्दी वाला दूध (Golden Milk) 

हल्दी वाला दूध कई तरह से आपके शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है। खासकर जुकाम और सर्दी के लिए हल्दी वाला दूध रामबाण इलाज है। हल्दी वाले दूध के फायदे के बारे में आप यहां पढ़ सकते हैं –  रात को हल्दी वाला दूध पीने के फायदे | BENEFITS OF TURMERIC MILK | 2021

उच्चतम क्वालिटी और डाक्टर द्वारा सुझाया गया हल्दी वाला Milk powder यहां से खरीदे… 

10. वाष्प से रगड़ना (Vapor rub) 

शायद आपको इसकी गंध पसंद नहीं हो पर यह जुकाम सर्दी को ठीक करने के लिए  कारगर साबित सकता है। आपको Vicks vapour rub, jandu balm इत्यादि कई तरह की vapor rub नीचे से खरीद सकते है और यह आपको हमेशा काम आएगी। आप इनका उपयोग अपनी बंद नाक को खोलने में, छाती पर रगड़ने में और गर्म पानी में डाल कर वाष्प लेकर कर सकते है जिससे आपको सम्भवतः काफी राहत मिलेगी। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

11. नमी (ह्यूमिडिफायर) 

शुष्क (सूखे) वातावरण में इन्फ्लुएंजा पनपता है और अधिक आसानी से फैलता है।  आपके घर में नमी पैदा करने से इस फ्लू पैदा करने वाले वायरस के संपर्क में कमी आ सकती है।  बढ़ी हुई नमी नाक की सूजन को भी कम कर सकती है, जिससे बीमार होने पर सांस लेना आसान हो जाता है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

अपने बेडरूम में एक कूल मिस्ट ह्यूमिडिफायर रखने से आपको अधिक आरामदायक महसूस करने में मदद मिल सकती है।  सर्दियों में यह विशेष रूप से काफी उपयोगी सिद्ध होता है। जब शुष्क इनडोर गर्मी आपके लक्षणों को बढ़ा सकती है। नीलगिरी (eucalyptus) के तेल की कुछ बूँदें से आपकी श्वास उत्तेजित हो सकती है।

हमारा चुना हुआ एक अच्छा और उच्च गुणवत्ता वाला ह्यूमिडिफायर आप यहा से ऑनलाइन ऑर्डर करके प्राप्त कर सकते हैं। खरीदने के लिए यहां क्लिक करें.

याद रखें, फफूंदी और अन्य फंगस को बढ़ने से रोकने के लिए ह्यूमिडिफ़ायर में इस्तेमाल होने वाले पानी को रोज़ाना बदलना चाहिए। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :मोटापा घटाने के उपाय | वजन कम करने से संबंधित पूर्ण जानकारी | VAJAN GHATANE KE UPAY | 2021

12. गर्म पानी में स्नान

कभी-कभी आप अपने बच्चों को को गर्म स्पंज से नहला कर उसका बुखार कम कर सकते हैं। यहां तक कि गर्म पानी से नहाने से  वयस्कों में भी सर्दी जुकाम और फ्लू के लक्षणों को कम किया जा सकता है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय

पानी में एप्सम सॉल्ट और बेकिंग सोडा मिलाकर शरीर के दर्द को कम किया जा सकता है।  चाय के पेड़, जुनिपर, मेंहदी, अजवायन के फूल, नारंगी, लैवेंडर, या नीलगिरी जैसे आवश्यक तेल की कुछ बूंदों को जोड़ने से भी सुखदायक प्रभाव हो सकता है। 

13. तुलसी 

भारतीय संस्कृति और आयुर्वेदिक चिकित्सा में तुलसी का महत्त्व शायद सबसे अधिक है। तुलसी के अंदर Antibacterial, Antiviral और Antifungal गुण होते है । जो आपको जुकाम जैसी बीमारी से बचा के रखते है और आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में सहायक होते हैं। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

तुलसी का उपयोग कैसे करें :

  • हरे पत्ते खाए 
  • चाय में तुलसी की पत्तियों को डाले 
  • गर्म पानी में मिलाकर पीए 
  • नॉर्मल पानी में भी पीए 
  • किसी भी तरह से तुलसी का उपयोग किया जा सकता है। 

यह भी पढ़े :रस्सी कूदने के फायदे | 10 ऐसे फ़ायदे जो आपको रस्सी कूदने पर मजबूर कर देंगे। TOP 10 (2021)

14. मछली का तेल 

जुकाम से होने वाले संक्रमण को कम करने में और सूजन, बंद नाक खोलने में सहायक मछली का तेल पोषक तत्वों से भरा हुआ है। मछली के तेल में omega 3 फैटी acid होता है जिसमें सूजन रोधी गुण होता है। मछली का तेल आँखों की रोशनी बढ़ाने में भी उपयोगी सिद्ध होता है साथ ही यह आपकी प्रतिरोधी क्षमताओं को बढ़ाने में भी मदद करता है।मछली के तेल के capsules और Tablet’s बाजर में उपलब्ध होते है। (सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

उच्चतम गुणवत्ता वाले मछली के तेल की गोली (टेबलेट) यहां से खरीदे.. 

यह भी पढ़े :मोटापा घटाने के उपाय | वजन कम करने से संबंधित पूर्ण जानकारी | VAJAN GHATANE KE UPAY | 2021

सर्दी जुकाम से कैसे बचे? 

नीचे दिए गए कुछ उपायों के आधर पर आप सर्दी जुकाम से पीड़ित होने के जोखिम से और फैलाने से बच सकते हैं :

  •  जुकाम वाले व्यक्ति के संपर्क में आने से बचना
  •  अपनी आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचें, जो आपके हाथों से आपके शरीर में एक जुकाम वाले वायरस को संचारित कर सकता है
  •  छींकते या खांसते समय अपने मुंह और नाक को अपनी कोहनी (हाथ से नहीं) टिश्यू से ढकें
  •  एक संतुलित आहार खाना जिसमें पर्याप्त मात्रा में फल और सब्जियां शामिल हों
  •  पर्याप्त आराम तय करे 
  •  हाथों और सतहों को साफ करने के लिए उपयुक्त जीवाणुरोधी क्लीनर (sanitizer) का उपयोग करे 
  •  जुकाम वाले व्यक्ति के संपर्क के दौरान और बाद में बार-बार हाथ धोना
  •  कम से कम 20 सेकंड के लिए साबुन और पानी से बार-बार हाथ धोए 
  •  काम पर और घर में सतहों (floor) को साफ सुथरा रखे ।

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (CDC) के अनुसार, वयस्कों को प्रति वर्ष औसतन 2-3 बार सर्दी-जुकाम होता है। और बच्चों को ज्यादा जुकाम होता है जो आमतौर पर के पर लगभग 7-10 दिनों तक चलता हैं।

जुकाम हवा में और सतहों पर बूंदों के माध्यम से फैलता है।(सर्दी जुकाम ठीक करने के घरेलू उपाय) 

यह भी पढ़े :अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय | नींद से सम्बंधित हर जबाब और जानकारी | ACCHI NEEND KAISE SOYE |2021

डॉक्टर से सलाह कब लें? 

ज्यादतर लोगों को सर्दी के लिए डॉक्टर से परामर्श करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।  हालांकि, यदि लक्षण बिगड़ते हैं या अधिक गंभीर हो जाते हैं, तो यह एक जटिलता का संकेत हो सकता है।

 व्यक्ति को चिकित्सकीय सलाह लेनी चाहिए यदि:

  •  सर्दी 10 दिनों से अधिक समय तक रहती है। 
  •  एक बच्चा 3 महीने से कम उम्र का है और उसे बुखार या सुस्ती है। 
  •  लक्षण गंभीर या असामान्य हैं। 
  •  तेज बुखार है। 
  •  जिस किसी को भी सांस लेने में कठिनाई होती है, उसे तुरंत आपातकालीन कक्ष से संपर्क करना चाहिए।

यह भी पढ़े :जमीन पर सोने के फायदे और नुकसान | JAMEEN PAR SONE KE FAYDE | 2021

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.