TOP 10 TIPS FOR ATTRACTIVE Personality DEVELOPMENT IN 2021

 

 AAKARSAK BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN |आकर्षक व्यक्तित्व का विकास कैसे करें?यह सवाल आपके मन में कई बार आया होगा क्युंकी आपका व्यक्तित्व ही है जो समाज में आपको एक विशेष छवि प्रदान कराता है। आकर्षित करने वाली चीजे वही हो सकती है जो सबसे  बेहतर हो या सबसे खराब हो । जाहिर सी बात है आप अपने तरफ किसी को आकर्षित करने के लिए खराब तो नहीं बनना चाहते। तो फिर व्यक्तित्व का विकास करने के लिए क्या उपाय हो सकते हैं? आज हम आपको बतायेंगे ऐसे ही कुछ खास जिंदगी जीने के अंदाज जिससे आप अपने आकर्षक व्यक्तित्व का विकास कर पायेगे। 

असल में व्यक्तित्व क्या होता है? व्यक्तित्व इंसान की पहचान यह सवाल तब महत्वपूर्ण बन जाता है जब आप इसको विकसित करने के बारे में सोचते हैं। व्यक्तित्व मनुष्य के मानसिक दृष्टी कोण को दर्शाता है इससे सामने वाला व्यक्ति आपके आचार विचारो से आपकी मानसिकता का अंदाजा लगा पाते है। आपके मानसिक विचार ही आपके व्यक्तित्व को निखारते या बिगाड़ते है।( BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

 उदाहरण के लिए मान के चलिए अपने किसी फैसले पर अपनी राय जाहिर की और वह आपकी उस राय से कोई भी सहमत नहीं है ऐसी स्थिति में स्वाभाविक है कि आपके विचार या विचाराधारा गलत है और यही आपके व्यक्तित्व को समाज के सामने पेश करती है। वही दूसरे हाथ में आपने किसी फैसले को लेकर ऐसी विचारधारा प्रकट की जिससे सभा में  बैठे सभी लोग सहमत है। 

तो इसमे अन्तर यह है कि आपके विचार और उनको सामने रखने का तरीका आपके व्यक्तित्व को पेश करता है और लोग आपसे प्रभावित होते हैं।

 व्यक्तित्व आपके व्यवहारिक दृष्टीकोण, आपके आचार विचार, आपके कार्य करने के अंदाज और विचारों की समझ का एक मिला जुला मिश्रण है जो आपको एक छवि प्रदान कराता है। तो( व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )  अब यह समझना हमारे लिए आसान होगा। 

BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN/ व्यक्तित्व का विकास कैसे करें ?

Table of Contents

आकर्षक व्यक्तित्व का विकास करने के उपाय :

  • अनुशासन अपनाये 
  • मस्तिष्क को शांत और स्थिर रखने का प्रयास करें। 
  • मानवता को जिंदा रखे। 
  • लोगों के प्रति  मिलनसार रवैय्या अपनायें। 
  • व्यवहारिक दृष्टीकोण बदले। 
  • मददगार बने। 
  • दूसरों की सराहना करना सीखें। 
  • अपनी जुबान पर खरे उतरे। 
  • खुद को बेहतर दिखाने का प्रयास ना करें। 
  • देश दुनिया की सामाजिक खबरों से अपडेट रहे। 
  • अपने कर्तव्यों का पालन ईमानदारी से करें। 
  • नयी तकनीकों का इस्तेमाल करना सीखें। 
  • लोगों को जागरूक करने का मौका ना छोड़े। 
  • चुनौतियों का मुकाबला करें और हार ना माने । 
  • लोगों से ली हुयी  मदद को याद रखें। 
  • अपनी भाषा का विकास  करें शब्द कोष बढ़ाए। 
  • दूसरों की बात सुने तब अपनी राय जाहिर करें। 
  • अपनी कमियों को निकाले और अपनी गलतियों को स्वीकार करना सीखें। 
  • स्वभाव में सादगी और लचीलापन लाए। 
  • क्रोध और घमंड को खत्म करें। 
  • लोगों की पहुंच खुद तक आसान बनाए। 

1)अनुशासन अपनाये :

अनुशासित व्यक्ति हमेशा सकारात्मक ऊर्जा का स्रोत होता है। और लोग उससे आकर्षित होंगे यह बेहद स्वाभाविक बात है। इंसान अपने व्यक्तित्व का विकास खुद करता है और विनाश भी खुद ही करता है। अनुशासन आपको एक आकर्षक व्यक्तित्व देता है साथ ही यह आपको जिंदगी के हर पहलू में सफल होने की संभावना भी प्रदान करता है। अनुशासित व्यक्तियों को समाज में इज्ज़तदार और  काफ़ी प्रभाव शील माना जाता है।( व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

अनुशासन हमे यह सिखाता है कि एक व्यस्थित जीवन कैसे जिया जा सकता है। और यह आपके व्यक्तित्व को और बेहतर और बाकियों से अलग बनाता है। जीवन में अनुशासन ना हो तो आप खुद की तरक्की की कामना भी नहीं कर सकते। आपके व्यक्तित्व में अनुशासन का होना आपके ओर लोगों को आकर्षित करता है।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

मस्तिष्क को शांत और स्थिर रखने का प्रयास करें :

हमारा मन यदि शांत रहता है तो हमारे विचारों में समझ दारी आती है और इसका कारण बिल्कुल स्पस्ट है क्युकी मन जब शांत और स्थिर होता है उस समय हम अपनी सोचने का कार्य सबसे कुशल ढंग से कर पाते है। और एक सोचा समझा निर्णय बहुत कम गलत साबित होता है। आप अगर उस मर्ज के व्यक्ति है जो आंतरिक शांति को समझते और बनाए रखते है ऐसे में आप बाकी लोगों से कई मामलों में बेहतर होते है। आपके निर्णय आपकी बात सब कुछ एकदम परफेक्ट होता है। 

और जो व्यक्ति पूर्ण रूप से हर क्षेत्र में आगे हो लोग जाहिर सी बात है उससे आकर्षित होंगे। आपका शांत व्यक्तित्व ही आपको लोगों के बीच बेहतर बनाता है। शांत व्यक्तित्व के साथ लोग आपसे प्रभावित होने के साथ साथ आपके साथ जरूरी बात ही करते है और फिजूल की बातें नहीं करते। 

मानवता को जिंदा रखे : व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आप जब किसी व्यक्ति को लोगों की मदद करते हुए देखते है तब आपको कैसा लगता है? उत्तर साफ़ है कि अगर आप मानवता को महत्व देते हैं तो लोग आपके व्यक्तित्व से आकर्षित होंगे यह बात बिल्कुल साफ़ है। लोगों की मदद करना इंसान का सबसे खूबसूरत गुण है। इसके बिना कोई इंसान असल में इंसान नहीं होता यही एक ऐसा गुण है जो आपको बाकी जानवरों से अलग बनाता है।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आपकी मानवता का परिचय आप कहीं भी दे सकते हैं। किसी की ज़रुरत में काम आना सबसे बड़ा पुण्य होता है। ऐसा करने से सिर्फ वह व्यक्ति ही नहीं आपको और उसको जानने वालों लोगों के मन में आपके लिए एक अलग छवि बनेंगी जो कि आम तौर पर लोगों में नहीं मिलती।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

मानवता सदैव अपनी छाप छोड़ती है। आपका व्यक्तित्व कैसा है इसका अंदाजा कोई भी व्यक्ति ऐसे ही कुछ खास गुणों से करता है। 

मिलनसार रवैय्या अपनायें :

आप भले ही ज्यादा लोगों से बात करना पसंद नहीं करते पर आपको लोगों की बात पर जबाब देना चाहिए। जब आप किसी के साथ भी अच्छे संबंध बनाने में सफल होते तो यह आपके व्यक्तित्व को दर्शाता है कि आप कितने मिलनसार है। 

आपको लोगों के घुलने मिलने की पर्याप्त कोशिस करनी चाहिए ताकि सामने वाले व्यक्ति को गलती से भी यह ना लगे कि आप घमंडी स्वभाव के है। अक्सर ऐसा होता है कि आप लोगों से कम बात करते है या उनमें बात करने की दिलचस्पी नहीं दिखाते तो वह आपको गलत नजरिए से देखने लगते है। जिससे समाज में आपकी गलत छवि परिष्कृत होती है। जो कि बिल्कुल ही अच्छी बात नहीं होगी।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आपको अपना व्यक्तित्व का विकास करना है तो आपको मिलनसार रवैय्या अपनाना पड़ेगा। और लोगों के साथ समय व्यतीत करना पड़ेगा। आप किसी के साथ भी आसानी से सेट हो जाए कि सामने वाले को आपसे कोई तकलीफ ना हो।बस यही मिलन सरिता आपको अपनाना है जो कि आपके व्यक्तित्व में चार चांद लगा देता है। 

व्यावहारिक दृष्टि कोण बदले :

समाज में आपका व्यवहार जैसा होता है लोग उसी आधार पर आपके व्यक्तित्व को समझते है। अगर आप एक आकर्षक व्यक्तित्व को बनाना चाहते हैं तो आपको आपके व्यवहारिक दृष्टीकोण को बदलने की आवश्यकता जरुर पड़ेगी।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आप को लोगों को उनके अनुसार खुद को पेश करना होता है जिससे वह आपसे आकर्षित होते है परंतु यह सब एक सीमित दायरे में होता है। सामने वाले को आप इतने आसान भी ना लगे कि वह आपकी वैल्यू कम करे। 

मददगार बने :

मदद क्या होती है यह तो सिर्फ वही व्यक्ति जान सकता है जिसको मुसीबत में किसी ने सहारा दिया हो उसकी मदद की हो। क्या कोई व्यक्ति उस व्यक्ति को भूल सकता है जिसने आपकी मदद की हो? आपका जबाब होगा नहीं क्युकी हम भूल ही नहीं सकते ऐसे व्यक्ति को हमारे मन में उसके लिए ijjat बड़ जाती है।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

मददगार बनना आपके व्यक्तित्व को लोगों के सामने बहुत ज्यादा अच्छा बनाता है। आप अगर किसी की मदद करते हैं वह व्यक्ति आपके लिए जरुर खड़ा रहेगा और एक अच्छे व्यक्तित्त्व वाले इंसान के पास ऐसे लोगों की कमी नहीं होती। यही उसका व्यक्तित्व दर्शाता है कि उस इंसान के लिए हर इंसान खड़ा है कुछ तो बात होगी उसमे।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

मदद करना कुदरत का एक एक ऐसा सुनहरा मौका है जिससे आप सामने वाले व्यक्ति को जीत सकते है। वर्ना दुनिया की कोई चीज ऐसी नहीं है जो इंसान के दिल को खरीद सके कि वह व्यक्ति पैसे लेके आपसे दिल से प्यार करे ऐसा सम्भव नहीं है। आप किसी की मदद करके ही उसके दिल में जगह बना सकते हैं। 

हमे कभी भी मौका मिलने पर किसी की मदद करने से चूकना नहीं चाहिए। यह आपके व्यक्तित्व को सबसे अलग और सबसे अच्छा इंसान बनाती है। 

दूसरों की सराहना करना सीखें :

इंसान अगर दूसरों की तारीफ करदे तो उस व्यक्ति को उच्च कोटि का समझा जाता है। जब आप किसी अन्य व्यक्ति की सराहना करते है उससे साबित होता है कि आपके अंदर घमंड और ईर्ष्या नहीं है। 

आप जिसकी सराहना करते है वह व्यक्ति आपके विचारों और व्यक्तित्व से प्रभावित होता है। हमे कभी भी किसी की तारीफ़ करने का मौका नहीं छोड़ना चाहिए। जब आप किसी और की सराहना करते है तो लोग आपकी सराहना करने का अवसर कभी नहीं छोड़ते।  व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

अपनी जुबान पर खरे उतरे :

इंसान जुबां का पक्का हो तो वह कोई भी कार्य बड़ी आसानी से कर सकता है। और दुनिया में अगर कुछ पैसे से भी बड़ी चीज है तो वह यह जुबान ही है। आपने एक बार जो बात बोली और आप उससे मुकरते नहीं तो लोग आप पर भरोसा करते हैं। 

 (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

और भरोसा पाना कोई मामूली बात नहीं है। इंसान के व्यक्तित्व में सबसे अहम कोई चीज है तो वह यही है कि आपने कितने लोगों का भरोसा जीता है। आपकी एक जुबान पर क्या हो सकता है यह आपकी क्षमताओं को दर्शाता है। जो व्यक्ति एक सफल व्यक्तित्व का निर्वहन करता होगा उसकी क्षमताओं का विस्तार अधिक होता है।आपकी जुबां ही यह तय करती है कि आपकी हैसियत क्या है। ज़माने में पैसा ही सब कुछ नहीं होता जहा पैसा नहीं चलता जुबान वहां भी चलती है। 

  (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

इसलिए हमेशा याद रखे और सोच समझ कर वादा करें और अगर करते है या कह्ते है तो उसपर खरा उतरने का प्रयास करें। 

खुद को बेहतर दिखाने का प्रयास ना करें :

आप क्या है कितने बेहतर है यह बात आपको किसी को जताने की या बताने की जरुरत कतई नहीं है। आप क्या है यह बात सब समझते है और अगर आप फिर भी सबके सामने खुद के गुण गान करते है तो आप बेवक़ूफ़ो की श्रेणी में आते हैं। लोग आपके मुह पर हा में हा मिला सकते हैं पर असल में आप उनकी नजरो में अपनी अस्मिता गंवा चुके होते हैं।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आप क्या है और क्या कर सकते हैं हमारे आसपास रहने वाले लोग सब जानते हैं। आपको अपनी खुद की तारीफ़ करने की जगह कोई आपकी तारीफ़ करे कुछ ऐसा करने का विचार बनाये। कई बार हम खुद को बेहतर दिखाने के प्रयास में खुद को नीचा दिखाने लगते है और हमे पता भी नहीं लगता। इंसान को आप में दिलचस्पी होगी तो वह स्वयं आपको जानने का प्रयास करेगा आप पहले से उसके सामने अपने गुण गान ना करें।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

देश दुनिया की खबरों से अपडेट रहे :

जब आप को सब पता रहता है तो आप लोगों को जागरूक करने का कार्य करते है और लोग आपको सुन कर प्रभावित होते हैं। आपके पास हर सवाल का जबाब हो ऐसा पूरा प्रयास होना चाहिए। 

  (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

देश दुनिया की सभी घटनाये आपको पता रहती है तो आप बेझिझक होकर सवालों का सामना कर पाते है। और लोगों के बीच अपनी राय जाहिर कर पाते हैं। इससे आपकी जनरल नॉलेज बड़ती है। और आपके जबाब से लोग आकर्षित होते है और वह उसपर भरोसा करते हैं।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

यह आपके व्यक्तित्व को बेहतर छवि प्रदान कराता है। 

अपने कर्तव्यों का पालन ईमानदारी से करें :

आप अपने कर्तव्यों के प्रति कितने ईमानदार है यह आपके व्यक्तित्व को दिखाता है। आपका हर कार्य ईमानदारी से होता है तो लोग आपकी ईमानदारी की सराहना करते है। इस वज़ह से समाज में आपको एक विशेष दर्जा प्राप्त होता है। आपकी बात का असर लोगों पर गहराई से पड़ता है उन्हें आप पर भरोसा होता है। कि यह व्यक्ति गलत नहीं हो सकता। और हमे उनका भरोसा बनाए रखना होता है। 

  (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आपके कर्तव्य के प्रति आपकी ईमानदारी यह दर्शाती है कि आपका व्यक्तित्व कितना महान है। और इससे समाज में आपकी पकड़ मजबूत होती है।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

जब आप अपने कर्तव्य ईमानदारी से कर पाते है तभी लोग आपके ऊपर आसानी से भरोसा कर पाते हैं। 

नयी तकनीकों का इस्तेमाल करना सीखें :

आज के इस आधुनिक युग में टेक्नोलॉजी का विकास इतना ज्यादा हो गया है कि अगर कोई व्यक्ति पुराने ख़यालात का हो तो उसका इस दौर में जीना एक कठिन समस्या बन जाएगा। आपका नयी तकनीकों के लिए जागरूक रहना और उनका ईस्तेमाल करना आपके व्यक्तित्व को एक अलग और आकर्षक पहचान दिलाता है।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आप किसी नयी तकनीक के बारे में बता कर या ईस्तेमाल कर के लोगों को आकर्षित करने में सफल रहते है। 

इसलिए समय के साथ अपडेट रहे। 

चुनौतियों का मुकाबला करें और हार ना माने :

मुफ्त कुछ नहीं मिलता हम सब जानते हैं। और चुनौतियों का मुकाबला करने वाला हार ना मानने वाला व्यक्ति ही सफल व्यक्तित्व का निर्माण करता है। लोगों का नजरिया इंसान के समय के साथ बदलता है जब आप समस्याओ से जुझ रहे होते कोई आपकी ओर आकर्षित नहीं होता पर जब आप सफल बनते है तो सबको यह पता होता है कि वह व्यक्ति कभी अपनी परिस्थियों से नहीं हरा और उसने मुकाबला किया।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

आपके इस स्वभाव की तारीफ़ सब करेगे और लोग आपकी मिसाल पेश करेगे और जिनकी मिसाल पेश की जाती है वह लोग साधारण व्यक्तित्व वाले बिल्कुल नहीं होते। आपका संघर्ष ही आपको मजबूत व्यक्तित्व देता है। 

लोगों से ली हुयी मदद को याद रखें :

मनुष्य एक समाजिक प्राणी है और वह अपने समाज में रहता है। हर व्यक्ति किसी ना किसी से मदद लेता है या उसको मदद मिल जाती है। किसी की मदद लेना कोई बुरी बात नहीं है परंतु आप किसी से मदद लेकर उसको भूल जाए यह इंसान का सबसे बेकार स्वभाव है। ऐसे व्यक्तियों की कोई इज्ज़त नहीं करता।  (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

इतने बड़े जीवन में हर इंसान किसी ना किसी से मदद लेता है। पर हमे उस व्यक्ति को और उस समय को कभी भूलना नहीं चाहिए। बेशक मदद कितनी ही छोटी क्यु ना ली हो पर उसका सत्कार हमेशा बड़ा ही होना चाहिए। 

हमारा मन अगर किसी का शुक्रिया करता है तो इसमे कुछ गलत नहीं बल्कि हमारी अंतरात्मा और ज्यादा पवित्र होती है। ऐसे व्यक्तित्व वाले इंसान को लोग हमेशा अपने सिर से लगाते है और उनकी मदद के लिए कभी पीछे नहीं हटते। 

जीवन में आपके व्यावहारिक संबंध ही आपके लिए विपत्ति के समय आगे आते हैं हमे सबकी मदद करनी चाहिए और लोगों द्वारा की हुयी मदद को हमेशा याद रखना चाहिए।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

दूसरों की बात सुने तब अपनी राय जाहिर करें :

लोगों को उनकी बात कहने का मौक़ा दीजिए। जब आप किसी की बात सुनते हैं तो उस व्यक्ति को एहसास होता कि आप उसको कुछ खास समझते हैं। और जब वह व्यक्ति अपनी बात पूरी कर ले उसके बाद आप अपनी बात सामने रखे इससे आपको दो फ़ायदे होंगे एक तो वह व्यक्ति आपकी बात को ध्यान से समझेगा और दूसरा यह कि वह आप उसके पॉइंट ऑफ व्यू को भी आसानी से समझ पायेगे।  (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

 इससे आप कई बड़े विवादों से बच सकते हैं और समस्याओ का हल आसानी से निकालने में सक्षम होंगे। l

जब आप लोगों की बात को सुनते हैं तो लोग आपसे अपनी बात जरूर कहना चाहेंगे और यह बात आपके व्यक्तित्व का विकास करती है। 

अपनी गलतियां स्वीकार करें और उन्हें सुधारे :

गलतियां सब करते है लेकिन अपनी गलतियों को स्वीकार करना हर व्यक्ति के बस की बात नहीं है। और यही कुछ खास बातें हैं जो आपके व्यक्तित्व को औरों से बेहतर और अलग बनाएगी। सभी जानते हैं कि लोगों से गलतियां होती है हम तो इंसान है भगवानों से भी गलतियां हुयी है परंतु ग़लती को स्वीकार करना और उसका पश्चाताप करना आपको एक सकारत्मक ऊर्जा प्रदान करता है।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

जब आप ऐसा करते है तो लोग आपकी गलतियों को भुला कर आपकी सराहना करते हैं कि वह एक ऐसा व्यक्ति है जिसमें अपने गुनाह कबूल करने की शक्ति है। और ऐसा इंसान कोई मामूली व्यक्ति नहीं होता। वह उच्च कोटि का इंसान माना जाता है। 

क्रोध को नियंत्रित और घमंड का त्याग करें :

क्रोध आपको नकारात्मकता की ओर खींचता है। और घमंड  हमे गुमराह करता है। क्रोध पर नियंत्रण करने से हम खुद के मन को शांत रख पाते हैं। लोग हमारे सामने अपनी बातों को बिना डरे रख पाते हैं। क्रोधी स्वभाव के व्यक्ति से कोई संबंध नहीं रखना चाहता और यह आपके व्यक्तित्व को बहुत खराब प्रदर्शित करता है। 

घमंड इंसान को इतना गुमराह कर देता है कि व्यक्ति यह अंदाजा नहीं लगा पाता कि कब वह समाज में अपनी साख खत्म करता जा रहा है। घमंडी इंसान कभी आंनद अनुभव नहीं कर पाता उसका जीवन सिर्फ तुलनात्मक अध्ययन में ही फंसे हुए गुजर जाती है। ऐसे व्यक्तित्व वाले इंसान को दुनिया साइड में रख कर आगे बढ़ जाती है।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

लोगों की पहुंच खुद तक आसान बनाए :

आपकी पहचान आपके व्यक्तित्व से होती है। लोग आपसे प्रभावित होते हैं और आपसे मिलने का प्रयास करते हैं और जब आप उनसे नहीं मिल पाते किसी भी कारण से तो उसका दोष लोग आपको देंगे। 

इसलिए लोगों को खुद तक पहुंचने दे। जब लोग आपसे मिलकर संतुष्ट होते हैं तो आप उनके लिए खास बन जाते है। एक अच्छे व्यक्तित्व वाले इंसान की यह खासियत है कि वह लोगों के लिए खास होता है। 

  (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

निष्कर्ष :

दुनिया का हर व्यक्ति अपने व्यक्तित्व को आकर्षित बनना चाहता है परंतु इस भू लोक पर कुछ भी मुफ्त नहीं होता। जब आप त्याग करते है उसके फलस्वरुप आपको उसका फल मिलता है। आपकी मेहनत आपके उसूल आपको सबसे बेहतर और मज़बूत व्यक्तित्व प्रदान करते हैं।हमारे संस्कार हमारी समझ और समाज के लिए हमारा समर्पण भाव ही हमारे व्यक्तित्व का विकास करते हैं।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

लोग आपसे आकर्षित तभी होते है जब आप उपलब्धियां प्राप्त कर चुके होते है और लोग आपके जैसा बनना चाहते हैं। इसीलिए अपने व्यक्तित्व को ऊँचा बनाने के लिए हमारे लिए सफलता यों का होना भी काफी महत्वपूर्ण होता है। 

यह दुनिया भेड़ चाल चलती है आपको बस अपने नजरियों को एक नयी दिशा देनी है लोग आपके पीछे लग जायेगे।   (व्यक्तित्व का विकास कैसे करें / BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  )

इंसान के जीवन में हर समय आता है अच्छा भी बुरा भी पर हमारा व्यक्तित्व लोगों को एक नयी दिशा देता है उन समस्याओं से निकलने के लिए और वह आपको महान समझते है। लेख के बारे में अपने राय कमेन्ट करके जरूर बताये। 

धन्यावाद।। 

यह भी पढ़े :दिमाग तेज करने के उपाय ? दिमाग तेज करने के 10 आसान तरीके (top 10 best ways to speed up your brain)

दोस्तों आशा करता हू आपको हमारा यह लेख आकर्षक व्यक्तित्व का विकास कैसे करें | AAKARSAK BYAKTITATB KA VIKAS KAISE KAREIN  |TOP 10 TIPS FOR ATTRACTIVE Personality DEVELOPMENT IN 2021 पसंद आया होगा ।लेख और वेबसाइट से संबंधित सुझाव और शिकायत नीचे दिए कॉमेंट बॉक्स में या हमे मेल करके दर्ज करा सकते हैं। आपके सुझाव हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है कृपया हमे ख़ुद में सुधार करने का मौका आवश्य दे।

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.