दुनिया की 8 सबसे पुरानी झीलें | DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELEआज दुनिया में सिर्फ मुट्ठी भर पुराने तालाब और झीलें रह गयी है। दोस्तों दुनिया की ये झीलें कम से कम 1 मिलियन साल पुरानी है और इनमें से ज्यादातर झीलें 2 मिलियन वर्षों से अधिक पुरानी है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :दुनिया का सबसे पुराना शहर | TOP 15 OLDEST CITY IN THE WORLD (updated 2021)

सूची में शामिल दुनिया की 3 सबसे पुरानी झीलें तो करीब 20 मिलियन पुरानी है। यह झीलें इतनी अधिक पुरानी है कि इंसानों के वज़ूद में आने के पहले से ही पृथ्वी पर स्थित है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :भारत के 10 सबसे शक्तिशाली राजा | BHARAT KE 10 SABSE SHAKTISHALI RAJA | TOP 10 Most powerful king’s of INDIA

दुनिया की सबसे पुरानी झीलें जहा भी स्थित है या जिस भी महाद्वीप पर है यह झीलें वहां की सबसे बड़ी और गहरी झीलें है। और इस सूची में कुछ झीलें ऐसी शामिल है जो दुनिया की सबसे बड़ी झील है। तो आइये आज हम जानते हैं, 

यह भी पढ़े :दुनिया की 11 सबसे शक्तिशाली प्राचीन महिला शासक

DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE (दुनिया की सबसे पुरानी झीलें) :-

  • ज़ायसान झील
  • बैकल झील
  • माराकाइबो झील
  • तांगानिका झील
  • कैस्पियन सागर
  • बिवा झील 
  • टिटिकाका झील
  • मलावी झील

यह भी पढ़े :भारत के 15 गुमनाम स्वतंत्रता सेनानी | UNKNOWN FREEDOM FIGHTERS OF INDIA

1)ज़ायसान झील (Lake Zaysan) 

ज़ायसान दुनिया की सबसे पुरानी झील है। शोधकर्ता मानते है कि ज़ायसान झील करीब करीब क्रेटेशियस काल  से  ही अस्तित्व में है। विशेषज्ञों का मानना है कि यह झील कम से कम 136 मिलियन से 65 वर्ष तक पुरानी है। हालांकि झील की पुख्ता उम्र का पता लगाना मुमकिन नहीं है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :दुनिया की 10 सबसे पुरानी कंपनियां | DUNIYA KI SABSE PURANI COMPANY

बेशक झील की उम्र तय करना कठिन पर किए गए शोध के अनुसार झील का तल यह बताता है कि वह कभी सूखा ही नहीं और इसी कारण से यह साफ़ हो जाता है कि यह झील तक़रीबन 75 वर्ष पुरानी तो है ही। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :दुनिया की 10 सबसे पुरानी कलाएँ | TOP 10 OLDEST ARTS IN THE WORLD

पूर्वी कज़ाकिस्तान में स्थित यह झील वहां के निवासियों के लिए एक प्राकृतिक उपहार है। उनके लिए यह झील जीवन दायीं है क्योंकि उनकी आमदनी झील की मछलियों को पकड़ कर ही होती है।  इस झील में मिलने वाली मुख्य मछलियों में से स्टेरलेट, पाइक, कार्प, स्टर्जन और टैमेन जैसी मछलियों की बहुतायत है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

दुनिया की सबसे पुरानी झील

source: Wikimedia Commons

झील की उम्र :  लगभग 65 मिलियन वर्ष

स्थान: पूर्वी कजाकिस्तान

सतह क्षेत्र: 700 वर्ग मील (1,810 किमी10)

अधिकतम गहराई:  49 फीट (15 मीटर)

आयतन:  12.7 घन मील (53 किमी³)

यह भी पढ़े :दुनिया के 10 सबसे खतरनाक और क्रूर तानाशाह | TOP 10

2. बैकाल झील (Lake Baikal

हालांकि ज़ायसन झील बैकाल झील से  काफी पुरानी मानी जाती है, लेकिन बैकाल झील को हमेशा 25 मिलियन वर्ष पुरानी  दुनिया की सबसे पुरानी झील माना  जाता है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

सबसे पुरानी झील होने के साथ साथ यह झील मात्रा के हिसाब से दुनिया की सबसे गहरी मीठे पानी की झील है। और आश्चर्यजनक बात यह है कि इस झील में – दुनिया के ताजे पानी का लगभग 20% हिस्सा है। 

यह भी पढ़े :दुनिया की 12 सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषाएं

झील एक प्राचीन rift Valley घाटी के रूप में बनी थी , जिसके कारण इसे एक लंबा अर्धचंद्राकार आकार मिल गया ।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

बैकाल झील में पशु पक्षियों और पेड़ पौधों की 2000 से अधिक प्रजातियां पायी जाती है जिनकी बहुतायत झील के आसपास के इलाके में देखने को मिलती है। झील के रख रखाव को और संरक्षण करने के लिए यूनेस्को (UNESCO) द्वारा इसे 1996 में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया था। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :दुनिया का सबसे उपयोगी पेड़ | MOST USEFUL TREE IN THE WORLD

दुनिया की सबसे पुरानी झील

photo source: Flickr

कितनी पुरानी :  25 मिलियन वर्ष

स्थान: दक्षिण साइबेरिया

सतह क्षेत्र:  12,248 वर्ग मील (31,722 किमी)

अधिकतम गहराई:  5,387 फीट (1,642 मीटर)

आयतन:  5, 670 घन मील (23,615.39 किमी³)

यह भी पढ़े :भारत की सबसे अजीबो-गरीब चीजें जो सिर्फ भारत में ही हो सकती है। Top 20

3. माराकाइबो झील (Lake Maracaibo

माराकाइबो झील को दक्षिण अफ्रीका की दुनिया की सबसे बड़ी प्राकृतिक झील माना जाता है। पुरातात्विक महत्व से यह झील करीब 25 से 36 मिलियन बर्ष पुरानी मानी जाती है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

हालांकि इस झील को आम तौर पर एक झील ही कहा जाता है,लेकिन कई स्रोतों में कहा गया है कि माराकाइबो झील को इनलेट कहा जाना चाहिए क्योंकि यह अटलांटिक महासागर से पानी प्राप्त करती है – भूवैज्ञानिक रिकॉर्ड से पता चलता है कि यह प्राचीन काल में एक सच्ची झील थी।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :मानव इतिहास में दुनिया के सबसे खतरनाक युद्ध | DUNIYA KE 12 SABSE KHATARNAK YUDH

झील  जहाजों को एक बड़ा समुद्री रास्ता प्रदान करती है। और झील के आसपास के माराकैबो बेसिन में कच्चे तेल के कई बड़े भंडार हैं, जो इसे दुनिया के सबसे अमीर पेट्रोलियम-उत्पादक क्षेत्रों में से एक बनाता है।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

झील की एक सबसे खास विशेषता सुनकर शायद आपको हैरानी होगी क्योंकि कैटाटुम्बो नदी के मुहाने पर बिजली गिरने की उच्च प्रतिशत है, यह नदी माराकाइबो में ही गिरती है। इसलिए यह जगह दुनिया के किसी भी अन्य स्थान की तुलना में अधिक बिजली पैदा करता है। 

यह भी पढ़े :हिन्दुस्थान की 10 सबसे बड़ी नदियाँ

कितनी पुरानी :  20 – 36 मिलियन वर्ष

स्थान: वेनेज़ुएला

भूतल क्षेत्र:  5,100 वर्ग मील (13,210 किमी)

अधिकतम गहराई:  200 फीट (60 मीटर)

आयतन: 67.17 घन मील (280 किमी³)

यह भी पढ़े :भारत की 15 सबसे सुंदर महिला पत्रकार | TOP 15 HOT INDIAN JOURNALIST

4. तांगानिका झील (Lake Tanganyika

तांगानिका झील क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी मीठे पानी की झील है। यह Baikal झील के बाद दूसरी सबसे गहरी झील मानी जाती है। यही नहीं तांगानिका झील को दुनिया की सबसे लम्बी झील भी माना जाता है।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :2021 में पुरुषों की सबसे आकर्षक हेयर स्टाइल | ल़डकियों को आकर्षित करती है, ये हेयर स्टाइल

झील के किनारे Tanzania और DRC(Democratic Republic of the Congo) एक सीमा निर्धारित करती है। यही नहीं यह झील बुरुंडी और DRC के बीच की सीमा का हिस्सा और तंजानिया और जाम्बिया के बीच की सीमा का हिस्सा भी तय करती है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :दुनिया की 10 ऐसी जगह जहां फोटो खींचना कानूनी अपराध है | 2021

तांगानिका झील में तीन बेसिन है और यह तीनों ही अलग अलग समय से यहां है इसलिए झील की उम्र भी तीन तरह की है। झील का बीच का हिस्सा करीब 9 से 12 मिलियन साल पुराना है। झील का उत्तर वाला हिस्सा 7 से 8 मिलियन वर्ष पुराना है। और झील का दक्षिणी हिस्सा करीब 2 से 4 मिलियन वर्ष पुराना है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :भारत के 10 सबसे शक्तिशाली राजा | BHARAT KE 10 SABSE SHAKTISHALI RAJA | TOP 10 Most powerful king’s of INDIA

झील आयु:  9 – 12 मिलियन वर्ष

स्थान:, बुरुंडी और जाम्बिया,कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य (DRC), तंजानिया 

सतह क्षेत्र:  12,700 वर्ग मील (32,900 किमी)

अधिकतम गहराई:  4,820 फीट (1,470 मीटर)

आयतन:  4,500 घन मील (18,900 किमी³)

यह भी पढ़े :दुनिया के 10 सबसे प्रसिद्ध व्यक्ति | DUNIYA KE SABSE PRASIDH VYAKTI

5. कैस्पियन सागर (Caspian Sea) 

कैस्पियन सागर पानी का जमीन पर(अंतर्देशीय) (किसी देश के भीतर) सबसे बड़ा स्रोत है। और यही कारण है कि यह दुनिया की सबसे बड़ी अंतर्देशीय झील है। 

बेशक यह मीठे पानी वाली झील नहीं है और इसलिए इसकी salinity(लवणता) 1.2% है। वैज्ञानिकों का मानना है कि यह झील असल में प्राचीन पैराटेथिस सागर का अवशेष है और लगभग 5.5 मिलियन वर्ष पहले लैंडलॉक (चारो ओर से जमीन से घिर गया) हो गया था।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :उपवास रखने के फायदे | TOP 10 BENEFITS OF FASTING

यह एक ऐसी झील है जिसमें समुद्र और झील दोनों की ही विशेषता है। यह एक एंडोरेइक बेसिन है क्योंकि इसमें वाष्पीकरण के अलावा कोई प्राकृतिक बहिर्वाह नहीं है।

बीते समय के साथ पृथ्वी की बड़ती गर्मी से झील से अत्यधिक वाष्पीकरण हो रहा है। अत्यधिक वाष्पीकरण से पुराने समय के जलस्तर की तुलना में अब इसका जलस्तर कम होता जा रहा है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

शोधकर्ताओं का अनुमान है कि 1970 के दशक में  झील अपने ऐतिहासिक निचले स्तर से नीचे गिर जाएगी। 

यह भी पढ़े :दुनिया का सबसे उपयोगी पेड़ | MOST USEFUL TREE IN THE WORLD

दुनिया की सबसे पुरानी झील

photo source: Wikimedia Commons

झील की आयु:  5.5 मिलियन वर्ष

स्थान: यूरोप और एशिया के बीच;  उत्तर में कजाकिस्तान, उत्तर पश्चिम में रूस, पश्चिम में अजरबैजान, दक्षिण में ईरान और दक्षिण-पूर्व में तुर्कमेनिस्तान

सतह क्षेत्र: 143,200 वर्ग मील (371,000 किमी²)

अधिकतम गहराई:  3,360 फीट (1,025 मीटर)

आयतन:  18,800 घन मील (78,200 किमी³) 

यह भी पढ़े :TOP 20 | दुनिया के सबसे जहरीले जानवर | DUNIYA KE SABSE JEHRILE JANWAR

6. बिवा झील ( Lake Biwa) 

जापान की सबसे बड़ी और मीठे पानी की बिवा झील दुनिया की सबसे पुरानी झीलों में से एक है। शोधकर्ताओं के मुताबिक यह झील करीब 4 मिलियन साल पुरानी है ।

झील जापान की पूर्व राजधानी क्योटो के उत्तर-पश्चिम में शिंगा प्रान्त में स्थित है।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

झील की उम्र और क्योटो शहर की निकटता के कारण, जापानी ऎतिहासिक  साहित्य में झील बिवा को अक्सर  संदर्भित किया जाता है, खासकर कविताओं और लड़ाई के ऐतिहासिक खातों में। 

यह भी पढ़े :नोटों पर गाँधी जी की फोटो क्यूँ छापी जाती है? | Note par Gandhi ji ki photo kyu chapi jati hai? (Top 10 regions)

झील का मीठा पानी पशु पक्षियों और खासकर मछलियों के लिए अच्छा प्रजनन स्थल है। झील मीठे पानी की मछलियों के लिए एक बड़ा प्रजनन स्थल है, जिसमें ट्राउट मछली मुख्य है। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

पानी के पक्षियों के लिए भी यह झील एक महत्वपूर्ण स्थान रखती है – लगभग 5,000 जल पक्षी हर साल बिवा झील का दौरा करते हैं। यह झील जापान के मोती और कपड़ा उद्योग में भी समर्थन करता है। 

यह भी पढ़े :वैज्ञानिकों द्वारा किए गए दुनिया के सबसे महंगे प्रयोग | DUNIYA KE 10 SABSE MEHNGE EXPERIMENTS

DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE

photo source: Wikimedia Commons

आयु:  4 मिलियन वर्ष

स्थान: जापान

सतह क्षेत्र:  258.8 वर्ग मील (670.3 किमी²)

अधिकतम गहराई:  341 फीट (104 मीटर)

आयतन: 6.6 घन मील (27.5 किमी³)

यह भी पढ़े :दुनिया के 10 सबसे गर्म स्थान | इन जगहों पर रहता है, पृथ्वी का सबसे ज्यादा तापमान | 2021

7. टिटिकाका झील (Lake Titicaca) 

12,500 फीट (3,810 मीटर) की ऊंचाई पर, टिटिकाका झील बड़े जहाजों के लिए दुनिया की सबसे ऊंची झील है औ इस झील को अक्सर दक्षिण अमेरिका की सबसे बड़ी झील माना जाता है ( क्योंकि कई लोग माराकाइबो झील को एक सच्ची झील नहीं मानते हैं)।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

हालाँकि झील कितनी पुरानी यह पता लगाना मुश्किल है, लेकिन UNESCO के अनुसार, टिटिकाका झील लगभग 3 मिलियन वर्ष पुरानी है।

टिटिकाका झील का एक समृद्ध सांस्कृतिक इतिहास है और इंका सभ्यता का मानना ​​​​था कि इसी झील से इंका सभ्यता पहली बार शुरू हुई थी। (DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह वास्तव में पेरू की प्राचीन सभ्यताओं का घर था क्योंकि इसे पहली बार दूसरी सहस्राब्दी ईसा पूर्व के मध्य में बसाया गया था।

DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE

photo source: Flickr

झील की आयु:  3 मिलियन वर्ष

स्थान: बोलीविया और पेरू की सीमा पर

सतह क्षेत्र:  3,232 वर्ग मील (8,372 किमी)

अधिकतम गहराई: 922 फीट (281 मीटर)

आयतन:  214 घन मील (893 किमी³)

यह भी पढ़े :वैज्ञानिकों के अनुसार पृथ्वी का नाम पृथ्वी किसने रखा ? | 2021

8. मलावी झील (Lake Malawi) 

मलावी झील ( को तंजानिया में न्यासा झील और मोजाम्बिक में लागो नियासा भी कहा जाता है) दुनिया की नौवीं सबसे बड़ी झील है और पूर्वी अफ्रीका की पूर्वी रिफ्ट घाटी झीलों की तीसरी सबसे बड़ी झील है।

यह भी पढ़े :दुनिया का सबसे पुराना शहर | TOP 15 OLDEST CITY IN THE WORLD (updated 2021)

मलावी झील में दुनिया की किसी भी अन्य झील की तुलना में मछलियों की काफी अधिक  प्रजातियाँ हैं, जिनमें से कई स्थानीय प्रजातियां भी शामिल हैं – झील में  मछलियों की कम से कम 700  से अधिक विभिन्न प्रजातियाँ हैं।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

यह भी पढ़े :भारतीय इतिहास की 10 सबसे शक्तिशाली रानियाँ। bhartiya itihas ki 10 SABSE SHAKTISHALI RANIYA

झील का अधिकांश हिस्सा संरक्षित किया गया है – मोज़ाम्बिक भाग को आधिकारिक तौर पर 2011 में वहां की स्थानीय सरकार के द्वारा आरक्षित घोषित किया गया था झील का मलावी भाग मलावी राष्ट्रीय उद्यान झील का हिस्सा है, झील को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल घोषित किया गया है।(DUNIYA KI SABSE PURANI JHEELE) 

आयु:  1 – 2 मिलियन वर्ष

स्थान: मलावी, मोज़ाम्बिक और तंजानिया के बीच स्थित

सतह क्षेत्र:  11,400 वर्ग मील (29,600 किमी²)

अधिकतम गहराई:  2,316 फीट (706 मीटर)

आयतन:  2,000 घन मील (8,400 किमी³)

यह भी पढ़े :दुनिया की 10 सबसे खतरनाक जानलेवा बीमारियाँ | SABSE KHATARNAK BIMARIYAN | 2021

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.