बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके How To deal a bad day | एक बुरा दिन हमारे जीवन के हिस्से की तरह होते है, पर फिर भी यह बुरे दिन कभी कभी हमे पूरी तरह तोड़ने के लिए काफी होते हैं। अमेरिका में हुए कई प्रकार के शोध बताते है कि एक बुरा दिन किस प्रकार इंसानों को आत्महत्या करने के लिए उकसा देता है।

 आकड़े बताते है कि आत्महत्या करने वाले कुल लोगों में से 75% लोगों के मरने की वज़ह एक बुरा दिन ही था।  

एक बुरा दिन हकीकत में कितना बुरा हो सकता है, इस बारे में आप थोड़ा कम अंदाजा लगा पाते हैं। आपकी मेहनत के बाद जब आपको सफलता या सराहना नहीं मिलती वह दिन आपके लिए अपने आप एक बुरा दिन बन जाता है। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

हमारा जीवन  तो उतार चढ़ाव से भरा हुआ है ही, पर हम अपने अच्छे बुरे दिनों को नजर अंदाज नहीं कर सकते हर एक या दो दिन के बाद एक बुरा दिन आता ही है जो आपकी संतुष्टि के लायक नहीं होता। 

इसमे कोई दो राय नहीं कि आपकी जिंदगी के यह बुरे दिन कभी कभी आपको अंदर से इतना झिंझोड देते है कि आपके भीतर नकारात्मक ऊर्जा का उल्टा प्रभाव होने लगता है जो आपकी बनी बनाई सफलता को भी मिट्टी में मिलाने का काम करती है। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

पर आपको अब अधिक चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि एक लंबे जीवन को जी चुके कुछ ऐसे लोगों के विचार है – जो आपके जीवन को बेहतर और आसान बनाकर आपके भीतर सकारात्मकता का संचार कर देते है। 

“हम आपको कुछ ऐसी चुनिंदा किताबों के बारे में बतायेंगे जिनको पढ़कर दुनिया भर के लोगों ने अपने जीवन को बदला है और अब आपकी बारी है। किताबों को आप लेख के अंत में दी गई लिंक पर क्लिक करके खरीद सकते हैं।” 

एक बुरा दिन कभी कभी बिस्तर से उठने से ही बुरा होने लगता है, पर यह सच नहीं है, हमारे मन की अस्थिरता इसके लिए जिम्मेदार होती हैं। बहरहाल आपके बुरे दिन को एक अच्छा दिन बनाने के लिए हमारे पास पर्याप्त प्रभावी तरीके है : जो आपके एक बुरे दिन को ” आपका एक बहुत अच्छा दिन बना सकते हैं” 

1. कही बाहर निकले 

सबसे पहले तो आपको अपनी जिम्मेदारियों का बोझ उतार कर एक बार ये सोचना है कि जिंदगी काम के लिए है या काम जिंदगी के लिए? इस सवाल का उत्तर मिलने के उपरांत आपको एक विचार अपने मन में और करना है कि यदि आप खुद को, खुशी रखते है तो ही आप अपने काम को बेहतर तरह से कर पाते है ।

आपके लिए आपके मन को हल्का करना सबसे जरुरी काम है, क्योंकि आपके सारे काम आपसे ही जुड़े हुए हैं। आपका खराब मूड किस तरह से आपके काम को बर्बाद कर सकता है, इस बात का अंदाजा आपसे बेहतर कौन लगा पाएगा। 

तो सारी बातों को एक तरफ रखकर बाहर निकल जाए भले ही कुछ देर के लिए ही सही। 

जब आपकी आँखे कुछ नया देखती है तो आपके दिमाग के रक्त संचारण में तेजी आती है, जिससे आपके दिमाग से, आपको खुशी पहचाने वाले हार्मोन का रिसाव होता है। इसके बाद आप वापस से पूरी ऊर्जा जुटा कर, खुद को बेहतर तरह से काम पर लगा सकते है। (बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

तो हो गया ना आपका बुरा दिन अच्छा? 

2. आँखों को बंद करके लंबी साँसे लीजिए 

लंबी साँसों का राज आपके शरीर के संपूर्ण स्वास्थ्य से है। आपकी जिंदगी को चलाने के लिए यदि कुछ सबसे जरुरी और महत्वपूर्ण चीज़ है तो वह आपकी साँसें ही है।बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

 किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि यदि आप आँखे बंद करके लंबी गहरी साँस लेते है तो आप अपनी नकारत्मकता से भरी हुयी सोच को सकारात्मक कर सकते हैं। 

जब आपकी आँखे बंद होती है, उस समय आपके मस्तिष्क की सबसे उपरी इंद्री पर जोर पढ़ना बिल्कुल खत्म हो जाता है, जिससे आपका तनाव छू मन्तर हो जाता है। 

प्राचीन और वैदिक काल  से चली आ रही सभ्यताओं में साँसों के माध्यम से शरीर के हर रोग हो सही करने की तमाम तकनीक बताई गई है।बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

लेकिन दुर्भाग्य से आज के पैसे के भूखे भेड़िये इस ग्यान को मिटाने का पूरा प्रयास करते आए है और आज भी इस तरह के शोध करने के लिए सरकार अनुमति नहीं देती। 

यदि सरकार इस तरह के शोध करवाएगी तो आज कमाई मेडिकल सेक्टर से हो रहीं है वह पूरी तरह बंद हो जाएगी। और ये पैसे के और सत्ता के भूखे लोग ऐसा करने क्यों देंगे। 

कुल मिलाकर आपको अपनी साँसों को समझना चाहिए, आप अपनी साँसों के दम से काफी कुछ बदल सकते हैं। फ़िलहाल आपका मूड और दिन ठीक करने के लिए आँख बंद करके आपकी लंबी उमर गहरी साँस उपयोगी सिद्ध होगी। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

3. मन में जो भी है, उसे एक पन्ने पर उतार दीजिए 

लिखना क्या है? और लिखने की शक्ति क्या है? यह बात सिर्फ एक लिखने वाला व्यक्ति ही समझ सकता है। यदि आप एक ऐसे व्यक्ति है, जिसमें कभी अपने जीवन के बारे में एक लाइन भी नहीं लिखी तो यही मौक़ा है। 

आपको अपने मन की बात अपने सबसे बफादार साथी अपनी डायरी से करनी है। ज़ाहिर है आप लिखना पसंद नहीं करते होंगे तभी आपने अभी तक नहीं लिखा। आपके पास एक पर्सनल डायरी भी नहीं है। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

लेकिन यदि आप चाहते है, कि आपका बुरा दिन अच्छा हो जाए तो फिर आपको यह करना ही होगा। जब आप अपनी डायरी में अपने मन की सारी व्यथाओं को उतार देते है। 

उसके बाद आपको जो शांति और स्थिरता और सुकून का अनुभव होता है उस अनुभव को महसूस करने के लिए आपको पहले एक डायरी अपने तरह की डायरी लेनी होगी। 

जो हम आपको नीचे नीचे लिंक देकर उपलब्ध करा देंगे उसके बाद आपको बस लिखना है और देखना है कि आपका बुरा दिन किस तरह एक अच्छे दिन में बदल जाता है। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

चुनी हुई कुछ खास डायरी लेने के लिए यहा क्लिक कीजिए…. 

लेखकों के लिए 10 सर्वश्रेष्ठ डायरी | TOP 10 Best Dairies For Writers

4. अपने पुराने मित्र का हाल चाल पूछे 

आपका अतीत चाहें जैसा हो पर आपकी जिंदगी में एक पुराना दोस्त ऐसा जरूर होता है जिसे आप एक फोन कॉल करके थोड़ी टांग खींच सके। अपने दिन को अच्छा बनाने का यह तरीका काफी प्रभावी और उपयोगी है। 

आप याद करोगे तो समझ आता है कि उस समय जब आप साथ थे तो कितनी भी समस्याओं के बाद भी आप एक दूसरे के साथ खुश रहते थे। आज का दिन खराब रहा होगा तो क्या हुआ आप अपने दोस्त को गालियाँ देकर अपनी गुस्सा निकाल ही सकते हैं। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

जब आप अपने किसी करीबी दोस्त भाई या ऐसा कोई भी जो आपका खास और करीबी रहा हो उससे बात करते है तो आपके अंदर का रक्तप्रवाह अपनी रफ्तार बदलता है। जिसका सीधा असर आपके मस्तिष्क पर होता है। इस तरह से आप बेहतर महसूस करने लगते है बल्कि काफी अच्छा महसूस करने लगते हैं। 

5. किसी की भी जिंदगी पूरी तरह ठीक नहीं है 

जीवन एक जंग है और जिन्दगी की यह जंग हर इंसान के लिए लगभग बराबर ही है चाहे वह आपका बॉस ही क्यों ना हो।

 आपको लगता है कि उसकी जिन्दगी बड़ी अच्छी है, उसको तो कुछ काम भी नहीं करना पड़ता और पैसे मिल जाते हैं। पर आप सिर्फ एक पहलू से ऐसा सोचते हैं। आप किसी इंसान के दर्द को नहीं समझ सकते।

 कई बार ऐसे दर्द होते है, जिन्हें दोस्तों से भी नहीं बताया जा सकता और ऐसे कई राज और दर्द आपके पास भी होंगे जो आजतक आपके शिवा कोई नहीं जानता।

 कहने का तात्पर्य यह है कि हर इंसान के पास कुछ ना कुछ रोना धोना है बस हमे सिर्फ अपना ही दिखता है इसलिए हम इतना विचलित हो जाते हैं। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

आपको यह सोचना चाहिए कि जिंदगी है तो दर्द और दवा दोनों ही मिलेगी। सुख और दुख दोनों ही मिलेगे। यदि आपका आज का दिन बुरा चला भी गया तो यह इस बात की पुष्टि करके गया है कि अब आने वाले दिनों में आपके लिए खुश ख़बरी ही होगी। बुरे दिन से निपटने के 5 सफल तरीके )

दुख आना ही सुख आने की निशानी होती है। यदि आप आज दुखी है तो आप भाग्यवान है क्योंकि आपकी अगली बारी खुस होने की है। जो लोग सुखी है उन्हें हमेशा ही आने वाले दुखों के लिए तैयार रहना चाहिए। 

यह भी पढ़े :

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.