खीरा खाने के फायदे

Khira khane ke Fayde | हम चाहे तो खीरे को किसी भी तरह खा सकते हैं और हमे खाना भी चाहिए । खीरा पोषकता से भरपूर है। खीरा और सलाद का रिश्ता साल पुराना है। सलाद के साथ खीरा खाने के पीछे हमारे पूर्वजों की बड़ी जानकारी थी। खीरा हमारे स्वास्थ्य के लिए एक कवच की तरह कार्य करता है। 

खीरा सब्जी के साथ ही साथ फल की श्रेणी में भी आता है।  हालांकि वैज्ञानिक दृष्टी से खीरा एक फल ही है और यह  स्क्वैश, तरबूज और कद्दू के कुकुर्बिटासी परिवार के समान पौधे परिवार से आता है।

यह भी पढ़े :पेशाब में जलन और दर्द के कारण और उपचार | Dysuria Treatment

आश्चर्य से खीरे लंबे और पतले होते हैं,और यह कई रंगों में मिल जाते  हैं। खीरे में पाए जाने वाला एल्डिहाइड इसे  एक अलग तरह का हल्के तरबूज जैसा स्वाद और खुशबु देता है। खीरे के छिलके की कड़वाहट इसमें मौजूद कुकुर्बिटासिन के कारण होती है।(Khira khane ke Fayde) 

खीरा लाभकारी पोषक तत्वों के साथ-साथ इस पौधे में पाए जाने वाले कुछ जरुरी पदार्थ और एंटीऑक्सिडेंट की मात्रा में अधिक होता  है। इसलिए खीरा आपके इलाज में मदद कर सकता हैं और कुछ बीमारी वाली स्थितियों को आने से पहले ही रोकने में सक्षम है। 

इसके अतिरिक्त , खीरे में बहुत कम कैलोरी होती है तो इस तरह से वजन कम करने के लिए यह एक स्वस्थ आहार बन जाता है। खीरे में काफी अच्छी मात्रा में पानी और घुलनशील फाइबर पाए जाते हैं, जो आपके शरीर के हाइड्रेशन को बढ़ावा देने के लिए खीरे को आदर्श बनाते हैं। 

यह लेख खीरा खाने से होने वाले कुछ शीर्ष स्वास्थ्य लाभों पर करीबी से नज़र डालता है।(Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :नशा (हैंगओवर) उतारने के उपाय | Nasha (Hangover) Utarne Ke Upay 2021

Table of Contents

खीरे की खेती का इतिहास

खीरे की पहली खेती कम से कम 3000 साल पहले से भारत में की गयी थी और कहा जा सकता है कि खीरे का इतिहास पूरी तरह भारत के भीतर ही है, जहां खीरे के निकटतम जीवित रिश्तेदार कुकुमिस हिस्ट्रिक्स के साथ-साथ खीरे की कई किस्मों को देखा गया है। 

इसके बाद संभवतः खीरे को यूनानियों या रोमनों द्वारा यूरोप के अन्य हिस्सों में ले जाया गया था।  ककड़ी की खेती के रिकॉर्ड 9वीं शताब्दी में फ्रांस में, 14वीं शताब्दी में इंग्लैंड में और 16वीं शताब्दी के मध्य तक उत्तरी अमेरिका में दिखाई देते हैं।

खीरा स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद क्यों है? 

सबसे पहले खीरे के बारे में आप यह जान ले की यह फल पोषक तत्वों में काफी उच्च है। 

खीरे में कम कैलोरी होने के साथ साथ कई महत्वपूर्ण विटामिन और खनिजों भी उच्चतम मात्रा में पाए जाते हैं ।

एक 300 ग्राम के छिले हुए कच्चे खीरे में, निम्नलिखित यौगिक होते हैं : RDI =(Recommended Dietary Intake)

  •  कैलोरी: 45
  •  फैट : 0 ग्राम
  •  कार्ब्स: 11 ग्राम
  •  प्रोटीन: 2 ग्राम
  •  फाइबर: 2 ग्राम
  •  विटामिन c:  का 14%
  •  विटामिन K: RDI का 62%
  •  मैग्नीशियम: RDI का 10% 10%
  •  पोटेशियम: RDI का 13%
  •  मैंगनीज: RDI का 12%

एक छोटे से खीरे में पोषक तत्वो की मात्रा कम हो सकती है। हालांकि, एक नॉर्मल size का खीरा आप खाते है तो आपको दिए गए पोषकता चार्ट में से उसका एक तिहाई पोषण मिल जाता है जो कि आपके स्वास्थ्य के लिए एक महत्वपूर्ण खुराक है। (Khira khane ke Fayde) 

यदि आपको पानी की कमी जल्दी हो जाती है तो खीरे को खाना आपके लिए अमृत के समान है, क्योंकि खीरे का 96% हिस्सा पानी से ही बनता है। (विश्वसनीय स्रोत)

यदि आप खीरे की पूरी पोषकता ग्रहण करना चाहते है तो आपको खीरे को छिलके के साथ ही खाना चाहिए। यदि आप खीरे को छील कर खाते है तो इसके छिलके के साथ उनमें पाए जाने वाला फाइबर और कुछ विटामिन और Mineral बाहर ही रह जाते है जिससे आपको खीरे की पूरी पोषकता नहीं मिल पाती। (Khira khane ke Fayde) 

 सारांश :

खाने के लिए ताजे खीरे हमारे लिए काफी स्वास्थ्यवर्धक होते हैं। खीरे कैलोरी में कम लेकिन पानी और कई महत्वपूर्ण विटामिन और खनिजों में उच्च होते हैं इसलिए  खीरे को छिलके सहित खाने से  आप खीरे का अधिकतम लाभ उठा सकते हैं ।

खीरे में पाए जाने वाले खनिज, electrolyte, और vitamin – 

पोषक तत्व मात्रा 
Water95.23g
Calories15kcal
Carbohydrates3.63g
Protein0.65g
Fiber0.5g
Fat0.11g
Sugars1.67g
VITAMINS
Vitamin C2.8mg
Thiamine (Vit B1)0.027mg
Riboflavin (Vit B2)0.033mg
Niacin0.098mg
Vitamin E (alpha-tocopherol)0.03mg
Pantothenic acid0.259mg
Pyridoxine (Vit B6)0.04mg
Folate7mcg
Alpha-carotene11mcg
Beta-carotene45mcg
Vitamin A105IU
Vitamin K16.4mcg
ELECTROLYTES
Potassium147mg
Sodium2mg
खनिज 
Calcium16mg
Iron0.28mg
Magnesium13mg
Zinc0.2mg
Phosphorus24mg
Copper0.041mg
Zinc0.2mg
Manganese0.079mg
Selenium0.3mcg
Fluoride1.3mcg

खीरा खाने के फायदे – 

खीरा पानी की पूर्ति और शरीर के toxic waste को बाहर निकालने के लिए सर्वश्रेष्ठ – 

जैसा कि आप जानते ही हैं खीरे में 96 प्रतिशत पानी होता है। खीरे को खाने से आपके शरीर की पानी की दैनिक आवश्यकता बढ़ जाती है, जिससे हमारा शरीर पूरी तरह हाइड्रेटेड रहता हैं। (Khira khane ke Fayde) 

गर्मियों के दौरान हमे खासकर खीरे का सेवन करना चाहिए, जब हम बहुत आसानी से निर्जलित (पानी की कमी) हो जाते हैं।  खीरा एक ठंडक पहुचाने वाले शीतलक के रूप में भी काम करता है, जिससे हमें गर्मी में पड़ने वाली गर्मी से राहत मिलती है।

खीरे और पुदीने को मिलकार कुछ खाने योग्य चीज बनाए यह आपके शरीर से डिटॉक्स पानी शरीर से जहरीले पदार्थों को प्रभावी ढंग से खत्म करता है। 

खीरा हमारी बॉडी के जलयोजन में सुधार करता है।  इस प्रकार से हम खीरे का सेवन करके खीरे के असंख्य स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकते है।(Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :प्रेगनेंसी में अखरोट खाने के 10 फायदे | Pregnancy Me Akhrot Khane Ke Fayde

खीरे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं – 

Antioxidants ऐसे (अणु) molecule होते है जो हमारे शरीर में ऑक्सीकरण को रोकते है । हमारे शरीर में कुछ ऐसे फ्री इलेक्ट्रान होते है जिनके साथ oxygen के molecule रिएक्शन करके एक व्यापक परमाणु बनाती है जिसे हम Radicals के नाम से जानते हैं। शरीर में उत्पन हुये यह रैडिकल, हमारे शरीर के लिए बेहद हानिकारक हो सकते है। (Khira khane ke Fayde) 

बॉडी में इस तरह की स्थिति बनने से आपको कोई गंभीर बीमारी हो सकती है। वास्तव में, मुक्त फ्री रैडिकल के कारण होने वाली मुख्य समस्याओं में :

  • ऑक्सीडेटिव तनाव
  • कैंसर 
  • हृदय रोग 
  • फेफड़े से संबंधित बीमारियाँ 
  • कई तरह ऑटोइम्यून बीमारियाँ 

सब्जियों और फलों में खासकर खीरे में पाए जाने वाले antioxidants आपको इस तरह की सभी बीमारियों से लड़ने में सक्षम करते है और पीड़ित होने से बचाते भी है। 

30 लोगों पर किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि जिन्हें लगातार खीरे का सेवन कराया गया उनके भीतर Antioxidants का स्तर उन लोगों से काफी ज्यादा था जिन्हें खीरे का सेवन नहीं कराया गया था। (विश्वसनीय स्त्रोत

शोध के दौरान खीरे को नियमित रूप से मरीजों को दिया गया था।  हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि इस अध्ययन में इस्तेमाल किए गए खीरे के पाउडर में एंटीऑक्सिडेंट की अधिक मात्रा होने की संभावना है, जितना कि आप नॉर्मल खीरा खाते हैं। (Khira khane ke Fayde) 

इसी प्रकार के एक और टेस्ट ट्यूब शोध में पाया कि खीरे के अंदर मुख्य Antioxidants फ्लेवोनोइड्स और टैनिन होते हैं। यह Antioxidants हमारी बॉडी में फ्री रैडिकल को रोकने के लिए सहायक होते हैं। 

सारांश – 

खीरे में पाए जाने वाले फ्लेवोनोइड्स और टैनिन एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जो हानिकारक फ्री रैडिकल के संचय को रोकते हैं और पुरानी बीमारी के जोखिम को कम कर सकते हैं।(Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण | Eyestrain and Headache | 2021

खीरा पेट के पाचन के लिए फायदेमंद :

खीरा हमारे पेट को ठंडा रखने के लिए एक शीतलक के रूप में काम करता है। खीरे में पाए जाने वाले घुलनशील फाइबर हमारे पाचन को धीमा करके पाचन को बेहतर बनाने में मदद करता है।

खीरा पानी का उच्च स्रोत है, पानी की उच्च मात्रा हमारे मल को नरम बनाती है, कब्ज से बचाती है और हमारे मल त्याग को नियमित और सहज रखती है।(Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :डार्क सर्कल हटाने के 20 आयुर्वेदिक और मेडिकल उपाय | Dark Circle Hatane Ke Upay

ब्लड शुगर कम करने में सहायक है, खीरे – 

खीरा ब्लड शुगर को कम करने के लिए जाने जाते हैं, इस तरह से खीरे मधुमेह मेलेटस के प्रबंधन और रोकथाम में मददगार होते हैं।

खीरा खाए शानदार चमकती हुयी नाजुक त्वचा :

खीरा आपकी त्वचा की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए काफी उपयोगी फल है। वे आपकी त्वचा पर अद्भुत प्रभाव दिखाते हैं।

अपनी त्वचा को मुलायम और साफ बनाने के लिए खीरे के रस को लगाए। खीरे के एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव प्राकृतिक रूप से हमारी त्वचा को हल्का और साफ करते हैं और त्वचा की टैनिंग को कम करते हैं। (Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :भारत में महिलाओं के स्वस्थ बालो के लिए टॉप बेस्ट 9 शैंपू (Shampoo) | TOP BEST HEALTHY HAIR SHAMPOO IN INDIA | 2021

नियमितता को बढ़ावा देता है – 

खीरा खाने से आप पेट से संबंधित सभी समस्याओं में आराम पहुंचाता है। खीरे खासकर आपके नियमित मल त्याग में काफी मदद करते  है।

पानी की कमी की वजह से कब्ज जैसी समस्या होने के  प्रमुख जोखिम रहते  है, क्योंकि यह  पानी से भरपूर है तो यह आपको कब्ज से राहत दिलाता है।

 खीरे में पानी की मात्रा अधिक होती है इसलिए आपके हाइड्रेटेड रहने से मल की स्थिरता में सुधार हो सकता है, और कब्ज को रोका जा सकता है। इस तरह से खीरा आपकी नियमितता बनाए रखने में मदद करता है।(Khira khane ke Fayde) 

खीरे में छिलके में और खीरे में काफी फाइबर होते हैं इसके , जो आपके मल त्याग को नियंत्रित करने में मदद करते है।

पेक्टिन, खीरे में पाए जाने वाले विशेष, घुलनशील फाइबर का प्रकार है। यह मल त्याग की आवृत्ति को बढ़ाने में मदद कर सकता है।(Khira khane ke Fayde) 

एक अध्ययन में 80 लोगों को ऐसे खाद्य पदार्थ खिलाए गए जिनमे पेक्टिन होता है। और बाद में पाया गया कि pectin आपकी आंतों की मांसपेशियों की गति को तेज कर देता है और , आंत में पाए जाने वाले सभी लाभकारी बैक्टीरिया में बढ़त की जिससे पाचन स्वास्थ्य में सुधार आया। (विश्वसनीय स्रोत )

 सारांश:

खीरे में उच्च मात्रा में फाइबर और पानी होता है, यह दोनों ही आपके पेट में कब्ज को रोकने और नियमितता बढ़ाने में कारगर सिद्ध होते हैं ।

खीरे कैंसर के खतरे को कम करते है-

खीरे में पाए जाने वाले फाइबर आपको कोलोरेक्टल कैंसर से बचाते है।  इसके साथ ही शोध में पाया गया कि खीरे में पाए जाने वाला कुकुर्बिटासिन पदार्थ में कैंसर रोधी गुण होते हैं।(Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :पुदीना के 17 स्वास्थ्य फायदे | Pudina ke Fayde | BENEFITS OF MINT

खीरा बालों और नाखूनों के लिए अच्छा – 

खीरे में कुछ मात्रा में सिलिका पाया गया है और यह आपके बालो और नाखूनों की देखभाल के लिए बहुत उपयोगी यौगिक होता है।  यह आपके  नाखूनों और बालो को मजबूत बनाने में मदद करता हैं। 

खीरा मुहं की और सांसों की दुर्गंध को रोकता है – 

खीरे में पाए जाने वाले फाइटोकेमिकल्स  मुंह में पाए जाने वाले बैक्टीरिया को नष्ट करते हैं जो हमारी सांसों और मुहं की दुर्गंध का कारण बनते हैं।

यह भी पढ़े :घर के अंदर गमले में उगाने के लिए 4 स्वस्थ जड़ी बूटियां | 4 HEALTHY HERBS FOR KITCHEN GARDEN

खीरा खाए वजन घटाए :

Khira khane ke Fayde

पानी एक ऐसा तत्व है जो खीरे को एक ऐसा खाद्य पदार्थ बनाता है जो वजन कम करने में सहायक होता है। खीरे में 96 प्रतिशत पानी होता है और इसीलिए यह कैलोरी में भी कम होता है। (Khira khane ke Fayde) 

100 ग्राम खीरे में मात्र 15.5 कैलोरी होती है। खीरे में उच्च पानी और कम कैलोरी हमारे वजन को कम करने में मदद करती है।

खीरा ब्लड प्रेशर को संतुलित रखता है – 

खीरे मैग्नीशियम, पोटेशियम, और कई तरह के खनिजों से भरपूर आहार फाइबर का एक अच्छा स्रोत हैं।  खीरे में पाए जाने वाले यह पोषक तत्व ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए जाने जाते हैं, इस प्रकार खीरा हृदय रोगों के जोखिम को कम करता हैं।(Khira khane ke Fayde) 

यह भी पढ़े :कब्ज ठीक करने के 13 घरेलू उपचार | Natural Constipation Home Remedies

वैज्ञानिकों द्वारा किए गए एक अध्ययन में साबित हुआ है कि बुजुर्ग लोग जिनका ब्लड प्रेशर हाई रहता है उन्हें खीरे के रस का नियमित सेवन हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक होता है ।

2) हड्डियों को मजबूत करने में सहायक 

Khira khane ke Fayde

हमारी हड्डियों को मजबूत करने के खीरे में पाए जाने वाली विटामिन K मदद करती है। 

USA  के कृषि विभाग (USDA) के अनुसार, कटा हुआ, बिना छिलके वाला, कच्चा खीरा 10.2 माइक्रोग्राम (MCG) विटामिन K प्रदान करता है। (Khira khane ke Fayde) 

VITAMIN K कैल्शियम को सोखने में सुधार करने में मदद करती है।  साथ में, विटामिन K  हड्डियों के अच्छे स्वास्थ्य में योगदान कर करती हैं।

हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए भी विटामिन D भी महत्वपूर्ण होती है।  

यह भी पढ़े :आम खाने के फायदे | विज्ञान के आधार पर TOP 10 BENEFITS OF EATING MANGO

खीरा खाने के नुकसान – 

खीरे के ज्यादा सेवन से कुछ लोगों में पेट फूलने और पेट और पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

  • ऐसे लोग जिन्हें किडनी की कोई समस्या है उन्हें खीरे का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ज्यादा खीरा खाने से उनके शरीर में पानी और पोटेशियम की मात्रा बढ़ सकती है, जो उनके लिए काफी हानिकारक होता है।(Khira khane ke Fayde) 
  • ऐसे लोग जो खून पतले करने वाली दवाइयों का सेवन करते है उन्हें खीरे का अत्याधिक सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि खीरे में पाए जाने वाली vitamin K खून को गाड़ा करके खून के थक्के जमा देती है। और यह आपके लिए मुश्किल बना सकता है।

यदि किसी को खीरे से  एलर्जी  है यदि वह इसका सेवन करते हैं तो उन लोगों में निम्न लक्षण देखे जा सकते हैं :

  •  पित्ती
  • सूजन
  • सांस लेने में कठिनाई
  • लाल निशान 

यह भी पढ़े :ठंडे पानी से नहाने के फायदे | BENEFITS OF COLD WATER BATHING | 2021

अस्वीकरण:

हमारी साइट पर शामिल जानकारी केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है और इसका उद्देश्य डॉक्टरों द्वारा चिकित्सा उपचार का विकल्प बिल्कुल नहीं है।  अद्वितीय व्यक्तिगत जरूरतों के कारण, पाठक को पाठक की स्थिति के लिए जानकारी की उपयुक्तता निर्धारित करने के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श जरुर करना चाहिए
 

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.