शराब का नशा छोड़ने के उपाय | sharab ka nasha chodne ke Upay “नशा नाश की नशेनी है” आपने यह स्लोगन कई बार देखा और पढ़ा होगा पर क्या इस तथ्य पर अमल करना आसान है? आज दुनिया में सबसे ज्यादा heavy drinker(बहुत ज्यादा शराब पीने वाला इंसान) भारत में ही है, अब इसके पीछे क्या कारण है ? यह समझना आपके लिए बहुत आवश्यक है।

 जैसा कि हम देखते है विदेश में लोग शराब का सेवन अमूमन करते है परंतु फिर भी वहां वहां के लोग social drinker(कम शराब पीने वाला इंसान) है, ऐसा क्यों है? आखिर भारत शराबियों के मामले में सबसे आगे क्यों है? sharab ka nasha chodne ke Upay

दोस्तों, शराब छोड़ना आसान नहीं है, पर आज जब आप इसके बारे में जागरूक है तो शराब को छोड़ना नामुमकिन भी नहीं है। नशे के दौरान हम अपनी जिंदगी में पीछे ही धंसे चले जाते हैं और आगे निकलने का कोई रास्ता नहीं होता।

जब आपके मन में पहली बार यह सवाल आता है कि अब आपकी जिंदगी में शराब की अहमियत बढ़ती जा रही है तो वही दूसरी ओर आपकी अहमियत लोगों के बीच उतनी ही कम होती जाती है। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

ALSO READ :गांजे का नशा छोड़ने के उपाय। गांजा क्या है? गांजे से संबंधित संपूर्ण जानकारी 2021

हालांकि देश दुनिया में कई ऐसी दवाइयाँ टीवी चैनल, सोशल मीडिया, इत्यादि के द्वारा बतायी जाती है जो आपको यह दावा करते नजर आयेगे की दवाई खाने से इंसान शराब का नशा छोड़ देगा। 

जबकि यह बिल्कुल ही झूट और निराधार दावे होते है असल में दुनिया में ऐसी कोई दवाई नहीं नहीं बनी है जिसके सेवन से शराब का नशा छोड़ा जा सके इसलिए आपको ऐसे पढें लिखे लुटेरों से हमेशा सावधान रहना चाहिए।sharab ka nasha chodne ke Upay

 यह कंपनियां जो दावा करती है कि की उनकी दवाई खाने से शराब का नशा छोड़ा जा सकता है, वह पूरी तरह फ्रॉड दावे करती है और यह कंपनी विदेशों की होती है जिसमें वह भारत के कुछ जाने पहचाने चेहरों को साथ लेकर आपको ठगने का काम करते हैं। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

दुर्भाग्य की बात यह है कि, इसमे सरकार भी पैसा खाती है और वह इनलोगों विरोध नहीं करती। 

अब सवाल आता है कि, यदि यह नशा दवाई से भी नहीं छूटने वाला फिर हम इस नशे से किस तरह निजात पाए? 

तो घबराने की कोई बात नहीं है मित्रों हम आपको शराब का नशा छोड़ने के पूरे उपाय बतायेंगे कि किस तरह आप इस नशे रूपी बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं। सबसे पहले आपको खुद से एक सवाल करना चाहिए – 

क्या आप सच में शराब छोड़ना चाहते हैं? 

पहले भी कई बार आपने यह सवाल खुद से किया होगा परंतु इस बार आपकों अपने अंतर्मन से पूरी तरह मुक्त होकर इस फैसले पर विचार करना है। कई बार शराब के नशे को छोड़ना असंभव भी लग सकता है। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। यदि आप शराब पीना बंद करने के लिए तैयार हैं तो हम आपको आवश्यक सहायता देने के लिए तैयार हैं।( sharab ka nasha chodne ke Upay)

इस तरह से जब आप अपने मन में सकारात्मक होकर संकल्प लेते हैं तो आप शराब और शराब के दुरुपयोग से उबर सकते हैं-चाहे आपका कितने भी बड़े शराबी हो या कितनी भी मात्रा में शराब पीते हो। sharab ka nasha chodne ke Upay

शराब छोड़ने के विचार को कभी भी हल्का नहीं पड़ने देना है। आपके जीवन में कोई भी कठिनाई आए आप चाहे कितना भी शक्तिहीन महसूस  क्यों ना करें पर आपको अपने विचारों पर अडिग रहना होगा।( sharab ka nasha chodne ke Upay) 

किसी भी दुश्मन का या चीज का सामना करने से पहले हमे उसके बारे में हर बात पता होनी चाहिए यहा तक यह भी पता होना चाहिए कि :

शराब क्या है ? (What is Alcohol ?) 

शराब (Alcohol)  (इथेनॉल या एथिल अल्कोहल) बीयर, वाइन और स्पिरिट में पाया जाने वाला वह पदार्थ है जो नशे का कारण बनता है।

शराब या Alcohol तब बनती है, जब यीस्ट (yeast) कई खाने वाली चीजों oxygen के आभाव में शुगर को किण्वित (yeast fragmentation ) करता है (yeast का ऑक्सीजन के बिना टूट जाना )। 

उदाहरण के लिए, वाइन अंगूर से पाए जाने वाली में चीनी से बनाई जाती है। , माल्टेड जौ की शुगर से बियर (एक प्रकार का अनाज) बनती है। सेब की शुगर से चीनी साइडर, आलू, चुकंदर या अन्य पौधों में पाए जाने वाली शुगर से वोदका बनाई जाती है।sharab ka nasha chodne ke Upay

शराब (अल्कोहल) को ‘सेडेटिव हिप्नोटिक’ ड्रग 2 के रूप में वर्गीकृत किया जाता है, जिसका अर्थ है कि यह एक ऐसा नशा है जो उच्च मात्रा में आपके केंद्रीय तंत्रिका तंत्र को नुकसान पहुंचाने का काम करता है। शराब की कम खुराक का सेवन करने पर, शराब एक उत्तेजक के रूप में कार्य कर सकती है, जो आपके अंदर एक नया उत्साह और बातूनीपन की भावनाओं को प्रेरित कर सकती है। 

लेकिन एक हद से अधिक शराब का सेवन आपकी कई व्यापक बीमारियों से ग्रस्त कर सकता है। शराब पीने से उनींदापन, साँस लेने में समस्या, डिप्रेशन, श्वसन अवसाद (जहां साँस धीमी और उथली हो जाती है, या पूरी तरह से रुक भी जाती है), कोमा या यहां तक ​​कि मृत्यु भी हो सकती है। 

ALSO READ :स्मैक का नशा छुड़ाने के उपाय 2021 | smack ka nasha kaise churaye ?

शराब का इतिहास 

शराब के इतिहास के बारे में कई इतिहासकारों की अलग अलग राय सामने आती और पता चलता है कि शराब का विकास लगभग हर एक क्षेत्र विशेष के आधार पर हुआ था। जैसे रोमन लोगों की शराब का अलग इतिहास है, एशिया में अलग इसी प्रकार अलग अलग प्रांतों के आधार पर शराब का इतिहास वर्गीकृत है। sharab ka nasha chodne ke Upay

हालांकि शराब का इतिहास हज़ारों साल पुराना है, Fermented अनाज से, फलों से फूलों और शहद का उपयोग करके शराब (एथिल अल्कोहल या इथेनॉल) बनाई जाती थी। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

मिस्र की शुरुआती सभ्यताओं में शराब का जिक्र मिलता है और उस समय भी शराब मौजूद थी। लगभग 7000 ईशा पूर्व के आसपास चीन में शराब के प्रमाणित सबूत मिलते हैं। sharab ka nasha chodne ke Upay

इसी प्रकार यदि हम भारत में शराब के इतिहास पर नजर डालते है, तो करीब 3000 ईसा पूर्व तक के शराब के उपयोग के पुख्ता सबूत मिलते हैं। भारत में यह शराब चावल से बनाई जाती थी और इसे “आसुत सुरा” नामक मादक पदार्थ के नाम से जाना जाता था। 

2700 ई.पू. बेबीलोनियों ने शराब की देवी की पूजा अर्चना की इस बात के भी पूर्ण सबूत मिलते हैं। ग्रीस में शराब का इतिहास देखा जाए तो यहा शराब पीने की कई चेतावनियां मिलती है, जो यह दर्शाती है कि शराब आपको बर्बाद कर देती है। ग्रीस में Fermented  शहद और पानी से बना मादक पेय, जिसे लोग “मीड” कहते थे। यह ग्रीस की एक प्रख्यात शराब थी। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

अमेरीका की कई प्राचीन मूल सभ्यताओं में मादक पेय विकसित किए गए। सेब, अंगूरों और मकई से कई तरह के fragmented मादक साउथ अमेरिका में  बनाए जाते थे, जिन्हें वहां के लोग “चिचा” के नाम से जानते है। 

16 वीं शताब्दी के आने तक , शराब का उपयोग काफी बड़े पैमाने पर लोगों के इलाज के लिए और औषधीय प्रयोजनों में होने लगा। (उस समय शराब को “स्पिरिट्स” कहा जाता था ) 

18 वीं शताब्दी की शुरुआत में, ब्रिटिश संसद ने आसवन आत्माओं के लिए अनाज के उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए एक कानून पारित किया।  इसके बाद तो मानों, अठारहवीं शताब्दी के मध्य में सस्ते स्पिरिट्स (alcohol) की बाढ़ आ गई और शराब ने अपने पैर पूरी तरह पसार लिए लोगों को इसकी लत हो गयी।

 यहां तक कि ब्रिटेन जैसी जगहों पर तो , जिन (शराब का एक प्रकार) की खपत 18 मिलियन गैलन तक पहुंच गई और शराब की लत व्यापक हो गई।( sharab ka nasha chodne ke Upay)

19 वीं शताब्दी के दौरान शराब के प्रति लोगों का दृष्टीकोण बदलने के लिए कई प्रयास किए गए और संयम आंदोलन ने शराब के मध्यम उपयोग को बढ़ावा देना शुरू कर दिया – जो बाद में पूर्ण शराबबंदी तक लागू हुआ। 

आज, अनुमानित 15 मिलियन अमेरिकी शराब से पीड़ित हैं और अमेरिका में सभी कार दुर्घटना में होने वाली मौतों में से 40% से अधिक मौतों में शराब सम्मलित होती है।sharab ka nasha chodne ke Upay

पुराने इतिहासकारों का मानना है कि राजतंत्र के दौरान शराब का उपयोग किसी औषधि के रूप में किया जाता था खासकर युद्ध के दौरान। युद्ध के समय सैनिक अपने घावों और चोटों की वज़ह से अपनी नींद ले पाते थे और तब पूरी सेना को शराब पीला कर सुला दिया जाता था ताकि वह दूसरे दिन का युद्ध पूरे जोश के साथ लड़ सके। sharab ka nasha chodne ke Upay

यह पहचानने का प्रयास करें कि आप किस दर्जे के शराबी है – (स्टैंडर्ड शराबी vs हेवी शराबी) 

 sharab ka nasha chodne ke Upay

Images credit 

शराब छोड़ने का विचार बहुत सहज पर इसके पहले आपको खुद को जान लेना चाहिए कि आपके शारीरिक लक्षण किस प्रकार के है? आप शराबियों की किस श्रेणी में आते है?

जब यह सवाल आप खुद से कर लेते है तो आप शराब का नशा छोड़ने के लिए शुरुआती तैयारी कर रहे होते हैं। ऐसे में आपको खुद पर थोड़ा ध्यान रख कर खुद को जाँचने की कोशिश करनी चाहिए और देखना चाहिए कि आप आखिर किस तरह के शराबी है :

           Social और Standard Drinker                   Heavy Drinker 
आप कभी कभी किसी खास मौके पर शराब का सेवन कर लेते हैं पर आप 3 पैक या 1 बीयर से ज्यादा कभी नहीं पीते। आप को हर दिन सुबह से ही शराब पीने की इच्छा होती है और आप दारु का सेवन कर लेते हैं। 
आप शराब पीने के लिए सिर्फ खुद की इच्छाओं को प्राथमिकता देते है, किसी दूसरे व्यक्ति के कहने पर शराब का सेवन नहीं करते। आप खुद तो शराब पीते ही है, और जब कोई दूसरा आपको ऑफर करता है तो जल्दी से शराब पीने के लिए तैयार हो जाते हैं। 
आप को नशा थोड़ी सी शराब (2 या 3 पैक) में ही होने लगता है। आपको नशा देर में होता है जिसके लिए कम से कम आधी या एक बोतल आपको ही चाहिए होती है। 
आप खाना खाने के बाद शराब पी सकते हैं। आप खाली पेट शराब पीना पसंद करते हैं। 
आप नशे शराब पीने के बाद अपने आप को हल्का और अच्छा महसूस करते है। आप शराब पीने के बाद किसी राक्षस का रूप धारण कर के इधर उधर बकवास करते है, लोगों को मारते हैं, गालियाँ देते हैं। 

जब आप खुदको समझ लेते है कि आप किस तरह के शराबी है तब आपका शराब छोड़ने का असली सफर शुरू होता है। आप भले ही यह सोच रहे हो कि आप एक सोशल Drinker है तो आप safe है ।ऐसा बिल्कुल नहीं है शराब या दुनिया का कोई नशा इंसान का सगा नहीं है वह आपको नुकसान पहुंचाता है और आपको तबाह करना चाहता है। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

हालांकि आप जिस तरह के शराब पीने वाले है इसके आधार पर ही आपके नुकसान शुरू होने लगते है। 

ALSO READ :ठंडे पानी से नहाने के फायदे | BENEFITS OF COLD WATER BATHING | 2021

शराब से जुड़े कुछ जानने योग्य तथ्य 

  • शुद्ध या प्योर शराब एक रंगहीन, बिना किसी बदबू या खुशबू वाला एक ज्वलनशील तरल(लिक्विड) होता है।
  • शराब बनाने के लिए फल और अनाज सबसे अधिक इस्तेमाल किए जाने वाले खाद्य पदार्थ हैं।
  • भारत और अमेरिका में नाबालिगों द्वारा दुरुपयोग किया जाने वाली शराब नंबर एक ड्रग्स है।
  • हमारा लिवर (जिगर) प्रति घंटे सिर्फ एक पैग शराब का ही ऑक्सीकरण कर सकता है।sharab ka nasha chodne ke Upay
  • शराब को जन्म से पहले से लेकर किशोरावस्था तक  विकासशील दिमागों के लिए हानिकारक माना जाता है। यानी कि किसी भी अवस्था में खासकर नाबालिग लोगों को शराब के सबसे अधिक नुकसान है। 
  •  गर्भावस्था के दौरान किसी भी मात्रा में शराब का सेवन सुरक्षित नहीं माना जा सकता है।
  • Alcohol चाहें आपकी किसी दवाओं के मिलकर आए, चाहें आप किसी शराब के ठेके से खरीदे दोनों ही स्थितियों में शराब के नुकसान आपको उठाने पड़ते हैं। 

शराब पीने के नुकसान 

शराब का नशा छोड़ने के उपाय

शराब एक मादक पदार्थ है जो शराब, बीयर और स्प्रिट में मौजूद होता है।  असल में शराब का मुख्य लक्षण अवसाद (डिप्रेशन) है, जिसका अर्थ यह हुआ  कि जब यह आपके मस्तिष्क तक पहुंचता है, तो यह शरीर के सिस्टम को पूरी तरह धीमा करने का प्रयास करता है।

शराब पीने के बाद आपके शरीर पर कई कुप्रभाव और साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं। बेशक नशे के दौरान आपको यह उतने महसूस नहीं होते पर नशा उतरने के बाद आप ऐसे लक्षणों को पूरी तरह भोगते है। sharab ka nasha chodne ke Upay

शराब का नुकसान हमारे शरीर के हर हिस्से पर होता है परंतु उनमें से सबसे ज्यादा नुकसान पाचन तंत्र, लीवर, हृदय प्रणाली और अन्य कार्यों पर अतिरिक्त दबाव डालने के कारण होता है। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

सीमित मात्रा में और कम शराब पीने पर होने वाले नुकसान और लक्षण – 

जबकि, आप सिर्फ एक या दो पैग पीते है तो शराब आपको हल्का और चिंता मुक्त महसूस करा सकती है। शराब एक ऐसा पदार्थ है जो सीधा आपके गले में आने के बाद से ही अवशोषित होने लगता है और छोटी आंत के पहुंचने तक यह हमारे शरीर द्वारा पूरी तरह सोख ली जाती। इसके बाद यह हमारे रक्तप्रवाह में शामिल होकर मस्तिष्क तक पहुंचने का काम करती है और आपको ढीला और निढाल करने के लिए तैयार हो जाती है। 

जब आप कम मात्रा में शराब पीते है तो उसके प्रभाव निम्न हो सकते हैं :

शराब के अल्पकालिक प्रभाव इस पर निर्भर करते हैं:

  •  आपने शराब का कितना सेवन किया है। 
  • आपने कितनी जल्दी शराब को पिया एक झटके में या धीरे-धीरे करके। 
  • व्यक्ति का वजन, लिंग और शरीर में फैट की मात्रा का प्रतिशत भी नशे की मात्रा को निर्धारित करती है। यदि आप मोटे है तो आपको नशा करने के लिए ज्यादा शराब चाहिए, पतले है तो कम। sharab ka nasha chodne ke Upay
  •  खाली पेट पीते हैं या खाना खाने के बाद। 

खाली पेट शराब के नुकसान vs खाना खाने के बाद शराब पीने के नुकसान 

जो लोग खाना खाने के बाद शराब पीते है उन्हें उन लोगों की तुलना में कम नुकसान उठाना पड़ता है जो लोग बिना भोजन के शराब का सेवन करते हैं। ऐसा इसलिए होता है जब आप भोजन के बाद शराब पीते है तो, शराब आपके शरीर द्वारा जल्दी से अवशोषित नहीं हो पाती ।( sharab ka nasha chodne ke Upay)

 शराब के साथ साथ शरीर में भोजन के द्वारा बनाए गए पोषक तत्व भी होते है। जो आपके शराब द्वारा किए गए नुकसान को कम करते है। भोजन के साथ पीने से अवशोषण की दर धीमी हो जाती है, जिसके परिणामस्वरूप कम दुष्प्रभाव और कम नशा होता है।

वही खाली पेट में आपको सिर्फ नुकसान ही उठाना पड़ता है। 

ALSO READ :सिगरेट छोड़ने के उपाय | TOP 15 TIPS | CIGARETTE CHODNE KE UPAY

शराब पीने के बाद महसूस होने वाले लक्षण 

शुरुआत में , व्यक्ति हल्का आराम महसूस करता है जिसमें आपको हल्के से अबाधित, चक्कर महसूस होने लगते हैं। इसके बाद अधिक शराब के सेवन से आपको इसके कुछ घातक लक्षण देखने को मिलते हैं, चूंकि वे अधिक शराब का सेवन करते हैं,  नशा हो सकता है।

शराब का नशा करने के अन्य लक्षणों में शामिल हैं:

  •  तिरस्कारपूर्ण बाते करना 
  •  अनाड़ीपन और अस्थिर चाल
  •  तंद्रा
  •  उल्टी
  •  सरदर्द
  •  इंद्रियों और धारणा की विकृति
  • पूरी तरह होश खो देना
  • कुछ भी ध्यान ना रहना, याददाश्त में कमी

इंसान कितनी शराब पिता उसके आधार पर और व्यक्ति की शारीरिक स्थिति के आधार पर, शराब पीने से पैदा होने वाले हानिकारक लक्षण :

  •  दस्त
  •  पेट की ख़राबी
  •  साँस की तकलीफे
  •  विकृत दृष्टि और श्रवण
  •  उल्टे काम करना 
  •  घटी हुई धारणा और गिरी हुयी नीचता करना 
  •  बेहोशी की हालत
  •  एनीमिया (लाल रक्त कोशिकाओं का नुकसान)
  • लंबी प्रगाढ़ बेहोशी
  • ब्लैकआउट्स (इसमे आपकी याददाश्त समाप्त हो जाती है, जहां शराब पीने वाला उन घटनाओं को याद नहीं रख सकता है जो प्रभाव के दौरान हुई थीं)  

कितनी शराब में कितनी alcohol की मात्रा होती है? 

यदि आप :

  • बीयर के 354 मिलीलीटर में  लगभग 5 प्रतिशत अल्कोहल होता है, जो कि उसके प्रकार पर निर्भर करता है कि वह स्ट्रॉन्ग है या लाइट । 
  • यदि आप 147 मिलीलीटर वाइन पीते है, तो उसमे  लगभग 12 प्रतिशत अल्कोहल होता है। 
  •  236 मिलीलीटर माल्ट शराब पीते है तो उसमे , लगभग 7 प्रतिशत अल्कोहल होता है। 

दूसरे शब्दों में, इन सभी सर्विंग्स में समान मात्रा में अल्कोहल होता है: 0.6 औंस।

खून के अंदर “रक्त अल्कोहल एकाग्रता” (BAC) आपके खून के  प्रवाह में अल्कोहल की मात्रा है।  इसे रक्त में प्रति 100 मिलीलीटर (ml) ग्राम में इथेनॉल के वजन के रूप में व्यक्त किया जाता है।

लंबे समय तक शराब पीने के नुकसान और लक्षण 

शराब का नशा छोड़ने के उपाय

image credit 

बहुत ज्यादा और लंबे समय से शराब पी रहे लोगों को बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है और यदि आप अभी ज्यादा शराब नहीं पीते तो यही सही मौका है कि आप शराब को पूरी तरह छोड़ कर नशा मुक्त बन जाए। अत्यधिक मात्रा में शराब पीना और लगातार शराब का सेवन कई स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़ा हुआ है, जिनमें शामिल हैं:

  • नशे के दौरान अनजाने में लगी चोटें और जानलेवा हादसे जैसे कार दुर्घटना, गिरना, जलना, डूबना, फांसी लगाकर आत्महत्या करना। 
  • शराब पीकर जानबूझकर  खुदको तकलीफ पहुँचना जैसे हाथ काटना, चोटें, बन्दूक की चोट, अपनी पत्नी का गलत तरह से यौन शोषण करना, गूदा हमला, घरेलू हिंसा इत्यादि ।
  • नौकरी छूट जाना और कोई नई नौकरी ना मिलना और उत्पादकता में कमी। 
  • मानसिक तनाव बढ़ना और पारिवारिक परेशानियां,  रिश्तों का टूटना ट। 
  •  जहरीली शराब पीकर मर जाना। 
  • हाई ब्लड प्रेशर , स्ट्रोक, और दिल से संबंधित अन्य जानलेवा रोगों से ग्रसित हो जाना। 
  •  लिवर की बीमारी। 
  •  नस फट जाना। 
  •  यौन समस्याएं
  •  मस्तिष्क को एकाग्र ना कर पाना और स्थायी क्षति। 
  • Vitamin B1 की कमी, जो भूलने की बीमारी, उदासीनता और भटकाव की विशेषता वाले विकार को जन्म दे सकती है।
  •  अल्सर
  •  गैस्ट्रिटिस (पेट की भीतरी परत की सूजन)
  •  बॉडी में पोषण की कमी होना। 
  •  मुंह और गले का कैंसर। 
  • आँखों की रोशनी कम होना। 
  • कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली। 

दोस्तों शराब से होने वाले नुकसानदायक शारीरिक परिणामों की कोई कमी नहीं है क्योंकि हमारा शरीर एक और शरीर का हर हिस्सा एक दूसरे से जुड़ा है एक कि कमी दूसरे को बर्बाद कर देती है। 

ALSO READ :जमीन पर सोने के फायदे और नुकसान | JAMEEN PAR SONE KE FAYDE | 2021

शराब का नशा छोड़ने पर होने वाले लक्षण (withdrawal of alcohol) 

जब आप लंबे समय से कोई काम कर रहे होते है तो हमारा शरीर उन चीजों की या उसका की अपनी आदत का निर्माण कर लेता है और फिर आपको वह चीज नहीं मिलती तो हमे कुछ समस्याएं होती है। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

आमतौर पर यह समस्याएं मानसिक ही होती है पर यदि बात किसी नशे को छोड़ने की हो खासकर शराब का नशा छोड़ने की तो आपको निश्चित ही कुछ समय के लिए थोड़ी बहुत शारीरिक और मानसिक पीढ़ा और परेशानी उठानी पड़ सकती है। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

चिंता की कोई बात नहीं है आपको इस लड़ाई में जितने के लिए और शराब से जुझने के लिए हम आपकी पूरी मदद करेगे । हम आपको बताएँगे की किस तरह आप शराब को बिना कोई परेशानी या तकलीफ उठाए छोड सकते हो। सबसे पहले हम जानते है कि, शराब छोड़ने के दौरान हमे किस तरह की परेशानी हो सकती है – 

शराब छोड़ने के 1 या 2 दिन बाद आपको अपने भीतर निम्न लक्षण देखने को मिलते हैं :

  • शराब की तलब 
  • नींद ना आना 
  • मन ना लगना, अजीब सी बैचैनी। 
  • गुस्सा और चिड़चिड़ापन 
  • मन में एकाग्रता ना होना 
  • नाक बहना 
  • जुकाम और गले में दर्द 
  • दस्त 
  • भूक ना लगना 
  • उल्टी 
  • बहुत ज्यादा ठंड या गर्मी लगना 
  • हल्का बुखार भी हो सकता है। 
  • घबराहट होना 
  • हाथ कांपना 
  • पानी की कमी 
  • प्यास ना लगना 
  • मन में नकारात्मक विचार आना 
  • खुद को चोट पहुंचाने का मन करना 
  • पूरे शरीर में असहनीय दर्द होना 
  • आँखों में भारीपन और सूजन 
  • मतिभ्रम 

यह लक्षण उस आधार पर कम ज्यादा हो सकते है जितना कि आपने शराब का सेवन किया हो पर जैसा कि आपसे पहले कहा कि घबराने की कोई बात है ही नहीं बल्कि समस्या तो और घबराना तो उन लोगों को चाहिए जिन्होंने शराब को छोड़ने के बारे में सोचा ही नहीं है। 

ऊपर बताये गये लक्षण आपको 8 से 10 तक रह सकते है जिसमें सबसे ज्यादा चरम पर शुरुआत के 4 से 6 दिन मे देखने को मिलते हैं। 

दुनिया की कोई भी दवाई ऐसी नहीं है जो बिना इस तरह के लक्षणों को महसूस कराए बिना शराब को छुड़ा दे हालांकि हम दवाइयों का सेवन करके दिए गए इन लक्षणों को कम किया जा सकता है।sharab ka nasha chodne ke Upay

इसीलिए डॉक्टरों द्वारा बताई गई कुछ निश्चित दवाइयों को इन्हीं लक्षणों के आधार पर हम आपको बतायेंगे जिन्हें खाकर आप शराब छोड़ने में सक्षम हो पाएंगे। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

यह दवाइयाँ आपको शराब छोड़ने के दौरान होने वाले भयानक लाक्षणिक प्रभाव और withdrawal को रोकने और कम करने में सहायक होती है। 

कौन से लक्षण पर कौन सी दवाई लेनी है और  कितनी लेनी है यह हम आपको एक एक लक्षण के आधार पर नीचे विस्तार से बतायेंगे। 

शराब का नशा छोड़ने की दवाइयाँ sharab ka nasha chodne ke Upay

शराब को छोड़ने के लिए आज तक कोई निश्चित दवाई नहीं बनी है पर शराब को छोड़ने के दौरान होने वाली शारीरिक और मानसिक तकलीफों के लिए आपको दवाइयाँ यहां से उपलब्ध हो जाएगी। 

नींद ना आने पर – 

शराब छोड़ने के दौरान आपको बहुत अधिक बैचैनी के कारण नींद नहीं आती है। ऐसी स्थिति में जब आप शराब छोड़ रहे हो तो नींद का महत्त्व बहुत अधिक होता है क्योंकि आपके शरीर को अतिरिक्त ऊर्जा की आवश्यकता होती है और बिना नींद के ऊर्जा कम हो जाती है। ऐसी स्थिति में आप जितना ज्यादा सो सके सोना चाहिए यदि आपको नींद नहीं आती है तो आप नीचे लिखी हुयी दवाई पर क्लिक करके ऑनलाइन यहीं से मंगवा सकते हैं। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

खरीदने के लिए यहां क्लिक करें.. 

पानी की कमी dehydration दस्त, उल्टी के लिए –

शराब छोड़ने के दौरान dehydration (निर्जलीकरण) होना स्वाभाविक है। जब आप शराब का नशा छोड़ने का प्रयास करते है तो आपको दस्त, उल्टी और प्यास ना लगने के कारण शरीर का अधिकांश पानी और पोषकता बाहर निकल जाती है। 

जबकि नशा छोड़ने के दौरान हमे अधिक पानी और पोषण की आवश्यकता होती है। ऐसे में आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप पर्याप्त पानी के अलावा आप इस तरह के पोषण ले जिनसे आप निर्जलीकरण से पूरी तरह बच सके। इसीलिए डॉक्टरों का भरोसा नीचे दिए गए इस उत्पाद में है :

खरीदने के लिए यहां क्लिक करें… 

बेचैनी, घबराहट,अशांति, गुस्सा और चिड़चिड़ापन कम करने के लिए – 

बॉडी में खनिजों की कमी और अपर्याप्त नींद और शराब के toxic पदार्थों के कारण आपको बहुत ज्यादा गुस्सा और चिड़चिड़ापन होगा इसलिये यह बहुत जरूरी है कि आप नीचे दी गई दवाई का सेवन करते रहे। 

खरीदने के लिए यहां क्लिक करें…. 

नाक आना और जुकाम 

जब आप की नाक बहुत पतली और जुकाम जैसी स्थिति बन जाए तो आपको नीचे दी गई दवाई में से एक टेबलेट खा लेनी है। 

खरीदने के लिए यहां क्लिक करें… 

कमजोरी दूर करने के लिए 

शराब के नशे से अपनी जंग मजबूती से लड़ना चाहिए इसलिए यह ध्यान रखें कि आपका कमजोर शरीर इस लड़ाई को लडने के लिए तैयार है। नशे के दौरान हमारा शरीर पूरी तरह कमजोर हो जाता है। उस दौरान हमारे शरीर की सारी जरुरी पोषकता खत्म हो जाती है जिस वज़ह से हमे शराब छोड़ने के दौरान और भी बदतर स्थितियों का सामना करना पड़ता है। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

ऐसे में आपको अपनी पोषकता को बरकरार रखने के लिए यह दवाई लेनी चाहिए ताकि withdrawal के दौरान आपको कोई ज्यादा समस्या ना आए।

ख़रीदने के लिए यहां क्लिक करें… 

शरीर में दर्द, सूजन और ऐंठन के लिए 

ख़रीदने के लिए यहां क्लिक करें… 

यह तो कुछ ऐसी नॉर्मल और बिना साइड इफेक्ट वाली दवाइयाँ थी जो आपको शराब का नशा छोड़ने के दौरान रामबाण की तरह काम करेगी। लेकिन अब बात आती है आपके मन की आपकी मानसिकता की आप अपने मन को दारू छोड़ने के लिए कैसे रोकेंगे? 

मानसिक रूप से शराब को कैसे छोड़े? 

मानसिक रूप से शराब छोड़ने के लिए पहले आपको यह गौर करना चाहिए, आत्मचिंतन करना चाहिए कि आखिर आप शराब क्यों पीते हैं? शराब पीने के निम्न कारण हो सकते हैं :

  • दोस्तों के साथ मजा लेने के लिए पी थी पर अब आदत में आ गयी। 
  • अपने आप से जिज्ञासा में पी थी फिर आदत बन गयी। 
  • समस्याओं को कम करने का विकल्प के तौर पर पीते हैं। 
  • अपने अतीत को भुलाने के लिए पीते है। 
  • स्टाइल मारने के लिए पीते हैं। 
  • संगत में पी लेते है आपका निजी कोई उद्देश्य नहीं है। 
  • सुकून की तलाश में पीते है। 
  • अतीत में हुयी आपकी कोई ऐसी गलती जिसे आप आज तक याद करके पीते हैं। 

या और भी आपके कोई निजी कारण हो सकते हैं कुल मिलाकर आपको यह निश्चित कर लेना है कि आप शराब किस कारण या किस वजह से पीते है। 

जैसे ही आपका एक कारण निर्धारित होता है और फिर आपको उसी का बदलाव करना है। और उसी के अनुरूप अपनी इस जंग को चलाना है। 

अपने कमजोर पॉइंट्स को पकड़े – 

  • कई बार आपकी कमजोरी कई छोटी छोटी बातों से समाने आती है जैसे कि आपकी किसी पूर्व प्रेमिका या प्रेमी का चेहरा देख कर आप खुद को शराब पीने से नहीं रोक पाते। 
  • या फिर कोई ऐसी जगह है जहां जाकर आपकी शराब पीने की इच्छा तीव्र हो जाती है। 
  • कोई ऐसा मित्र जो आपके साथ होता है तो आप शराब पीते है। 
  • सिरदर्द या किसी दर्द के होने पर आप शराब का सेवन करते है। 
  • मन की स्थिरता खोने पर शराब पी लेते है। sharab ka nasha chodne ke Upay

इसी तरह आपका ट्रिगर पॉइंट कुछ भी हो सकता है इसलिए आपको आत्मचिंतन करके अपने इन points पर काम करना चाहिए। आपको पता है कि कोई चीज आपको शराब पीने के लिए उकसाती है तो आपको उस स्थिति में पहुंचने से बचना चाहिए। 

अकेले रहने से बचे 

शराब का नशा छोड़ने के उपाय
IMAGE CREDIT 

अकेलापन आपका सबसे बड़ा दुश्मन हो सकता है यदि आप एक शराबी है तो। आपको कोशिस करनी चाहिए कि आप अपने परिवार या ऐसे लोगों के साथ रहे जिनके सामने आप अपनी शराब पीने की इच्छा जाहिर नहीं कर सकते। शराब छोड़ने के दौरान आपको बिल्कुल भी अकेला नहीं रहना चाहिए। ( sharab ka nasha chodne ke Upay)

ALSO READ :अच्छी नींद के लिए प्रमाणित उपाय | नींद से सम्बंधित हर जबाब और जानकारी | ACCHI NEEND KAISE SOYE |2021

मजबूत इच्छाशक्ति, मजबूत फैसले 

आपकी ईच्छा और उनपर आपका नियन्त्रण ही आपको दुनिया का सबसे मजबूत इंसान बनाता है। कोई भी इंसान सिर्फ gym जाकर बॉडी बनाकर ही मजबूत नहीं होता जब तक कि उसके पास एक मजबूत इच्छाशक्ति नहीं है। sharab ka nasha chodne ke Upay

शराब छोड़ना बहुत आसान है और हर रोज कितने ही लोग इसे छोड़कर अपना जीवन सुधार कर अपने परिवार ले साथ एक अच्छी जिंदगी जी रहे हैं। 

आपको अपनी इच्छाओं को रोकने के लिए मजबूत इच्छाशक्ति का निर्माण करने की जरूरत है। यदि आप मानसिक रूप से मजबूत है तो आप शराब को एक झटके में छोड़ सकते हैं। 

शराब की जगह कोई और पेय पीना शरू करे 

जब आप शराब छोड़ने की कोशिश करते है तो आपको कुछ पीने की आदत हो जाती है, ऐसे में आप कोई और ड्रिंक जैसे कोई juice, इत्यादि कुछ भी जो आपको पसंद आए उसको पीना शुरू कर सकते हैं। sharab ka nasha chodne ke Upay

अपने आप को मजबूत करे 

जैसे जैसे आप शराब का नशा छोड़कर withdrawal से बाहर निकलते है वैसे ही आपको आपके शरीर से कुछ व्यायाम करना शुरू कर देना चाहिए। बेशक आप अपनी शुरुआत शाम को टहलने से कर सकते है फिर धीरे धीरे योग इत्यादि करके आप खुद सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव छोड़ सकते हैं। 

खुद की देखभाल करना सीखें 

नशे के दौरान आपकी क्या हालत थी या है यह आपसे बेहतर कोई और नहीं जानता है ऐसे में आपको जरूरत है खुद को एक नए और बेहतर ढंग से तैयार करने की। 

आप खुद की पसंद को पहचाने अपने हुलिया को सुधारने की कोशिश करे। यह देखे कि कौन सी ड्रेस आपके ऊपर ज्यादा अच्छी लगती है या कौन से जुते। 

अपने आप का एक नया बेहतर संस्करण तैयार करे तब लोगों के सामने आए। आपके यह सकारात्मक बदलाव आपको काफी ऊर्जा देते है जो आपको शराब छोड़ने के दौरान काम आयेगे। sharab ka nasha chodne ke Upay

ALSO READ :

पेशाब में जलन और दर्द के कारण और उपचार | Dysuria Treatment

एक बार फिर से अपनी पुरानी इच्छाओं को खोजे 

नशे के दौरान आपको सारी इच्छायें जैसे सिर्फ एक ही चीज में सिमट गयी थी पर जरूरत है आपको अपनी असली हॉबी को समझने की। याद करे कि आपके लिए सबसे मजेदार काम क्या था? कहीं घूमना, टीवी देखते हुए ठण्डी आइस क्रीम खाना, बुक्स पढ़ना, या वीडियो गेम खेलना, और कुकिंग करना अपनी किसी ऐसी खास इच्छा को खोजे जो आपको आनंद का अनुभव कराती हो। sharab ka nasha chodne ke Upay

अपने करीबियों से मिले 

जाने कितने ही समय से आपने उन लोगों को नहीं देखा जो आपके वास्तविक शुभचिंतक है। शराब पीने के दौरान आपने सिर्फ अपने शराब को या शराबियों को प्राथमिकता दी।

 पर अब जब आप थोड़ा बेहतर महसूस कर रहे हैं और शराब को छोड़ने के तरफ अपने कदम बड़ा रहे है तो यह जरूरी है कि आप अपने ऐसे रिश्तों से जुड़े जो वास्तव में आपके लिए अच्छी भावना रखते हैं। 

क्षमायाचना और अपनी भूल चूक के लिए माफ़ी मांगे 

जब आप शराब के नशे में धुत होते थे तब आपने लाखो गलतियां और गुनाह किए है पर यह समय है अपनी भूल को सुधारने का। आपको अपने मन में याद करके उन लोगों से माफ़ी मांगनी है, जिनका आपने दिल दुखाया था। वह व्यक्ति कोई भी हो सकता है, कोई दुकानदार, पापा, माँ, भाई कोई भी आपको बस अपनी भूल सुधार करनी है। sharab ka nasha chodne ke Upay

यकीन मानिये दुनिया भर के नशा मुक्ति केंद्रों में शराब को छुड़ाने के लिए इस तरीके को इलाज का हिस्सा माना जाता है। 

Doctar को कब दिखाये? 

यदि आप नीचे दिए गए लक्षणों को बहुत ज्यादा व्यापक ढंग से महसूस करे तो आपको अपने नजदीकी चिकित्सक के पास जाना चाहिए। 

यदि आप निम्नलिखित में से किसी भी वापसी के लक्षणों का अनुभव करते हैं तो आपातकालीन चिकित्सा सहायता लें:

  • बहुत ज्यादा गंभीर उल्टी
  •  अत्याधिक भ्रम और भटकाव 
  •  पागलपन 
  •  दौरे या आक्षेप

ऊपर लिखे  लक्षण शराब  छोड़ने के दौरान  एक गंभीर रूप का संकेत हो सकते हैं जिसे डेलिरियम ट्रेमेंस या DT कहा जाता है।  यह दुर्लभ, आपातकालीन स्थिति आपके मस्तिष्क के आपके परिसंचरण और श्वास को नियंत्रित करने के तरीके में खतरनाक परिवर्तन का कारण बनती है, इसलिए तुरंत अस्पताल पहुंचना महत्वपूर्ण है।( sharab ka nasha chodne ke Upay)

ALSO READ :

लिंग बड़ा करने के 10 उपाय | Ling Bada Karne ke Upay

शराब एक अभिशाप 

शराब का नशा छोड़ने के उपाय

IMAGE CREDIT 

“ शराब के मेरी लत लगातार बनी हुई थी और इससे पहले कि मैं इसे महसूस करता, मैं सुबह शाम और साथ ही  दोपहर पीने वाला बन गया था”

 “लेकिन मैंने अब शराब पीना बंद करने का फैसला किया।  मैं उस रात में ज़्यादातर जागता ही रहा, और अगले दिन दोपहर तक मेरे शरीर की हर हड्डी में दर्द हुआ।  एक अंधी घबराहट में, मैंने घबराकर अपनी जिन की बोतल से एक गिलास भरा , मेरे हाथ इतने हिंसक रूप से कांप रहे थे कि मैंने अपनी आधी बोतल गिरा दी। 

जैसे ही मैंने इसे शराब को निगला , मैं महसूस कर सकता था कि मेरा दर्द और पीड़ा कैसे धीरे-धीरे कम हो रही है। पर ये मैंने क्या कर दिया!! तब मुझे अंत में भयानक सच्चाई का पता चला: की मुझे एक तुच्छ लत ने शराब ने झुका  दिया था। में एक ऐसा व्यक्ति जो किसी से ना झुका उसे शराब ने क्या बना दिया। क्या में सच में शराब नहीं छोड़ सकता? “sharab ka nasha chodne ke Upay

ALSO READ :

विज्ञान के अनुसार : हस्तमैथुन स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह या फायदेमंद | Hastmaithun ke Fayde Aur Nuksaan

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.