महिलाओं के लिए उनकी योनि की खराब दुर्गंध सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है। योनि की दुर्गंध उन्हें अपने पार्टनर के सामने शर्म सार महसूस कराती है और कभी कभी तो यह इतनी बदतर हो जाती है कि कोई आपके आसपास आने से भी कतराने लगता है। 

योनि में बुरी दुर्गंध आने के कई कारण हो सकते हैं जिसमें कई तरह के इन्फेक्शन जैसे कि यीस्ट (Fungal) Infection, योनि की उचित स्वच्छता ना रख पाना, bacterial Infection और कई बार हमारे शरीर में होने वाले हार्मोनल परिवर्तन के कारण भी योनि में खराब दुर्गंध पैदा हो सकती है। 

क्या योनि की गंध प्राकृतिक है? 

समय पर पर हमारी योनि में से गंध आती है जो पूरी तरह असमान्य होती है। हैरानी वाली बात है कि जब आप ठीक तरह से अपने से शरीर और योनि की देखभाल करते है और ठीक तरह से साफ सफाई रखने के बाद भी योनि की गंध आती है यह सब करने के बाद भी आपको अपरिचित गंध का अनुभव होता है । असल में यह सिर्फ सामन्य गंध नहीं बल्कि दुर्गंध है और योनि की यह दुर्गंध तेज होती जाती है । 

सबसे पहले तो आपको खुद से एक प्रश्न करना चाहिए कि क्या आप अपनी योनि की गंध को सामन्य मानती है? क्या वास्तविकता में आपको आपकी योनि की गंध, दुर्गंध में परिवर्तित होती समझ आती है? यह सवाल इसलिए क्योंकि योनि की प्राकृतिक गंध होती है, जो समान्य है और हर महिला की योनि की दुर्गंध अलग अलग होती है। 

एक समान्य और स्वस्थ योनि की गंध को “Fleshy” मास जैसी गंध से वर्णित किया जा सकता है।  मासिक धर्म चक्र के दौरान कुछ दिनों के लिए आपकी योनि की गंध थोड़ी “धातु” रूपी गंध जैसी हो सकती है ।  प्रतिदिन या अधिक संभोग करने से आपकी योनि की गंध अस्थायी रूप से बदल सकती है।

यदि हम अपनी योनि की साफ सफाई नहीं भी रखे तब भी हमारी योनि प्राकृतिक रूप से खुद को साफ़ और सुरक्षित रख सकती है। आपकी योनि के पास खुद ही कुछ ऐसे उपकरण है जिनसे वह बिना किसी हरकत किए बिना खुद को साफ़ रख सकती है। 

यदि हम अपनी योनि को बिना साफ किए भी सालों तक के लिए छोड़ दे तब भी यह एक स्वस्थ्य pH और bacteria को दूर रख सकती है। क्योंकि यह इसका स्वभाव है, लेकिन कई बार हम अस्वस्थ होते है और उस परिस्थिति में हमारी योनि ग्रसित हो सकती है। 

यदि आप अपनी योनि की गंध में एक बड़ा अन्तर देखते है, तो आपको इसपर गौर करने की आवश्यकता है। हम सभी अपनी अपनी योनि की प्राकृतिक गंध से भली भांति परिचित है ऐसे में किसी असमान्य दुर्गंध का पता लगाना कोई मुश्किल कार्य नहीं है। 

यदि आप योनि में दुर्गन्ध के साथ, खुजली, जलन, असमान्य चिपचिपा पदार्थ और पेशाब करने में दिक्कत महसूस कर रहे है तो यह योनि की गंध के आलावा कुछ और भी हो सकता है। 

योनि की खराब दुर्गंध से छुटकारा पाने के लिए आयुर्वेदिक घरेलू उपाय – 

आयुर्वेदिक उपचार की खास बात यह है कि यह आपको आसानी से उपलब्ध हो सकता है और इसका कोई खास दुष्प्रभाव नहीं होता। हमारे प्राकृतिक शरीर के लिए, आयुर्वेद चिकित्सा सबसे उत्तम उपाय है। योनि की खराब गंध से निजात पाने के आयुर्वेद आपको कुछ खास उपचार बताता है – 

नीम या फिटकरी के पानी से धुले – 

नीम गुणकारी होता है और इसमे Antifungal, Anti-bacterial, Antiseptic और Antiviral गुण होते हैं । इसके अलावा फिटकरी भी Antifungal गुणों से युक्त होती है। इसलिये नीम और फिटकरी आपकी योनि से किसी भी प्रकार के इन्फेक्शन को खत्म करने की क्षमता रखते हैं। आयुर्वेद चिकित्सा में नीम और फिटकरी का उपयोग गुप्तांगों की सफाई के लिए सदियों से किया जाता रहा हैं। 

कैसे करें? 

नीम की पत्तियों को पानी में अच्छी तरह उबालें और बाद में पानी ठंडा हो जाने पर इसी पानी से योनि को धुले। इसी प्रकार 1 ग्लास पानी में 1″या 2 ग्राम फिटकरी मिलाकर योनि की सफाई करे। निश्चित रूप से योनि की खराब दुर्गन्ध समाप्त हो जाएगी। 

यह ना सिर्फ आपकी योनि को किसी भी Infection से सुरक्षित करता है और आपकी योनि से आने वाली खराब दुर्गंध को भी खत्म कर देता है। यदि आप अपनी योनि से आने वाली असमान्य गंध से परेशान है तो आपको यह आयुर्वेदिक उपचार जरुर अपनाना चाहिए। 

पीरियड्स के दर्द से आराम पाने के लिए 12 उपाय – Periods ke Dard ke Gharelu Upay – Remedies For Periods Pain (Menstrual Pain)

लहसुन – 

लहसुन एंटीफंगल गुणों के साथ ही साथ एक बहुत अच्छी जीवाणुरोधी जड़ी बूटी है। अगर आप रोजाना दो से तीन लहसुन की कलियों को खाली पेट गर्म पानी के साथ खाते हैं या इसे अपने खाना पकाने में इस्तेमाल करते हैं, तो कुछ ही दिनों में आपको योनि की दुर्गंध से छुटकारा मिल जाएगा। लहसुन की कलियों को भुन कर भी खाया जा सकता है। 

सेब का सिरका – 

सेब का सिरका एक बेहद उपयोगी जड़ी बुटी के रूप में उपयोग में लिया जाता है। यह कई सारे रोगों को दूर करने के लिए बेहद प्रभावी और सुरक्षित है। सेब साइडर सिरका में Anti Fungal, Antiseptic, Anti Inflammatory, Antibacterial और कई सारे औषधीय गुण होते है।  इसीलिए सेब का सिरका आयुर्वेदिक चिकित्सा में कई बीमारियों को ठीक करने के लिए उपयोग होता रहा है। 

कैसे करें? 

एक टब में गुनगुना पानी भरें और उसमें आधा कप सेब का सिरका मिलाएं।  अब इस घोल में 15 से 20 मिनट तक बैठें।  इस उपाय को हफ्ते में दो बार आजमाएं।  आप एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच सेब का सिरका भी मिलाकर दोपहर के भोजन के बाद पी सकते हैं।  त्वरित राहत के लिए आप इनमें से कोई भी विकल्प आजमा सकते हैं।

उच्च गुणवत्ता वाला सेब का सिरका खरीदने के यहां क्लिक करें… 

चेहरे के लिए घर पर बनाए 10 घरेलू Face Scrub | TOP 10 Best Homemade Face Scrubs In Hindi

अमरूद के पत्ते – 

अमरूद के पत्ते Antifungal गुणों से भरपूर है यह आपको कई तरह के फायदे दे सकते हैं। आयुर्वेद में छाले के लिए अमरूद के पत्तों का उपयोग किया गया है वही अमरूद के पत्तों का रस घाव को ठीक करने के लिए किया जाता था । अमरूद के पत्तों को पानी में उबाल कर रोजाना योनि की सफाई करे और अच्छे से धुले यह आपकी योनि से आने वाली मछली जैसी दुर्गंध को दूर कर सकता है। 

योनि की दुर्गंध से बचने के लिए ये तो थे कुछ आयुर्वेदिक उपाय लेकिन यदि आप इन उपायों को अपनाने में असमर्थ है, तो आप नीचे बताये गये कुछ अन्य दवाइयों और उपचारों को अपना सकते हैं। 

योनि की सफाई करते समय ध्यान देने योग्य बाते – 

  • योनि की सफाई के लिए योनि वाले क्षेत्र पर पानी आने दे। 
  • योनि को साफ करने एक सौम्य सूती कपड़ा उद्योग मृत त्वचा, पसीने और गंदगी को धोने में मदद करेगा।  
  • योनि के बाहर वाले क्षेत्र में साबुन का उपयोग किया जा सकता है। 
  • योनि के अंदर का भाग बेहद सम्वेदनशील होता है, इसलिए वहां साबुन से जलन हो सकती है। 
  • योनि के अंदर का हिस्सा साफ करने के लिए सिर्फ पानी का उपयोग करे। आप चाहे तो हल्का गर्म पानी उपयोग में ले सकते हैं। क्योंकि योनि को खुद साफ़ करने की आवश्यकता नहीं होती। 
  • सुगंधित साबुन या बॉडी वॉश का प्रयोग न करें।  गंध और रसायन आपकी योनि के प्राकृतिक पीएच को खराब कर सकते हैं। 

केवल योनि के बाहरी क्षेत्र में खुशबूदार उत्पादों का उपयोग करें – 

यदि आप योनि की दुर्गंध से बचने के लिए खुशबु दार उत्पादों का उपयोग करते है तो ध्यान रखे कि यह आपकी योनि के बाहरी भाग तक ही सीमित रहे। यदि गलती से भी कुछ योनि के सम्वेदनशील हिस्से में गया तो स्थिति कष्टदायक हो सकती है। 

कॉटन अंदरवस्त्र पहने – 

कई बार आप ऐसे कपड़ों से बनी panty पहनती है जो आपकी योनि की त्वचा को नुकसान पहुंचाती है। यदि आप सामान्य रूप से साटन, रेशम या पॉलिएस्टर पैंटी पहनते हैं, तो आपको 100 प्रतिशत कॉटन की panty पर स्विच करना चाहिए ।

कॉटन आपकी योनि के आसपास से निकलने वाली अतरिक्त नमी को सूखा कर, आपकी योनि को ताजा रखने का काम करता है। यदि योनि के पास अधिक नमी रहती है इससे Fungal Infection हो सकता है। जिससे आपकी योनि से दुर्गंध आने लगती है। इसीलिए हमेशा शुद्ध कॉटन की panty का उपयोग करे ।

उच्च गुणवत्ता वाली 100% कॉटन की Panty यहां से खरीदे… 

मेडिकल से pH सामन्य करने के लिए दवाई ले – 

यदि आपको लगता है कि आपकी योनि की गंध दिन-प्रतिदिन बदतर होती जा रही है।  ऐसे में आप डॉक्टर से मिल सकते है या फिर मेडिकल पर जाकर ऐसे उत्पाद को खरीद सकते है जो आपके योनि के pH को बराबर कर सके। आप चाहे तो हमारे द्वारा सुझाए गए कुछ उत्पादों को ऑनलाइन मँगवा सकते है ।

खरीदने के लिए यहां क्लिक करें… 

जरुरी तेल – 

आज के समय में हर विकार के लिए हज़ारों उपचार है और इसी कड़ी में आपकी योनि की गंध को दूर करने के लिए ऑनलाइन कुछ जरुरी तेल उपलब्ध है, जो आपकी योनि की खराब गंध को खत्म कर सकते हैं।  कुछ आवश्यक तेलों में रोगाणुरोधी और एंटिफंगल गुण होते हैं जो बैक्टीरिया को कम करने और खत्म करने में मदद कर सकते हैं।

आवश्यक तेल का उपयोग करते समय इसे किसी वाहक (नॉर्मल) तेल के साथ पतला करके उपयोग करे ।इन तेलों का उपयोग करते समय आप यह ध्यान रखे कि आपकी योनि इनसे परेशान ना हो इसलिए पहले बिल्कुल थोड़ा सा लगा कर देखे और योनि के बाहरी हिस्से में लगाएं। 

डाक्टर को कब दिखाये? 

योनि की खराब गंध, आमतौर पर हमारे बताये हुए घरेलू उपचारों से ठीक हो जाती है लेकिन यदि आप फिर भी इससे निजात नहीं पाते, तो आपको अपने नजदीकी यौन रोग विशेषज्ञ से सम्पर्क करना चाहिए। बहुत अधिक दुर्गंध आने पर यह किसी गंभीर यौन रोग का संकेत हो सकता है। इसीलिए समय रहते उचित सलाह लेकर, इलाज कराए। 

यह भी पढ़े :

आपके स्तनों को स्वस्थ्य रखने के लिए 2 योगासन

स्वस्थ स्तनों के लिए 3 जड़ी बूटियां – Healthy Breast Remedies In Hindi

बालों को तेजी से उगाने के लिए 10 प्राकृतिक उपाय – Balo Ko Teji Se Ugane Ke Liye Prakritik Upay

अनियमित पीरियड्स क्या हैं? – What Is Irregular Periods? In Hindi (अनियमित मासिक धर्म)

क्या आपका पीरियड नॉर्मल है? – Normal Menstrual Cycle IN HINDI

अकेले खुश कैसे रहें? : अकेले खुश रहने के 13 तरीके

By Nihal chauhan

मैं Nihal Chauhan एक ऐसी सोच का संरक्षण कर रहा हू, जिसमें मेरे देश का विकास है। में इस हिंदुस्तान की संतान हू और मेरा कर्तव्य है कि में मेरे देश में रहने वाले सभी हिंदुस्तानियों को जागरूक करू और हिंदी भाषा को मजबूत करू। आपके सहयोग की मुझे और हिंदुस्तान को जरुरत है कृपया हमसे जुड़ कर हमे शेयर करके और प्रचार करके देश का और हिंदी भाषा का सहयोग करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.